S M L

Australian open 2019: बिग बैश लीग के कारण बार्टी ने शारापोवा पर हासिल की फतह

क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने के बाद बार्टी ने खुद स्वीकार किया और पूरा श्रेय लीग की टीम ब्रिस्बेन हीट को दिया

Updated On: Jan 21, 2019 10:03 AM IST

FP Staff

0
Australian open 2019: बिग बैश लीग के कारण बार्टी ने शारापोवा पर हासिल की फतह

आप जरूर सोच रहे होंगे कि बिश बैश लीग तो क्रिकेट है और यहां एश्ले बार्टी ने टेनिस में रूस की मारिया शारापोवा को हराया. तो बिश बैश लीग से बार्टी की कैसे मदद कर सकता है. लेकिन जीत के बाद 15 वरीयता प्राप्त बार्टी ने खुद स्वीकार किया है कि एक बेहतरीन टेनिस खिलाड़ी बनने में मदद की. बार्टी ने 30वीं वरीयता प्राप्त  शारापोवा को हराकर ऑस्ट्रेलियन ओपन के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया. दरअसल 22 साल की बार्टी ने 2014 से 2016 तक टेनिस से दूरी बना ली थी और इस दौर वीमन बिग बैश लीग शुरू हुआ. जिसमें वह ब्रिस्बेन हीट की ओर से मैदान पर उतरी.

बार्टी ने कहा था जब उन्होंने बिग बैश लीग में कदम रखा, उसने उन्हें एक बेहतरीन टेनिस खिलाड़ी बनाया. बार्टी ने 2015 2016 सीजन ब्रिस्बेन की ओर से नौ मैच खेली. उन्होंने कहा कि वो 18 माह उनके लिए काफी अहम थे. उन्हें महसूस हुआ है वह कोर्ट पर और उससे बाहर एक बेहतर इंसान और एक अच्छी टेनिस खिलाड़ी के रूप में वापसी कर सकती हैं. ब्रिस्बेन के साथ करार करने के बाद उन्होंने कहा था कि क्रिकेट के मैदान पर आप कभी भी अकेले नहीं होते, यदि आप संघर्ष कर रहे होते हैं तो बाकी के 10 खिलाड़ी आपकी मदद कर सकते हैं.

महिला बिश बैश लीग के डेब्यू सीजन में बार्टी का सर्वश्रेष्ठ मेलबर्न स्टार्स के खिलाफ था. उन्होंने 27 गेंदों में 39 रन बनाए थे. वापसी टेनिस पर ध्यान लगाने से पहले बार्टी ने सात पारियों में 68 रन बनाए थे. उसके बाद उन्होंने पिछले साल कोको के साथ मिलकर यूएस ओपन का खिताब जीता और अब वह येलेना के बाद ऑस्ट्रेलियन ओपन के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाली दूसरी ऑस्ट्रेलियन महिला खिलाड़ी बन गई हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi