S M L

England Open Badminton: सायना और सिंधु नहीं, इस खिलाड़ी को खिताब का हकदार मानते हैं दिग्‍गज फ्रॉस्ट

हालांकि उन्‍होंने कहा कि भारत को सायना नेहवाल, पीवी सिंधु, पारूपल्ली कश्यप और किदांबी श्रीकांत जैसे खिलाड़ी तैयार करने पर गर्व होना चाहिए

Updated On: Feb 17, 2019 04:29 PM IST

Bhasha

0
England Open Badminton: सायना और सिंधु नहीं, इस खिलाड़ी को खिताब का हकदार मानते हैं दिग्‍गज फ्रॉस्ट

अगले माह ऑल इंग्‍लैंड चैंपियनशिप शुरू होने वाले हैं और भारत को अपनी दोनों ओलिंपिक मेडलिस्‍ट पीवी सिंधु और सायना नेहवाल से उम्‍मीद है कि वे भारत के 18 साल के सूखे को खत्‍म करेंगी. हालांकि चार बार के ऑल इंग्‍लैंड चैंपियन मॉर्टन फ्रॉस्ट का मानना है कि महिला वर्ग में खिताब की प्रबल दावेदार सिंधु, सायना या फिर ताइ जू यिंग नहीं बल्कि जापान की अकाने यामागुची हैं. फ्रास्ट का मानना है कि कोई भी स्पष्ट रूप से प्रबल दावेदार नहीं है, लेकिन वह टूर्नामेंट जीतने के लिए जापान की इस युवा खिलाड़ी का समर्थन करते हैं.

फ्रॉस्ट  का मानना है कि भारत को सायना नेहवाल, पीवी सिंधु, पारूपल्ली कश्यप और किदांबी श्रीकांत जैसे खिलाड़ी तैयार करने पर गर्व होना चाहिए. उन्होंने कहा कि भारत ने पुरुष सिंगल्‍स में बड़ी उपलब्धि कश्यप के जरिए हासिल की. वह पहला खिलाड़ी था जिसने अपनी क्षमताओं पर ध्यान दिया. महिला सिंगल्‍स  में सायना सामने आई और अच्छी आदर्श बनी और इसका पिछले 10 साल में जो हुआ उस पर प्रभाव रहा. प्रकाश पादुकोण बैडमिंटन अकादमी और ओलिंपिक गोल्ड क्वेस्ट के साथ 90 दिनों के कोचिंग कार्यक्रम के तहत फ्रॉस्ट प्रतिभा खोज के इरादे से गुवाहाटी में हुए सीनियर राष्टूीय चैंपियनशिप में आए थे और उन्होंने भविष्य की खिलाड़ी के रूप में असम की अस्मिता चालिहा को चुना.

उन्होंने कहा कि मैं यह जरूर कहना चाहूंगा कि मैं अस्मिता से काफी प्रभावित हूं. मुझे लगता है कि उसमें इतनी प्रतिभा है कि आप उसे अंतरराष्ट्रीय बैडमिंटन खेलने के लिए तैयार कर सकते हैं. मैं बड़े टूर्नामेंटों की बात नहीं कर रहा. अनुभव हासिल करने के लिए छोटे स्तर के अंतराष्‍ट्रीय  टूर्नामेंट. इससे उसे अनुभव हासिल करने और प्रगति करने में मदद मिलेगी. 19 साल की अस्मिता को सीनियर राष्टूीय चैंपियनशिप में सिंधु को कड़ी चुनौती देने के बावजूद सेमीफाइनल में 10-21, 20-22 से हार का सामना करना पड़ा था.

जरूरत के समय उम्‍मीदों के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाती ताई

ताइ जू यिंग

ताइ जू यिंग

फ्रॉस्ट ने संवाददाताओं से कहा कि महिला एकल में भविष्यवाणी करना संभव नहीं है, कुछ भी हो सकता है. पूरी ईमानदारी के साथ आपको स्वीकार करना होगा कि ताइ जू यिंग जरूरत के समय उम्मीदों के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाई. मैं उसके खेल का प्रशंसक हूं. जब वह इतना खूबसूरत खेल दिखाती है तो आपकी आंखों में आंसू आ जाते हैं. लेकिन उसने कोई बड़ा खिताब नहीं जीता है. फ्रॉस्ट ने कहा कि आपके पास यामागुची जैसी खिलाड़ी है. वह अपने दिन किसी भी खिलाड़ी को हरा सकती है. अगर आप ऑल इंग्लैंड को देखो तो वहां के हालात काफी धीमे हैं, आपको काफी कड़ी मेहनत करनी होती है. यह निश्चित तौर पर यामागुची जैसी खिलाड़ी की शैली के पक्ष में है.

मोमोता और चेन लोंगे बना सकते हैं अंतिम चार में जगह

पुरुष सिंगल्‍स के लिए फ्रास्ट ने केंतो मोमोता और चेन लोंग को अंतिम चार में जगह बनाने का दावेदार बताया. डेनमार्क के 60 साल केफ्रॉस्ट ने कहा कि कुछ खिलाड़ी अन्य की तुलना में प्रबल दावेदार होते हैं. केंतो मोमोता उनमें से एक है, वह लगातार अच्छा खेल रहा है, अगर वह सेमीफाइनल में नहीं पहुंचेगे तो मुझे हैरानी होगी. उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि चेन लोंग सेमीफाइनल में जगह बनाएगे. विक्टर एक्सेलसेन अपने खेल में सुधार कर पाए या नहीं इस पर सवालिया निशान है. फिलहाल वह इतना अच्छा नहीं खेल रहे है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi