S M L

पहलवान बजरंग पूनिया और विनेश फोगाट राजीव गांधी खेल रत्न की होड़ में

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और जेवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा के साथ विनेश और बजरंग भी प्रबल दावेदार हैं

Updated On: Aug 29, 2018 07:37 PM IST

FP Staff

0
पहलवान बजरंग पूनिया और विनेश फोगाट राजीव गांधी खेल रत्न की होड़ में

कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीतने वाले चैंपियन पहलवान बजरंग पूनिया और विनेश फोगाट इस साल राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार की दौड़ में हैं. भारतीय कुश्ती संघ (डब्ल्यूएफआई) के एक सूत्र ने बताया कि बजरंग ने महासंघ के जरिए नामांकन भर दिया है जबकि विनेश की सिफारिश खेल मंत्रालय कर सकता है.

खेलमंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ एशियन गेम्स में खिलाड़ियों के प्रदर्शन की समीक्षा सितंबर के पहले सप्ताह में करेंगे. इसके बाद मंत्रालय चयन समिति को राष्ट्रीय खेल पुरस्कारों के लिए अपने सुझाव दे सकता है. हर साल खेल पुरस्कार महान हॉकी खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद के जन्मदिन पर 29 सितंबर को दिए जाते हैं लेकिन इस बार समारोह 25 सितंबर को होगा ताकि एशियन गेम्स से तारीख का टकराव नहीं हो.

डब्ल्यूएफआई के एक अधिकारी ने कहा,‘‘बजरंग ने खेल रत्न पुरस्कार के लिए नामांकन दे दिया है. कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स के शानदार प्रदर्शन के बाद वह इस पुरस्कार का हकदार है. हमें नहीं पता कि विनेश ने खुद नामांकन भरा है या नहीं, लेकिन मंत्रालय उसके नाम की अनुशंसा कर सकता है. दोनों ही खेल रत्न पुरस्कार के प्रबल दावेदार है और दोनों जीतते हैं तो कोई हैरानी नहीं होगी.’

विराट कोहली और नीरज चोपड़ा भी प्रबल दावेदार

खेल मंत्रालय के एक अधिकारी ने भी कहा कि भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और जेवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा के साथ विनेश और बजरंग भी प्रबल दावेदार हैं. अधिकारी ने कहा, ‘बजरंग और विनेश ने कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स में असाधारण प्रदर्शन किया है. खासकर एशियन गेम्स में तो प्रतिस्पर्धा काफी कठिन थी.  मंत्रालय को 30 अप्रैल की कटऑफ तारीख को मिली सूची में विनेश और बजरंग के नाम नहीं थे, लेकिन एशियन गेम्स में प्रदर्शन की समीक्षा बैठक जल्दी ही होगी और मंत्रालय कुछ खिलाड़ियों के नाम की अनुशंसा चयन समिति को करेगा.’

विनेश और  बजरंग ने 2018 में जीते हैं डबल गोल्ड

विनेश एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीतने वाली भारत की पहली महिला पहलवान बनीं. उन्होंने इंचियोन एशियाड में कांस्य पदक जीता था. उन्होंने 2014 और 2018 में कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीता था. बजरंग ने कॉमनवेल्थ और एशियन गेम्स में गोल्ड के अलावा विश्व चैंपियनशिप 2013 में ब्रॉन्ज मेडल. उन्होंने 2014 एशियन गेम्स और ग्लास्गो कॉमनवेल्थ गेम्स में सिल्वर मेडल था.

अब तक एक ही साल में सर्वाधिक चार खिलाड़ियों को खेल रत्न सम्मान 2016 में दिया गया जब रियो ओलिंपिक के बाद पीवी सिंधु, साक्षी मलिक, दीपा करमाकर और जीतू राय को इससे नवाजा गया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi