S M L

Asian Games 2018: नरगिस के एक ब्रॉन्ज मेडल ने जीत लिया पूरे पाकिस्तान का दिल...

एशियन गेम्स में जानिए क्या है पाकिस्तान का हाल और क्यों खास है नरगिस का यह ब्रॉन्ज मेडल

Updated On: Aug 28, 2018 02:48 PM IST

FP Staff

0
Asian Games 2018: नरगिस के एक ब्रॉन्ज मेडल ने जीत लिया पूरे पाकिस्तान का दिल...

खेलों की दुनिया में भारत और पाकिस्तान की राइवलरी अक्सर भारत में चर्चा का मसला रहती है. क्रिकेट हो या हॉकी या फिर कोई और खेल, भारत पाकिस्तान के बीच के मुकाबले दोनों देशों के लोगों के किसी जंग से कम नहीं होते हैं. एशियन गेम्स में भारत के एथलीट्स तो धमाल मचाकर देश का सिर ऊंचा कर रहे हैं लेकिन क्या आपको पता है कि भारत को पड़ौसी देश पाकिस्तान का एशियन गेम्स में क्या हाल है?

जकार्ता में खेले जा रहे एशियन गेम्स में पाकिस्तान की हालत इतनी पतली है कि वह मेडल टेली में इस वक्त 33वीं पोजिशन पर है जबकि भारत का स्थान नौवां है. पाकिस्तान को अब तक बस तीन ब्रॉन्ज मेडल ही हासिल हो सके हैं और उनमें से एक ब्रॉन्ज जीतने वाली एथलीट नरगिस ने हर पाकिस्तानी का दिल जीत लिया है.

 

 

कराटे की खिलाड़ी नरगिस हजारा 68 किलोग्राम कैटेगरी में ब्रॉन्ज मेडल जीतकर ऐसा कारनामा करने वाली पाकिस्तान की पहली महिला एथलीट बनी हैं और पूरा पाकिस्तान उनके इस मेडल पर जश्न मना रहा है.

इसके अलावा जो बात नरगिस के मेडल को और ज्यादा खास बना रही है वह है उनका बैकग्राउंड. नरगिसका पूरा नाम नरगिस हजारा है. वह क्वैटा के नजदीक के कस्बे हजारा की रहने वाली है. यानी वह पाकिस्तान के उस सूबे बलूचिस्तान से आती हैं जो कई दशकों से अपनी आजादी के लिए पाकिस्तान के साथ संघर्ष कर रहा है.

द ट्रिब्यून से बात करते हुए नरगिस ने बताया है कि एक बेहद कंजरवेटिव समाज में जहां महिलाओं को बिना बुर्का पहने घर से बाहर जाने की इजाजत तक नहीं है वहां उन्हें कराटे जैसे खेल की मंजूरी देने पर उनके पिता को बड़ी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था.

नरगिस को लगता है कि इस ब्रॉन्ज मेडल के साथ उन्होंने अपना पिता की आलोचना करने वालों को जवाब दे दिया है.

तमाम बाधाओं के बावजूद एशियन गेम्स के लेवल पर पाकिस्तान के लिए मेडल जीतने के नरगिस के इसी जज्बे को अब पूरा पाकिस्तान सलाम कर रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi