S M L

Asian games 2018: सायना-सिंधु ने रचा इतिहास, 36 साल बाद भारत को बैडमिंटन में मिलेगी यह खुशी

एशियाड में भारत ने साल 1982 से सिंगल्स वर्ग में कोई मेडल हासिल नहीं किया है

Updated On: Aug 26, 2018 03:51 PM IST

FP Staff

0
Asian games 2018: सायना-सिंधु ने रचा इतिहास, 36 साल बाद भारत को बैडमिंटन में मिलेगी यह खुशी

भारत की स्टार शटलर सायना नेहवाल और पीवी सिंधु ने फैंस की उम्मीदों पर खरे उतरते हुए एशियन गेम्स में इतिहास रच दिया. सायना और सिंधु ने 36 साल बाद भारत के सिंगल्स वर्ग में मेडल पक्के किए. दोनों ने अपने-अपने क्वार्टरफाइनल मुकाबले जीतकर सेमीफाइनल में जगह बनाई. दोनों का यह मेडल सिर्फ उनके लिए ही नहीं बल्कि  भारत के लिए भी खास है, क्योंकि 1982 में बाद भारत को एशियाड में सिंगल्स इवेंट में मेडल मिलने वाला है. 1982 में दिल्ली में हुए एशियाड में सैयद मोदी को मेंस सिगल्स में मिले ब्रॉन्ज मेडल के बाद से भारत को कभी भी सिंगल्स में मेडल हासिल नहीं हो सका है. अब अगर सायना और सिंधु अगले मुकाबले जीतकर फाइनल में पहुंचती हैं तो सिल्वर और गोल्ड मेडल पक्का हो जाएगा और अगर ऐसा होता है तो पहली बार कोई भारतीय शटलर इस मुकाम पर पहुंचेगा.

सिंधु को सेमीफाइनल के लिए करना पड़ा संघर्ष

भारतीय खिलाड़ी सिंधु ने 61 मिनट तक चले मुकाबले में नितचाओन को 61 मिनट में 21-11, 16-21, 21-14 से मात देकर अंतिम-4 में प्रवेश किया.

पहले गेम में सिंधु को नितचाओन पर दबाव बनाते देखा जा रहा था और ऐसे में उन्होंने 17 मिनट के भीतर इस गेम को 21-11 से जीत लिया. दूसरे गेम में दोनों खिलाड़ियों के बीच बराबरी का मुकाबला देखा गया. सिंधु ने शुरुआत में 7-5 की बढ़त बनाई थी लेकिन नितचाओन ने अच्छी वापसी करते हुए स्कोर 13-13 से बराबर कर लिया. थाईलैंड की खिलाड़ी ने अच्छी वापसी की और 22 मिनट में दूसरा गेम 21-16 से अपने नाम कर लिया.

Jakarta: Indian shuttler PV Sindhu celebrates after defeating Thailand's N Jindapol during women's singles quarterfinal badminton match at the 18th Asian Games 2018, in Jakarta on Sunday, Aug 26, 2018. (PTI Photo/Shahbaz Khan) (PTI8_26_2018_000129B)

नितचाओन ने तीसरे गेम की शुरुआत में सिंधु पर 6-4 की बढ़त लेकर दबाव बनाने की कोशिश की, लेकिन सिंधु ने भी अच्छी वापसी कर पहले स्कोर 7-7 से बराबर किया और उसके बाद 11-7 से बढ़त ले ली.

इसके बाद सिंधु ने थाईलैंड की खिलाड़ी पर पूरी तरह दबाव बनाते हुए तीसरे गेम को 21-14 से अपने नाम करने के साथ ही सेमीफाइनल में प्रवेश किया.

सायना ने दी चिर प्रतिद्वंदी को मात

अपनी चिर प्रतिद्वंदी रत्नाचोक इंतानोन को हराकर वीमंस सिंगल्स के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है और इसी के साथ उन्होंने एशियन गेम्स में अपना पहला मेडल भी पक्का कर लिया है.

हालांकि सायना के लिए जीत आसान नहीं थी, क्योंकि पहले गेम में शुरुआती स्कोर को देखने के बाद अंदाजा लगाया जा रहा था कि भारतीय खिलाड़ी को थाई खिलाड़ी इंतानोन आसानी से मात दे देंगी, लेकिन सायना ने जबरदस्त वापसी करते हुए जीत हासिल कर ली और इंतानोन को 21-18, 21-16 से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया और इसी के साथ भारत के लिए एक और मेडल पक्का.

Jakarta: Indian shuttler Saina Nehwal in action against Japan player Nozomi Okuhara (unseen) at Women's Team quarterfinals event during the 18th Asian Games Jakarta Palembang 2018, in Indonesia on Monday, Aug 20, 2018. (PTI Photo/Shahbaz Khan) (PTI8_20_2018_000042B)

पहले गेम में सायना को बैककोर्ट कवर करने के लिए संघर्ष करना पड़ रहा था और वह एक समय सायना थाई खिलाड़ी से 9 -14 से पिछड़  रही थीं. लेकिन 11 -17 से पिछड़ने के बाद सायना ने जोरदार वापसी की और बैककोर्ट को कवर करते हुए जल्दी स्कोर 16 -17 किया, इसके बाद एक लंबी रैली में एक अंक और हासिल करके स्कोर 17-17 के बराबर किया. हालांकि इसके बाद इंतानोन ने बढ़त हासिल की, लेकिन ज्यादा समय तक इसे बरकरार नहीं रख पाई. सायना ने स्कोर 18-18 से बराबर किया और लगातार अंक हासिल करके 21 -18 से पहला गेम अपने नाम कर लिया. इस गेम में सायना ने बेहतरीन वापसी की.

दूसरे गेम में सायना पहले गेम की तुलना में काफी अटैकिंग लग रही थी. दूसरे गेम के शुरुआत से ही सायना ने बढ़त बनाए रखी. हालांकि थाई खिलाड़ी लगातार अटैक पर इस अंतर को कम रखने की कोशिश की, लेकिन एक समय सायना ने 16 -12 की बढ़त हासिल कर ली है.इसके बाद सायना ने 20-16 से बढ़त बनाई। हालांकि मैच पॉइंट या कहे मेडल पॉइंट के लिए दोनों खिलाड़ियों के बीच लंबी रैली चली, जिसमें भारतीय खिलाड़ी ने बाजी मार ली.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi