S M L

CWG 2018: अंकुर के सामने लय को बरकरार रखने की चुनौती

2014 ग्लास्गो कॉमनवेल्थ गेम्स में अंकुर सेमीफाइनल तक ही पहुंच पाए थे

FP Staff Updated On: Apr 01, 2018 07:50 PM IST

0
CWG 2018: अंकुर के सामने लय को बरकरार रखने की चुनौती

नाम: अंकुर मित्तल

उम्र: 26

स्पर्धा: निशानेबाजी

कैटेगरी: डबल ट्रैप

पिछला कॉमनवेल्थ प्रदर्शन: 2014 ग्लास्गो के सेमीफाइनलिस्ट

पिछले कॉमनवेल्थ में भले ही अंकुर मित्तल मेडल पर निशाना लगाने से चूक गए हो, लेकिन समय वह अपने फॉर्म में हैं और इस फॉर्म के दम पर उन्हें इस कॉमनवेल्थ में पदक का मजबूत दावेदार माना जा रहा है. ग्लास्गो में 2014 में हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में अंकुर सेमीफाइनल तक ही पहुंच पाए थे, जिसमें 25 अंक हासिल कर पांचवें स्थान पर रहे थे. वहीं इनके साथ स्पर्धा में उतरे मोहम्मद असब ने ब्रॉन्ज मेडल जीता था. पिछली बार हुई गलतियों के सुधार करते हुए 26 वर्षीय अंकुर इस समय अपनी लय में है और 2017 उनके लिए काफी बेहतरीन रहा. 2017 में ब्रिस्बेन में हुए कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में अंकुर ने गोल्ड मेडल जीता, वहीं वर्ल्ड चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल पर निशाना लगाया. अंकुर इंटरनेशनल स्पोर्ट्स शूटिंग फैडरेशन की डबल ट्रेप रैंकिंग में भी शीर्ष पर काबिज हुए.

इस साल कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स होने के बाद अंकुर 2020 टोक्यो ओलिंपिक की तैयारी में जुट जाएंगे और वह सिंगल ट्रैप शूटिंग की तैयारी शुरू करेंगे. पूर्व डबल ट्रैप शूटर अशोक मित्तल के बेटे अंकुर अच्छी शूटिंग के लिए हरियाणा से नई दिल्ली आ गए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Test Ride: Royal Enfield की दमदार Thunderbird 500X

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi