S M L

asian games 2018 : वुशु में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन, चार पदक जीते

रोशिबिना देवी, संतोष, सूर्य भानु और नरेंदर को सेंडा स्पर्धा के सेमीफाइनल मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा, लेकिन इन्होंने भारत को चार कांस्य पदक दिलाए

Updated On: Aug 22, 2018 08:54 PM IST

Bhasha

0
asian games 2018 : वुशु में भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन, चार पदक जीते

भारत के चारों वुशु खिलाड़ियों को सेमीफाइनल में हार के साथ कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा, लेकिन इन्हें एशियन गेम्स के इतिहास में भारत का अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया. नाओरेम रोशिबिना देवी, संतोष कुमार, सूर्य भानु प्रताप सिंह और नरेंदर ग्रेवाल को सेंडा स्पर्धा के सेमीफाइनल मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा, लेकिन इन्होंने भारत को एशियन गेम्स में ऐतिहासिक चार कांस्य पदक दिलाए.

भारत ने इससे पहले 2006, 2010 और 2014 एशियन गेम्स की वुशु स्पर्धा में भी हिस्सा लिया था, लेकिन मौजूदा खेलों का उसका प्रदर्शन अब तक का सर्वश्रेष्ठ है. भारत ने इंचियोन में 2014 खेलों में दो कांस्य पदक जीते थे, जिसमें ग्रेवाल का 60 किग्रा स्पर्धा का पदक भी शामिल था. ग्रेवाल का बुधवार का कांस्य पदक एशियन गेम्स का उनका दूसरा पदक है. भारत ने 2006 खेलों में एक कांस्य जबकि 2010 खेलों में एक रजत और एक कांस्य पदक जीता था.

भारत की ओर से सबसे पहले रोशिबिना देवी चुनौती के लिए उतरीं, लेकिन उन्हें महिला सेंडा 60 किग्रा सेमीफाइनल में चीन की काइ यिंगयिंग के खिलाफ 0-1 से हार झेलनी पड़ी. संतोष कुमार भी इसके बाद पुरुष सेंडा 56 किग्रा वर्ग में वियतनाम के ट्रोंग गियांग बुई के खिलाफ 0-2 से हार गए. भानु प्रताप सिंह की 60 किग्रा और ग्रेवाल की 65 किग्रा वर्ग में हार के साथ भारतीय खिलाड़ियों का फाइनल में जगह बनाने का सपना टूट गया. भानु प्रताप को इरफान अहानगारियन के खिलाफ 0-2, जबकि ग्रेवाल को उज्बेकिस्तान के अकमल रखिमोव के खिलाफ इसी अंतर से हार का सामना करना पड़ा.

नाओरेम रोशिबिना देवी, संतोष कुमार, सूर्य भानु प्रताप सिंह और नरेंदर ग्रेवाल को पदक जीतने पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर बधाई दी है. मोदी ने सभी को अलग-अलग ट्वीट कर बधाई दी.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता
Firstpost Hindi