S M L

CWG History : 2006 मेलबर्न में समरेश जंग ने मचाया था तहलका

22 स्वर्ण के साथ कुल 49 पदक जीतकर भारत एक बार फिर तालिका में शीर्ष चार में जगह बनाने में सफल रहा

FP Staff Updated On: Apr 04, 2018 12:01 AM IST

0
CWG History : 2006 मेलबर्न में समरेश जंग ने मचाया था तहलका

कॉमनवेल्थ गेम्स का 18वां संस्करण 2006 में ऑस्ट्रेलिया के शहर मेलबर्न में आयोजित हुआ. इसमें लगभग 5766 एथलीट्स और अधिकारियों ने भाग लिया. कुल 71 देशों ने भाग लिया जिसमें से 32देशों को कोई पदक नहीं मिल सका. भारत ने 22 स्वर्ण के साथ कुल 49 पदक जीते. भारत को सबसे ज्यादा पदक एक बार फिर निशानेबाजी में मिले. भारोत्तोलन में सिर्फ तीन ही स्वर्ण मिल सके.भारत एक बार फिर तालिका में शीर्ष चार में जगह बनाने में सफल रहा.

निशानेबाजों का जलवा कायम

भारत ने इन खेलों में अपना 270 सस्दयीय दल भेजा. निशानेबाजों ने एक फिर अपना जलवा जारी रखा. समरेश जंग की अगुआई में निशानेबाजों ने 16 स्वर्ण सहित कुल 26 पदक जीते. समरेश ने गोल्डन चौके सहित छह पदकों पर निशाना साधा. इसके लिए उन्हें डेविड डिक्सन पुरस्कार से सम्मानित किया गया. वेटलिफ्टिरों के खाते में तीन स्वर्ण पदक आए. शरत कमल टेबल टेनिस में स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय पैडलर बने. उन्होंने व्यक्तिगत वर्ग में यह उपलब्धि हासिल करने के बाद टीम स्पर्धा में भी भारत की झोली में सोना डाला. मुक्केबाजी में अखिल कुमार ने गोल्डन पंच लगाया. वह इन खेलों में स्वर्ण हासिल करने वाले दूसरे मुक्केबाज बने.

हर देश ले जाई गई मशाल

 

पहली बार कॉमनवेल्थ गेम्स की मशाल खेलों में भाग लेने वाले हर देश ले जाई गई और इसने 180,000 किलोमीटर का सफर तय किया. यह दौड़ उस वक़्त खत्म हुई जब विक्टोरिया के गवर्नर ने मशाल मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) में इंग्लैंड की रानी के हाथों में दी.

ऑस्ट्रेलिया की बादशाहत बरकरार

इसमें मेजबान देश ऑस्ट्रेलिया ने 84 स्वर्ण के साथ कुल 221 पदक जीते. इंग्लैंड 36 स्वर्ण के साथ दूसरे नंबर पर रहा, जबकि कनाडा ने 26 स्वर्ण जीत कर तीसरा स्थान हासिल किया. साउथ अफ़्रीका को 12 स्वर्ण मिले तो स्कॉटलैंड ने 11 स्वर्ण हासिल किए और जमैका ने 10 स्वर्ण जीते.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Test Ride: Royal Enfield की दमदार Thunderbird 500X

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi