S M L

धोनी ने कई बार मुझे टीम से बाहर होने से बचाया: कोहली

कोहली ने कहा करियर के शुरुआती दौर में धोनी ने उनका साथ दिया और उनकी काबिलियत पर भरोसा जताया.

Updated On: Jan 07, 2017 10:50 PM IST

IANS

0
धोनी ने कई बार मुझे टीम से बाहर होने से बचाया: कोहली

भारतीय क्रिकेट टीम के नए कप्तान विराट कोहली ने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की तरीफ करते हुए शनिवार को कहा कि धोनी ने उन्हें कई बार टीम से बाहर होने से बचाया. धोनी ने बुधवार को सभी को हैरान करते हुए वनडे और टी-20 टीम की कप्तानी से इस्तीफा दे दिया था.

धोनी का इस्तीफा देने के बाद टेस्ट टीम के कप्तान कोहली को टी-20 और वनडे की कप्तानी भी सौंप दी गई.

कोहली ने कहा है कि करियर के शुरुआती दौर में धोनी ने उनका साथ दिया और उनकी काबिलियत पर भरोसा जताया.

बीसीसीआई की ऑफिशियल वेबसाइट पर शनिवार को कोहली के हवाले से कहा गया ‘धोनी ने मुझे शुरुआती दौर में मार्गदर्शन दिया और मुझे कई मौके भी प्रदान किए. धोनी ने मुझे एक खिलाड़ी के तौर पर निखरने के लिए अच्छा खासा समय दिया. कई बार माही ने मुझे टीम से बाहर होने से भी बचाया और इसलिए हमारे बीच एक दूसरे के प्रति सम्मान है.’

कोहली ने कहा ‘जाहिर सी बात है, उनकी कमी पूरी करना मुश्किल है. जब भी आप एम. एस. धोनी के बारे में सोचते हैं तो पहला शब्द कप्तान ही जेहन में आता है.’

कोहली ने धोनी को लेकर अपनी रणनीति भी जाहिर की है. कोहली चाहते हैं कि धोनी ऊपरी क्रम में अपनी शैली में बल्लेबाजी करें.

मैं जानता हूं धोनी किस तरह के इंसान हैं: कोहली

भारतीय क्रिकेट टीम के नए कप्तान ने कहा ‘मैं जानता हूं कि वह किस तरह के इंसान हैं. अगर मैं उनसे कहूंगा कि आप कहां बल्लेबाजी करना चाहते हैं तो वो कहेंगे की जहां तुम मुझे बल्लेबाजी पर भेजना चाहते हो, लेकिन मैं उन्हें ऊपरी क्रम में बल्लेबाजी करते हुए देखना चाहता हूं.’

विराट ने कहा ‘मैं चाहता हूं कि वह अपने खेल का आनंद लें. अगर वह ऐसा करते हैं और अपने शुरुआती करियर की तरह बल्लेबाजी करते हैं तो टीम को मजबूती मिलेगी.’

धोनी ने दिसंबर 2014 में टेस्ट से अचानक संन्यास की घोषणा कर दी थी. धोनी के बाद कोहली तभी से टेस्ट टीम की कमान संभाल रहे हैं. विराट कोहली के कप्तान रहते टीम ने लगातार पांच श्रृंखलाएं अपने नाम कीं और दोबारा टेस्ट में शीर्ष दर्जा हासिल किया.

कोहली बोले ‘अतिरिक्त जिम्मेदारी मिलने से मैंने हमेशा सोचा है कि आपके पास किसी भी पल आराम करने का मौका नहीं है.’

विराट ने कहा ‘आईपीएल में भी 60-70 के पार जा कर अपना विकेट खोना आसान था, लेकिन इसके बाद मैंने जब कप्तानी संभाली तो मुझे एहसास हुआ कि मुझे उदाहरण पेश करना है और मुझे अपनी टीम से अच्छा प्रदर्शन करने के लिए कहने से पहले खुद करना है.’

भारत को इंग्लैंड के खिलाफ तीन एकदिवसीय और तीन टी-20 मैचों की श्रृंखला खेलनी है, जिसका पहला एकदिवसीय मैच 15 जनवरी को पुणे में खेला जाएगा. जिसकी कप्तानी विराट कोहली करेंगे और महेंद्र सिंह धोनी विकेट कीपर और बल्लेबाज की भूमिका में मैदान में उतरेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi