S M L

अमेरिकी ग्रांप्री : हैमिल्टन बने चैंपियन, एफ-1 विश्व खिताब जीतने से एक कदम दूर

इसके लिए हैमिल्टन को मेक्सिको में होनी वाले रेस में पांचवां स्थान हासिल करने की जरूरत

Updated On: Nov 08, 2017 03:09 PM IST

FP Staff

0
अमेरिकी ग्रांप्री : हैमिल्टन बने चैंपियन,  एफ-1 विश्व खिताब जीतने से एक कदम दूर

फरारी के रेसर सेबेस्टियन वेटल को पछाड़ते हुए मर्सिडीज के रेसर लुइस हैमिल्टन ने अमेरिकी ग्रांप्री खिताब पर अपना कब्जा जमाया. हैमिल्टन ने इस रेस को 33 मिनट और 50.991 सेकेंड में पूरा किया, वहीं सेबेस्टियन केवल 10 सेकेंड से पीछे रह गए. वेटल की टीम के साथी रेसर किमी राइकनन ने इस रेस में तीसरा स्थान हासिल किया.

जीत के बाद 32 वर्षीय हैमिल्टन ने कहा, मैं टीम को बधाई देना चाहता हूं. हर किसी ने बहुत कड़ी मेहनत की है. फरारी जैसी टीम से भिड़ना मुश्किल है. जीत का अहसास बहुत अच्छा है और मुझे लगता है कि हर किसी को भी ऐसा ही एहसास हो रहा होगा. हैमिल्टन अगर मेक्सिको में होनी वाले रेस में पांचवा स्थान भी हासिल करते हैं, तो वह इस साल एफ-1 चैंपियनशिप का खिताब जीत जाएंगे.

फॉर्मूला-1 चैंपियनशिप के लीडरबोर्ड में शीर्ष पर काबिज मर्सिडीज के रेसर लेविस  हैमिल्टन ने अमेरिकी ग्रांप्री की क्वालीफाइंग रेस में पोल पोजीशन हासिल की थी.

हैमिल्टन ने अपने चिर प्रतिद्वंद्वी और फरारी के रेसर सेबेस्टियन वेटल को 0.239 सेकेंड से पछाड़ते हुए 33.108 सेकेंड का समय लेकर पोल पोजीशन हासिल की थी.अपने करियर में अब तक हैमिल्टन ने 72वीं बार किसी रेस में पोल पोजीशन हासिल की है.

हैमिल्टन की टीम के साथी खिलाड़ी वाल्टेरी बोटास ने तीसरा और रेड बुल के रेसर डेनियर रिकियाडरे ने चौथा स्थान प्राप्त किया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi