S M L

Asian Games 2018: केरल की बाढ़ में फंसे परिवार की खबर नहीं, मेडल के लिए लगा दी जान..

जकार्ता में भारत के तैराक साजन प्रकाश ने 200 मीटर बटरफ्लाइ में क्वालिफाइ करके 32 साल पुराने रिकॉर्ड की बराबरी की

Updated On: Aug 20, 2018 10:24 AM IST

FP Staff

0
Asian Games 2018: केरल की बाढ़ में फंसे परिवार की खबर नहीं, मेडल के लिए लगा दी जान..

इंडोनेशिया में एशियन गेम्स के दौरान पहले ही दिन एक भारतीय तैराक के जज्बे की बेहतरीन मिसाल देखने को मिली. केरल के इस तैराक को यह भी नहीं पता है कि राज्य में आई बाढ़ के बाद उनके घरवाले कहां और किस सूरत मे हैं लेकिन जकार्ता के स्विमिंग पूल मे उन्होंने इतिहास रच दिया.

रविवार को पहले दिन भारत से तैराक साजन प्रकाश एशियाड में 200 मीटर बटरफ्लाई के फाइनल में क्वालिफाइ किया. साल 1986 के एशियाड में खजान सिंह के बाद यह कारनामा करने वाले वह पहले तैराक हैं.

साजन प्रकाश ने फाइनल राउंड में भी जोरदार कोशिश की और वह पांचवें स्थान पर रहे. हालांकि वह 32 साल पुराने खजान सिंह के रिकॉर्ड को नहीं तोड़ सके. खजान सिंह ने इस इवेंट में सिल्वर मेडल जीता था.

पांचवी पोजिशन पर रहने के पार 24 साल के साजन ने बताया कि उनका ध्यान अब इस वक्त केरल में आई बाढ़ में फंसे अपने घरवालों पर है जिनके बारे में उन्हें कोई खबर नहीं है. केरल के शहर इडुकी में साजन का ननिहाल है और वह वहीं पले-बढ़े हैं. साजन के मुताबिक तमिलनाडु में मौजूद उनकी मां ने उन्हें बताया कि साजन की नानी और मामा के परिवार को इडुकी से रेसक्यू तो किया जा चुका है लेकिन वे लोग कहां हैं इसके बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं दी गई ताकि उनकी प्रदर्शन पर कोई असर ना पड़े. बहरहाल अब साजन अपने परिवार के सदस्यों का पता लगाने में जुटे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi