S M L

Asian games 2018 : स्वप्ना, अरपिंदर ने रचा इतिहास, एथलेटिक्स में भारत का स्वर्णिम अभियान जारी

स्वप्ना बर्मन ने अपने जज्बे का बेजोड़ नमूना पेश करके गोल्ड मेडल जीता, अरपिंदर सिंह ने अपेक्षानुरूप प्रदर्शन करके सोने का तमगा हासिल किया, दुती चंद ने अपना अच्छा प्रदर्शन जारी रखते हुए सिल्वर जीता

Updated On: Aug 29, 2018 09:45 PM IST

FP Staff

0
Asian games 2018 : स्वप्ना, अरपिंदर ने रचा इतिहास, एथलेटिक्स में भारत का स्वर्णिम अभियान जारी

हेप्टाथलीट स्वप्ना बर्मन ने अपने जज्बे का बेजोड़ नमूना पेश करके गोल्ड मेडल जीता, तिहरी कूद एथलीट अरपिंदर सिंह ने अपेक्षानुरूप प्रदर्शन करके सोने का तमगा हासिल किया, जबकि फर्राटा धाविका दुती चंद ने अपना अच्छा प्रदर्शन जारी रखा जिससे 18वें एशियन गेम्स में ट्रैक एवं फील्ड में भारत ने अपना पदक बटोरो अभियान जारी रखा.

टेबल टेनिस में भी हैरतअंगेज परिणाम देखने को मिला. अनुभवी अचंत शरत कमल और युवा स्टार मनिका बत्रा ने मिक्स्ड डबल्स में भारत को पहली बार ब्रॉन्ज मेडल के रूप में पदक दिलाया. इन शानदार परिणामों से भारत अपने पिछले प्रदर्शनों में सुधार की तरफ बढ़ रहा है. उसके नाम पर अब 11 गोल्ड, 20 सिल्वर और 23  ब्रॉन्ज सहित 54  मेडल दर्ज हैं.

एथलेटिक्‍स: भारत के लिए खुशखबरी आ रही है. भारत ने एशियन गेम्‍स के 11वें दिन अपना 11 गोल्‍ड मेडल जीत लिया है. अरपिंदर के बाद स्‍वप्‍ना बर्मन ने भारत को 11वां मेडल दिला दिया है. स्‍वप्‍ना ने गोल्‍ड जीतने ही  इतिहास रच दिया है. एशियन गेम्‍स में हेप्‍टाथलन में भारत का यह पहला मेडल है. स्‍वप्‍ना ने 800 मीटर की रेस को 2.21.13 में करके 808 अंक हासिल किए और सात अलग-अलग इवेंट में कुल 6026 अंकों के साथ के साथ गोल्‍ड पर कब्‍जा जमा लिया. ट्रिपल जंप की आखिरी कोशिश में अरपिंदर जंप नहीं कर पाए, लेकिन 16.77 के बेहतरीन प्रदर्शन के दम पर उन्‍होंने भारत को इंडोनेशिया में 10वां गोल्‍ड मेडल दिला दिया है. छह में से अरपिंदर सिर्फ  तीन कोशिश में ही सही जम्‍प कर पाए. 

दुती चंद ने वीमंस 200 मीटर में 23.20 सेकेंड का समय लेकर भारत को एक और सिल्‍वर मेडल दिला दिया. वहीं बहरीन की ओडीओंग 22.96 सेकेंड के साथ गोल्‍ड मेडल पर कब्‍जा जमाया. वीमंस 20 किलोमीटर वॉक में खुशबीर कौर 1.35:24 की टाइमिंग के साथ  चौथे नंबर पर रहीं. 800 मीटर में भारत को गोल्‍ड दिलाने वाले मंजीत सिंह ने 1500 मीटर के क्‍वालिफिकेशन में 3.50.59 का समय लेकर अपनी हीट में शीर्ष करते हुए फाइनल के लिए क्‍वालिफाई कर लिया. दूसरी हीट में 3.46.50 के साथ जिनसन जॉनसन ने भी मैंस 1500 मीटर के लिए क्‍वालिफाई कर लिया है.मैंस 4 गुणा 400 मीटर रिले में भारतीय टीम ने 3.06.45 का समय लेकर फाइनल के लिए क्‍वालिफाइ कर लिया है .

टेबल टेनिस: शरत कमल और मनिका बत्रा की जोड़ी को चीन की वांग और सुन की जोड़ी ने 11-6, 11-5, 13-11, 11-4, 11-8 से हराकर फाइनल की रेस की बाहर कर दिया है और इसी के साथ भारत की इस जोड़ी को यहां से ब्रॉन्‍ज मेडल से ही संतोष करना पड़ा. एशियन गेम्‍स में टेबल टेनिस में भारत के लिए यह मेडल भी काफी अहम है. भारतीय जोड़ी का यह ब्रॉन्‍ज मेडल भारत का एशियन गेम्‍स के इतिहास में  टेबल टेनिस का दूसरा मेडल है. इससे पहले इस एशियाड में भारत की मैंस टीम एशियन गेम्‍स के इतिहास में टेबल टेनिस का भारत का पहला मेडल जीता था.

बॉक्सिंग: मैंस 49 किग्रा के क्‍वार्टर फाइनल में भारत के अमित ने कोरिया के जेंग योंग को 5-0 से  और 75 किग्रा भार्ग वर्ग में विकास कृष्‍ण ने चीन के टओहेता  3-2 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाने के साथ ही बॉक्सिंग में भारत के दो मेडल पक्‍के कर दिए हैं. वीमंस 51 किग्रा में सरजूबाला को चाइनीज मुक्‍केबाज चेंग युंग के हाथों 5-0 से मात झेलनी पड़ी. मैंस 64 किग्रा के क्‍वार्टर फाइनल मुकाबले में  धीरज को मंगोलियन खिलाड़ी के हाथों  0-5 से शिकस्‍त झेलनी पड़ी.

जूडो: भारत के विजय कुमार यादव 60 किलोग्राम की कैेटगरी में उज्बेकिस्तान  विरोधी के सामने 0-10 से हारकर मेडल की रेस से बाहर हो गए हैं.

सेपकटकरा:  भारत की वीमंस टीम ग्रुप बी में पहले मलेशिया के हाथों हारने के बाद वियतनम से भी 2-0 से हार गई है.

साइकलिंग: टेंपो रेस में भारत की मनोरमा देवी -40 अंक के साथ आखिरी से दूसरे स्थान पर रहीं. मंजीत सिंह साइकलिंग में पुरुषों की 4000 मीटर के क्‍वालिफिकेशन में 4:43.714 समय के साथ 12वें स्‍थान पर रहे और वह न तो गोल्‍ड मेडल के लिए क्‍वालिफाई कर पाए और न ही ब्रॉन्‍ज मेडल के लिए.

कुराश: वीमंस -63 किग्रा भाग वर्ग के राउंड 32 में भारत की बीजू को  ईरान की बजर कोलीवंद के हाथों 0-3 से शिकस्‍त झेलनी पड़ी.

हैंडबॉल:  मैंस मेन राउंड में भारत ने मेजबान इंडोनेशिया को 37-23 के अंतर से हरा दिया. भारतीय टीम पूरे मुकाबले में ही हावी रही. पहले हाफ तक भारत ने 16-13 से बढ़त बना रखी थी. इस अंतर को कम करना मेजबान के लिए आसान था, लेकिन दूसरे हाफ में भारत ने उन्‍हें अंतर कम करने का कोई नहीं दिया और मेजबान पर दबाव बढ़ाते हुए दूसरे हाफ में 21-10 का स्‍कोर किया और कुल 37-23 के मुकाबला भारत ने अपने नाम कर लिया.

स्‍क्‍वॉश: भारतीय वीमंस टीम ने पूल बी के मैच में चीन को 3-0 से हराकर सेमीफाइनल के लिए अपनी मजबूत दावेदारी पेश कर दी है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi