S M L

एथलीट जितिन पाल डोप आरोपों से मुक्त, चार साल का निलंबन भी हटा

भारत के अंतरराष्ट्रीय धावक जितिन बुधवार से प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेने के लिए स्वतंत्र हैं

Updated On: Aug 14, 2018 10:31 PM IST

FP Staff

0
एथलीट जितिन पाल डोप आरोपों से मुक्त, चार साल का निलंबन भी हटा

राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी (नाडा) के अपील पैनल ने मंगलवार को 400 मीटर बाधा दौड़ एथलीट जितिन पाल को डोपिंग आरोपों से मुक्त कर दिया और नाडा के अनुशासनात्मक पैनल द्वारा लगाए चार साल के निलंबन को भी हटा दिया.

न्यायमूर्ति आरवी ईश्वर की अगुआई वाले नाडा के डोपिंग रोधी अपील पैनल (एडीएपी) ने डोपिंग रोधी अनुशासन पैनल (एडीडीपी) के खिलाड़ी को चार साल के लिए निलंबित करने के फैसले को निरस्त कर दिया. भारत के अंतरराष्ट्रीय धावक जितिन बुधवार से प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेने के लिए स्वतंत्र हैं.

जितिन पर आरोप है कि नाडा के डोप नियंत्रण अधिकारी (डीसीओ) के छापे के दौरान एनआईएस पटियाला में उनके कमरे प्रतिबंधित पदार्थ मेलडोनियम मिला था जिसे जब्त किया गया था. पाल की कानूनी टीम ने तर्क दिया कि छापा मारकर सिर्फ पुलिस, सीमा शुल्क जैसी कानून प्रवर्तन एजेंसियां ही चीजें जब्त कर सकती हैं.

जितिन इंचियोन एशियाई खेल और ग्लास्गो कॉमनवेल्थ गेम्स में चौथे स्थान पर रही चार गुणा चार सौ मीटर रिले टीम के सदस्य रहे. नाडा ने छापेमारी करते हुए जितिन पॉल के कमरे से पांच इंजेक्शन कारनीटीन और 20 इंजेक्शन मनापोहाट के बरामद किए थे. इसे बाद में टेस्ट कराया गया तो पता लगा इसमें प्रतिबंधित मेलडोनियम है. यह वही ड्रग्स है जिसके लिए टेनिस स्टार मारिया शारापोवा को पकड़ा गया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi