live
S M L

भूपति ने गलत तरीका अपनाया, पेस की भी गलती: आनंद अमृतराज

भारतीय टीम के पूर्व नॉन प्लेइंग कैप्टन आनंद अमृतराज ने पेस और भूपति दोनों को लताड़ा

Updated On: Apr 10, 2017 11:20 PM IST

Bhasha

0
भूपति ने गलत तरीका अपनाया, पेस की भी गलती: आनंद अमृतराज

डेविस कप के पूर्व कप्तान आनंद अमृतराज को लगता है कि लिएंडर पेस और महेश भूपति के बीच कड़वे रिश्ता बयां करती ताजा घटना की जड़ें बहुत पुरानी हैं. इसके लिए दोनों खिलाड़ी जिम्मेदार हैं.

भूपति से पहले डेविस कप टीम के पूर्व गैर खिलाड़ी कप्तान ने कहा कि कप्तान को पेस को स्पष्ट कर देना चाहिए था कि वह अंतिम चार खिलाड़ियों में शामिल नहीं हैं. अगर पेस को खेलने वाली टीम में अपना स्थान सुनिश्चित करने का भरोसा नहीं था तो उन्हें बेंगलुरू नहीं आना चाहिए था.

पेस ने भूपति पर अपने स्थान का बेजा इस्तेमाल करने का आरोप लगाया और उन्हें टीम से बाहर कर दिया. जबकि कप्तान ने कहा कि उन्होंने कभी भी उन्हें अंतिम चार में स्थान का वादा नहीं किया था और रिजर्व के तौर पर बेंगलुरू नहीं आने का विकल्प भी दिया था.

अमृतराज ने कहा, ‘यह पुरानी कहानी का नया अध्याय है. यह दुखद है कि यह विवाद फिर से पैदा हुआ. इसमें दोनों पक्षों की गलती है. महेश ने इसे निपटाने का गलत तरीका अपनाया. महेश ने लिएंडर को ईमेल क्यों नहीं भेजा और स्पष्ट रूप से क्यों नहीं बताया कि तुम अंतिम चार में शामिल नहीं हो. अगर दो महीने पहले ही उसने रोहन को खिलाने का फैसला कर लिया था तो इस खिलाड़ी (लिएंडर) को क्यों लटका कर रखा जाए?’

उन्होंने कहा, ‘इस सारी असंमजस की स्थिति से बचा जा सकता था. महेश को सिर्फ इतना करना था कि वह लिएंडर को एक ईमेल भेजते कि उन्हें अंतिम चार में शामिल नहीं किया जा रहा है. एक प्रति एआईटीए को भेज देते.’

पेस मुकाबले के बीच में ही बेंगलुरू छोड़कर चले गए, जिस कदम पर भूपति ने कहा कि यह ताबूत में आखिरी कील थी. कप्तान को भी यह बात पसंद नहीं आई कि पेस ने अपने ‘गैग’ आदेश के बावजूद मीडिया से बात की. हालांकि अमृतराज को लगता है कि पेस के पास बेंगलुरू में रुकने का कोई कारण नहीं था.

उन्होंने कहा, ‘वहां रुकने का कोई मतलब नहीं था. टीम पहले दिन ही 2-0 से आगे थी. बेहतर यही रहा कि वह अमेरिका चले गए और अगले टूर्नामेंट के लिए परिस्थितियों से सांमजंस्य बिठाने लगे. सोमवार को जाने का कोई मतलब नहीं था. उन्हें खुद को शर्मसार नहीं करवाना चाहिए था. उन्हें बेंगलुरू नहीं आना चाहिए था.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi