S M L

Asian Games 2018: साथियान के सामने होगी एशियाई कड़ी चुनौती, कॉमनवेल्थ का प्रदर्शन दोहराना चाहेंगे

कॉमनवेल्थ गेम्स में दो मेडल जीतने के बाद साथियान के पास एक मौका है देश का नाम रोशन करने का

Updated On: Aug 17, 2018 01:15 PM IST

FP Staff

0
Asian Games 2018: साथियान के सामने होगी एशियाई कड़ी चुनौती, कॉमनवेल्थ का प्रदर्शन दोहराना चाहेंगे

नाम- जी साथियान

खेल- टेबल टेनिस

उम्र- 25 साल

कैटेगरी- सिंगल्स और डबल्स

इस कॉमनवेल्थ में भारत को अपनी टेबल टेनिस टीम से काफी उम्मीदें हैं. कोचों और दिग्गजों की माने तो इस बार की टेबल टेनिस टीम काफी मजबूत टीम है. इसी टीम का हिस्सा हैं 25 साल के जी साथियान. साथियान इस वक्त भारत के पटॉप 50 की रैंक पर काबिज टेबल टेनिस खिलाड़ी हैं. आईटीटीएफ की रैंकिंग में वह 39वें स्थान पर है. मार्च 2018 में उन्होंने भारत के स्टार खिलाड़ी अचंत शरत को पीछे किया था.

साथियान के माता पिता चाहते थे कि वह साइंस स्ट्रीम में पढ़कर आगे अच्छा करियर बनाए. उन्होंने ऐसा किया भी. सोफ्टवेयर इंजीनियर बनने के बाद उन्होंने अपने सपने को चुना.

2016 में साथियान अचंत के बाद आईटीटीएफ के सिंगल टाइटल जीतने वाले दूसरे खिलाड़ी बने थे. उन्होंने 2016 के बेल्जियम ओपन का खिताब अपने नाम किया था.

साथियान के उपर दबाव होगा कि वह अपना प्रदर्शन सुधारें. 39वीं रैंक के इस खिलाड़ी के हालांकि चुनौती कड़ी होगी. कॉमनवेल्थ गेम्स में साथियाने ने अचंत शतर के साथ पुरुष डबल्स में सिल्वर और मनिका बत्रा के साथ मिक्स्ड डबल्स में ब्रॉन्ज मेडल हासिल किया था. इस बार उनके सामने चीन के खिलाड़ियों की टॉप चुनौती होगी. वह सिंगल्स और डबल्स दोनों कैटेगरी में चुनौती पेश करेंगे.

सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने 2017 में अलटीमेट टेबल टेनिस लीग में वर्ल्ड नंबर आठ वॉन्ग चुन टिंग को मात दी थी. इस लीग में वह अकेले भारतीय अपराजित पैडलर रहे थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi