S M L

Asian Games 2018 : भारत ने 400 मीटर मिक्स्ड रिले में विरोध दर्ज कराया, फैसला बुधवार सुबह होगा

हिमा दास को बाधा पहुंचाने के लिए बहरीन के खिलाफ विरोध दर्ज कराया. भारत इस स्पर्धा में दूसरे स्थान पर रहा, क्योंकि एमआर पूवम्मा 30 मीटर की बढ़त का फायदा उठाने में नाकाम रहीं

Updated On: Aug 28, 2018 10:58 PM IST

FP Staff

0
Asian Games 2018 : भारत ने 400 मीटर मिक्स्ड रिले में विरोध दर्ज कराया, फैसला बुधवार सुबह होगा

भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (एएफआई) ने चार गुणा 400 मीटर मिक्स्ड रिले  के दौरान हिमा दास को बाधा पहुंचाने के लिए मंगलवार को बहरीन के खिलाफ विरोध दर्ज कराया. भारत इस स्पर्धा में दूसरे स्थान पर रहा, क्योंकि एमआर पूवम्मा 30 मीटर की बढ़त का फायदा उठाने में नाकाम रहीं. भारत ने अपना विरोध अपीली ज्यूरी के पास दर्ज कराया है जो स्थानीय समयानुसार बुधवार सुबह दस बजे अपना फैसला सुनाएगी.

मोहम्मद अनस, एमआर पूवम्मा, हिमा दास और राजीव आरोकिया की चौकड़ी ने तीन मिनट, 15 .71 सेकेंड के समय के साथ रजत पदक जीता. बहरीन ने तीन मिनट, 11.89 सेकेंड के साथ स्वर्ण जबकि कजाखस्तान ने तीन मिनट 19.52 सेकेंड के साथ कांस्य पदक जीता.

एएफआई अध्यक्ष आदिल सुमरिवाला ने कहा, ‘यह स्पष्ट बाधा थी और हमने विरोध दर्ज करा दिया है. इससे हिमा को हल्की चोट भी आई है. इससे हमारा कुछ समय बर्बाद हुआ. ज्यूरी देखेगी की वहां क्या हुआ था.’

मोहम्मद अनस ने बहुत अच्छी शुरुआत की और बहरीन के अपने प्रतिद्वंद्वी पर 30 मीटर की बढ़त हासिल की. उन्होंने इसके बाद पूवम्मा को बैटन सौंपी, लेकिन कर्नाटक की यह एथलीट अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई और उन्होंने बढ़त गंवा दी. जब उन्होंने हिमा को बैटन सौंपी तब तक बहरीन ने अच्छी बढ़त हासिल कर ली थी.

हिमा को बैटन हासिल करने के बाद अपनी लेन बदलनी थी, लेकिन बहरीन की ओलुवाकेमी आदेकोया अपनी साथी सलवा नासिर को बैटन सौंपने के बाद भारतीय एथलीट के आगे गिर गई जिससे उन्हें बाधा पहुंची. हिमा ने कहा, ‘मुझे उसे पार करने के लिए उसके ऊपर से कूद लगानी पड़ी और मुझे लगा कि दूसरी लेन में जाकर मैंने फाउल कर दिया है. यह बात मेरे दिमाग में घूमती रही. मैं नहीं जानती कि उसने अपना संतुलन खोया या वह जानबूझकर मेरे आगे गिरी.’

बहरीन की बढ़त को हिमा कम नहीं कर पाईं और तरह से आरोकिया के पास 50 मीटर की बढ़त को पाटने का असंभव काम आ गया था. आखिर में भारत ने तीन मिनट 15.71 सेकेंड के साथ दूसर स्थान हासिल किया जो कि बहरीन से लगभग चार सेकेंड कम था. अनस ने हालांकि पूवम्मा को दोषी मानने से इन्कार किया. उन्होंने कहा, ‘वह काफी तेज दौड़ी. वह धीमी नहीं थी. हम उसे दोष नहीं दे सकते.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi