S M L

Asian games 2018: चार साल पहले ही थामी बंदूक, अब लगाया 'लक्ष्य' पर निशाना

भारत के शूटिंग दल को मिला एक और युवा मेडलिस्ट, 19 साल के लक्ष्य ने जीता सिल्वर

Updated On: Aug 20, 2018 04:57 PM IST

FP Staff

0
Asian games 2018: चार साल पहले ही थामी बंदूक, अब लगाया 'लक्ष्य' पर निशाना

एशियन गेम्‍स के दूसरे दिन 19 साल के लक्ष्‍य ने अनुभवियों को मात देते हुए भारत को सिल्‍वर मेडल दिलवा दिया. एशियन गेम्‍स में कड़े मुकाबले में इस युवा खिलाड़ी ने सिल्‍वर जीतकर अपना दम दिखाया. लक्ष्‍य के सामने चीन, कोरिया जैसे देशों की चुनौती के अलावा हमवतन अनुभवी मानवजीत संधु की भी चुनौती थी, जो शुरुआत में उन्‍हें लगातार टक्‍कर दे रहे थे और आखिरकार अपने लक्ष्‍य को भेदते हुए इस युवा निशानेबाज ने सिल्‍वर पर निशाना लगा ही दिया. लेकिन आप जानकार जरूरत हैरान हो जाएंगे कि अनुभव को पीछे छोड़ने वाले लक्ष्‍य ने सिर्फ चार साल पहले ही हाथ में राइफल थामी थी. लक्ष्‍य ने 50 में से 43 सटीक निशाने लगाए. ट्रैप शूटिंग में अनुभवी शूटर मानवजीत संधु से मेडल की उम्मीद थी लेकिन वो चौथे नंबर पर रहे.

Lakshay (R) of India and Ahn Daem-yeong of South Korea compete in the men's trap shooting event at the 2018 Asian Games in Palembang on August 20, 2018.  / AFP PHOTO / ADEK BERRY

शुरुआत में दोनों भारतीय खिलाड़ी दूसरी पोजीशन पर बने हुए थे, लेकिन इसके बाद मानव अपने लक्ष्‍य से भटक गए और चौथे नंबर पर फिसल गए और इसके बाद एक काफी खराब निशाना लगाकर पांचवें स्‍थान के साथ एलिमिनेट भी हो गए.

लक्ष्य ने पिछले साल जूनियर शॉटगन कप में सिल्वर मेडल जीता था. इसके अलावा पिछले साल जूनियर शॉटगन वर्ल्ड कप में लक्ष्य ने मिक्स्ड टीम इवेंट में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi