S M L

ऑस्ट्रेलियन ओपन टेनिस: सानिया भी जीतीं, बोपन्ना भी

सानिया-स्ट्राइकोवा ने आसानी से जीता पहला राउंड

FP Staff Updated On: Jan 18, 2017 06:43 PM IST

0
ऑस्ट्रेलियन ओपन टेनिस: सानिया भी जीतीं, बोपन्ना भी

सानिया मिर्जा और उनकी चेक पार्टनर बार्बरा स्ट्राइकोवा ऑस्ट्रेलियन ओपन टेनिस के दूसरे दौर में पहुंच गई हैं. महिला वर्ग के पहले राउंड के मैच में इस जोड़ी ने ब्रिटिश जोड़ी जोसलिन रे और एना स्मिथ को आसानी के साथ 6-3, 6-1 से हरा दिया.

भारत के लिए मेलबर्न से एक और अच्छी खबर यह रही कि रोहन बोपन्ना और उरुग्वे के पाब्लो क्यूवस की पुरुष जोड़ी ने भी पहली बाधा पार कर ली. इन दोनों ब्राजील के थॉमस बेलूची और अर्जेंटीना के मैक्सिमो गोंजोलेस को 6-4, 7-6 (4) से मात दी.

बोपन्ना की जोड़ी पूरे मैच पर हावी रही. उन्होंने दोनों सेट में अपने विपक्षियों की सर्विस एक-एक बार तोड़ी. हालांकि दूसरे सेट में बेलूची और गोंजालेज ने भी सर्विस तोड़कर सेट को टाई ब्रेक में पहुंचाया. लेकिन टाई ब्रेकर में बोपन्ना और क्यूवस ने विपक्षियों को कोई मौका नहीं दिया. अगले राउंड में इनका मुकाबला ऑस्ट्रेलिया के एलेक्स बोल्ट और ब्रैडली मूसली से होगा, जिन्होंने रॉबिन हास और फ्लोरियन मायर को तीन सेट तक चले मैच में हराया.

Tennis - International Premier Tennis League - Singapore Indoor Stadium, Singapore - 20/12/15 International Premier Tennis League Final Mixed Doubles - Indian Aces' Sania Mirza in action Action Images via Reuters / Jeremy Lee Livepic EDITORIAL USE ONLY. - RTX1ZFX5

महिला डबल्स में सानिया और स्ट्राइकोवा ने खासतौर पर दूसरे सेट में जोरदार खेल दिखाया. उन्होंने तीन बार अपनी विपक्षी की सर्विस तोड़ी. अगले राउंड में इनका मुकाबला ऑस्ट्रेलिया की सामंथा स्टोसर और चीन की शुआई झांग से होगा. स्टोसर और झांग ने तीन सेट तक चला मुकाबला जीतकर दूसरे राउंड में जगह बनाई.

सानिया लगातार दूसरी बार ऑस्ट्रेलियन ओपन में महिलाओं का डबल्स जीतने के इरादे से उतरी हैं. हालांकि पिछले साल उनकी पार्टनर अलग थीं. तब उन्होंने मार्टिना हिंगिस के साथ खिताब जीता था. सानिया ऑस्ट्रेलियन ओपन में मिक्स्ड डबल्स खिताब भी जीत चुकी हैं.

मैच के बाद सानिया ने कहा कि वह अपनी जोड़ीदार स्ट्राइकोवा के साथ बन रहे तालमेल से काफी खुश हैं. सानिया ने कहा, 'हमने साथ खेले गए छह टूर्नामेंट में से चार के फाइनल में प्रवेश किया है. बार्बरा बेहद मेहनती हैं और अच्छी फॉर्म में हैं. यहां की स्थिति ज्यादा अच्छी नहीं है. इसलिए हर मैच मुश्किल होने वाला है. आज के मैच के दौरान तेज हवा चल रही थी, लेकिन हमने किसी तरह इसमें बने रहते हुए जीत हासिल की.'

 

सानिया ने इस बात का भी खुलासा किया कि वह और बारबोरा इस साल साथ में खेलने के लिए प्रतिबद्ध हैं और आशा है कि वह करियर की शीर्ष रैंकिंग में पहुंचे।

बारबोरा महिला एकल वर्ग में भी खेल रही हैं और सानिया का कहना है कि इस कारण उन्हें अपने खेल के साथ संतुलन बनाना पड़ रहा है।

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi