live
S M L

आईएसएल 2016: कोलकाता और केरला के बीच खिताबी भिड़ंत

कोलकाता को हरा अपने समर्थकों को गिफ्ट देना चाहेंगे ब्लास्टर्स

Updated On: Dec 18, 2016 10:39 AM IST

IANS

0
आईएसएल 2016: कोलकाता और केरला के बीच खिताबी भिड़ंत

हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) की तीसरे सीजन का खिताबी मुकाबला रविवार को केरला ब्लास्टर्स और पहले सीजन की विजेता एटलेटिको दे कोलकाता के बीच खेला जाएगा. केरल की टीम लगभग 50 हजार समर्थकों के बीच यह फाइनल खेलेगी, ऐसे में कोलकाता के लिए दूसरी बार खिताब जीत पाना आसान नहीं होगा.

इस खिताबी मुकाबले को लेकर केरल के प्रशंसकों में काफी रोमांच है. स्थानीय प्रशंसक अपनी टीम को जीतते देखना चाहते हैं, लेकिन कोलकाता भी खिताब जीतकर इतिहास रचने के अटल इरादे के साथ मैदान पर उतरेगी और इसके लिए उसने कमर कस रखी है.

केरल ने अपने घर में लगातार छह मैच जीते हैं और फाइनल में जाने से पहले वह जानती है कि उसके समर्थक उसके लिए 12वें खिलाड़ी का काम करेंगे. केरल ने इस सीजन में घर में खेले गए आधे मैचों में एक भी गोल नहीं खाया है, जबकि बाकी मैचों में उसके खिलाफ सिर्फ चार गोल हो सके हैं, लेकिन टीम के कोच स्टीव कोपेल का मानना है कि उनकी टीम इस मैच में किसी भी चीज को हल्के में नहीं ले सकती.

कोपेल ने कहा, ‘यहां हमारे लिए माकूल माहौल है, क्योंकि हमारे समर्थक हमारे साथ हैं, लेकिन समर्थक मैच नहीं खेलते, जो भी कल जीतेगा वह तभी जीतेगा जब अच्छा खेलेगा. मुझे पता है कि दोनों टीमें एक ही लक्ष्य लेकर मैदान पर उतरेंगी.’

कोलकाता ने लीग के इतिहास में अपने घर से बाहर चार नॉकआउट मुकाबले खेले हैं, जिनमें से सिर्फ एक में जीत हासिल की है और वह मैच 2014 में मुंबई में खेला गया पहले सीजन का फाइनल मैच था.

पोस्टीगा और मोलिना ने जो कुछ कहा उससे केरल के स्थानीय स्टार सी. के. विनीत पर कोई असर नहीं पड़ता दिखा. बेंगलुरू एफसी की ओर से एशियाई फुटबाल परिसंघ (एएफसी) कप- 2016 का फाइनल खेलने के बाद आईएसएल-3 में उतरे विनीत ने केरल के लिए अब तक बेहद अहम प्रदर्शन किया है.

विनीत इस सीजन में अपनी टीम केरल के लिए कुल पांच गोल कर चुके हैं. अब उनकी टीम फाइनल में पहंच चुकी है और केरल के समर्थकों को ट्रॉफी की आस है. विनीत भी यही मानते हैं और उनका कहना है कि वह इस ट्रॉफी को किसी और को नहीं ले जाने देंगे.

विनीत की ही तरह टीम के गोलकीपर संदीप नंदी भी मानते हैं कि केरल के समर्थकों ने हर स्थिति में अपनी टीम का साथ दिया है और वे ट्रॉफी के हकदार हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi