S M L

BWF world tour finals: लगातार सात खिताबी हार के बाद सिंधु के सिर सजा जीत का ताज

खिताबी मुकाबले में सिंधु ने नोजोमी ओकुहारा को 1 घंटे 2 चले मुकाबले में शिकस्‍त दी

Updated On: Dec 16, 2018 03:13 PM IST

Kiran Singh

0
BWF world tour finals: लगातार सात खिताबी हार के बाद सिंधु के सिर सजा जीत का ताज

सालभर से भी ज्‍यादा समय से लगातर अपनी उम्‍मीदों को टूटते देखने के बाद रविवार को भारत की स्‍टार शटलर पीवी सिंधु ने जीत का ताज अपने सिर पर सजा ही लिया. ये मात्र एक संयोग ही है कि सिंधु ने इस ताज को उसी के खिलाफ जीतकर हासिल किया, जिसके खिलाफ उन्‍होंने अपनी पिछली जीत दर्ज की थी और उस जीत के बाद उन्‍हें सालभर से भी ज्‍यादा इंतजार करना पड़ा. 2017 में सिंधु ने जापन की नोजोमी ओकुहारा को हराकर कोरियन ओपन का खिताब जीता था, लेकिन इस जीत के साथ उन्‍हें लगातार सात फाइनल में हार मिली. ए‍क बार फिर सिंधु ने ओकुहारा को बीडब्‍ल्‍यूएफ वर्ल्‍ड टूर फाइनल्‍स के खिताबी मुकाबले में हराकर अपनी हार का क्रम तोड़ते हुए इतिहास रच दिया.

1 घंटे 62 मिनट तक चले खिताबी मुकाबले में सिंधु ने जापान की ओकुहारा को 21-19, 21-17 से हराकर इस सीजन का पहला खिताब जीता. इस खिताब को जीतने वाली सिंधु पहली भारतीय भी बन गई है.

सिंधु का लगातार खिताबी हार

एशियन गेम्‍स: ताइ जु यिंग से हार मिली

विश्‍व चैंपियनशिप: कैरोलिना मारिन से हार मिली

थाइलैंड ओपन: नोजोमी ओकुहारा ने हराया

कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स: सायना नेहवाल ने शिकस्‍त दी

इंडिया ओपन: झांग ने हराया

बीडब्‍ल्‍यूएफ वर्ल्‍ड टूर फाइनल्‍स: अकाने यामागुची ने हराया

हॉन्‍ग कॉन्‍ग ओपन: ताइ जु यिंग ने शिकस्‍त दी.

पिछली बार सिंधु को जीत सितंबर 2017 में मिली थी. कोरिया ओपन के फाइनल में उन्‍होंने ओकुहारा को 22-20, 11-21, 21-18 से हराया था.

पहले गेम में मिली कड़ी चुनौती

Winner Sindhu Pusarla (R) of India poses with runner-up Nozomi Okuhara (L) of Japan after the women's singles final match at the 2018 BWF World Tour Finals badminton competition in Guangzhou in southern China's Guangdong province on December 16, 2018. (Photo by STR / AFP) / China OUT

मैच का पहला अंक ओकुहारा के खाते में गया था, लेकिन गेम सिंधु ने खाते में आया. पहला अंक गंवाने के बाद सिंधु ने अंक जोड़े और विश्‍व की पांचवें नंबर की खिलाड़ी पर मजबूत बना ली और ब्रेक तक सिंधु 11- 6 से आगे थी. लेेकिन ब्रेक के बाद ओकुहारा ने वापसी की. जापानी खिलाड़ी ने सिंधु को लंबी रैलियों में उलझाया और बाजी मारने में सफल रही. ओकुहारा ने बढ़त को काफी कम करने के बाद एक समय स्‍कोर 16-16 से बराबर कर दिया था. इसके बाद सिंधु ने अंक हासिल किया, लेकिन जापानी खिलाड़ी ने फिर स्‍कोर 17-17 से बराबर कर दिया. सिंधु ने पूरा जोर लगाया और अपनी बढ़त को 20-17 किया. यहां पर भारतीय खिलाड़ी को बस गेम पॉइंट की जरूरत थी, लेकिन ओकुहारा ने उन्‍हें इंतजार करवाया और दो अंक हासिल करने स्‍कोर 20-19 कर दिया. यहां ओकुहारा गेम पॉइंट नहीं बचा पाई और सिंधु के रिटर्न को ड्रॉप कर दिय. सिंधु ने पहला गेम 21-19 से अपने नाम किया.

15 स्‍कोर तक मिली टक्‍कर

पहला गेम की तुलना में दूसरा गेम अधिक लंबा चला. गेम की शुरुआत में ही सिंधु ने अंक हासिल किया और लगातार अंक लेकर 5-2 की बढ़त बना ली थी, लेकिन वह इसे ज्‍यादा देर बरकरार नहीं रख पाई और ओकुहारा ने एक समय स्‍कोर 7-7 से बराबर कर दिया था. इसके बाद दोनों की बीच कांटे की टक्‍कर रही. ब्रेक तक सिंधु ने 11-9 से बढ़त बना रखी थी. लेकिन ओकुहारा ने ब्रेक के वापसी के संकेत दिए और 48 शॉट की लंबी रैली अपने पक्ष में करके स्‍कोर 15- 13 किया. यहां ओकुहारा की गलत सर्व का फायदा सिंधु को अंकों के रूप में मिला. सिंधु ने 18-16 की बढ़त बना रखी थी और वह ऐतिहासिक जीत से सिर्फ 3 अंक दूर थी. भारतीय खिलाड़ी ने पूरा जोर लगाया. जहां एक अंक गंवाने के साथ ही तीन अंक हासिल किए और 21-17 के गेम अपने नाम करने के साथ ही खिताब भी अपने नाम कर लिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi