S M L

मुश्किल वक्त में साथ देने वाली हैदराबाद की एकेडमी को नहीं छोड़ेंगी दुती चंद

एशियन गेम्स में दुती चंद ने 100 मीटर और 200 मीटर की फर्राटा रेस में हासिल किए हैं सिल्वर मेडल

Updated On: Sep 14, 2018 09:46 AM IST

FP Staff

0
मुश्किल वक्त में साथ देने वाली हैदराबाद की एकेडमी को नहीं छोड़ेंगी दुती चंद
Loading...

एक वक्त था जब भारत की फर्राटा धावक दुती चंद के सस्पेंशन के बाद किसी एकेडमी में उनके लिए कोई जगह नहीं थी. उस वक्त बैडमिंटन कोच पुलेला दोपीचंद ने ने उन्हें अपने एकेडमी के हॉस्टल मे रह कर ट्रेनिंग करने का मौका दिया था. अब एशियन गेम्स में शानदर पर्दर्शन के बाद दुती चंद हर किसी की तहेती बन गई हैं लेकिन अब बी वह हैदराबा की उसी एकेडमी में रहकर ही ट्रेनिंग करेंगी जहां उन्होंने मुश्किल वक्त काटा था.

एशियन गेम्स में जबल सिल्वर मेडल हासिल करने वाली एथलीट दुती चंद के कोच नागपुरी रमेश ने कहा है कि वह अगले साल होने वाली एशियाई और विश्व चैंपियनशिप तक हैदराबाद में ट्रेनिंग जारी रखेंगी.

रमेश ने कहा, ‘दुती अगले साल एशियाई चैंपिनशिप और विश्व चैंपियनशिप तक हैदराबाद में समान ट्रेनिंग कार्यक्रम जारी रखेंगी. हमने यह कार्यक्रम उसके लिये तैयार किया है, जो हमारी ‘घर में ट्रेनिंग, विदेश में प्रतिस्पर्धा’ की नीति का हिस्सा है. दुती अक्तूबर से हैदराबाद में ट्रेनिंग शुरू करेंगी.’

उन्होंने कहा, ‘हम चाहेंगे कि एशियाई और विश्व चैंपियनशिप में भाग लेने से पहले वह कुछ टूर्नामेंट में भी भाग ले. इन कुछ टूर्नामेंट में ही दुती को विदेश में ट्रेनिंग का मौका मिलेगा.’

भारत में ट्रेनिंग करने के कारण के बारे में पूछने पर रमेश ने कहा कि वहां अभ्यास करना बेहतर होता है जहां खिलाड़ी सहज महसूस करे और दुती के लिये चीजें अभी तक सही रही हैं जो जकार्ता में एशियन गेम्स में 100 मीटर और 200 मीटर में सिल्वर मेडल जीतने वाले के प्रदर्शन से साफ दिखता है.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi