S M L

हम भारत के लोग... हिमा दास के गोल्ड मेडल में भी जाति खोजना चाहते हैं!

देश को एथलेटिक्स में पहली बार गोल्ड मेडल दिलाने वाली हिमा दास के जीतते ही गूगल पर उनकी जाति खोजने में जुट गए भारत के लोग

Updated On: Jul 17, 2018 12:22 PM IST

FP Staff

0
हम भारत के लोग...  हिमा दास के गोल्ड मेडल में भी जाति खोजना चाहते हैं!

किसी भी देश की सांस्कृतिक विविधता की एकता की ताकत उसे कितना मजबूत बना देती है इसकी सबसे बड़ी मिसाल हाल ही में फीफा वर्ल्ड कप में फ्रांस की जीत के तौर पर देखने को मिली. तमाम अलग-अलग पृष्ठभूमि और नस्ल वाले खिलाड़ियों ने एकजुट होकर दुनिया को जीत लिया.

वहीं दूसरी ओर इस हफ्ते खेल की दुनिया से ही जुड़ी एक ऐसी घटना हुई जिसमें भारत के लोगों ने अपनी उस मानसिकता को जाहिर  किया जो किसी भी समाज को जन्म के आधार पर जाति में बांट देती है.

दरअसल यह मौका था एथेलिक्स में पहली बार वर्ल्ड लेवल पर भारत को गोल्ड मेडल दिलाने वाली एथलीट हिमा दास की उपलब्धि का. हिमा के इस अचीवमेंट और जीतने के बाद भारतीय तिरंगे को लेकर उनके जुनून को पीएम मोदी तक को भावुक कर दिया लेकिन इस देश मे बहुत लोग ऐसे थे जो उनके मेडल में जाति का एंगल खोजने के लिए इंटरनेट पर उनकी जाति सर्च करने लगे.

 

hima cast

 

गूगल ट्रेंड के मुताबिक उस दिन भारत में हिमा दास की जाति को सबसे अधिक सर्च किया गया.

दरअसल गूगल एक स्वचालित सर्च इंजन है यानि अगर यहां सर्च ऑप्शन में जाकर किसी का नाम टाइप किया जाए तो हो स्वत: ही उस नाम से जुड़ी उस बात को शो कर देता है जिसे सबसे अधिक सर्च किया जा रहा हो.

hima das cast 2

गूगल पर हिमा दास टाइप करने के साथ ही जो पहला ऑप्शन गूगल की ओर से पेश होता था वह ‘ हिमा दास कास्ट’  था यानी हिमा दास के मेडल, उनकी उपलब्धि, उनके इवेंट या उनके प्रदर्शन से ज्यादा उनकी जाति की खोज की गई.

हिमा दास की जाति खोजने वालों की इंटरनेट पर जमकर आलोचना भी की जा रही है.

 

 

यह पहला मौका नहीं है जब भारत के लोगों ने ऐसी छोटी मानसिकता का परिचय दिया हो. दो साल पहले रियो ओलिंपिक में भारत को सिल्वर मेडल दिलाने वाली शटलर पीवी सिंधु के मेडल जीतने के बाद भी गूगल पर उनकी जाति की खोज की गई थी.

CREDIT - PTI

कोई भी देश उतना ही मजबूत होता है जितनी उसके समाज की सोच. अगर भारतीय समाज ऐसी ही बीमार सोच के साथ जीता रहा तो फ्रांस जैसी उपलब्धि को हसिल करना हमेशा नामुमकिन ही रहेगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi