S M L

जानिए फीफा अंडर17 विश्व के बारे वो बातें जो आप नहीं जानते!

भारत में छह से 28 अक्तूबर तक छह शहरों में खेले जाने वाले फीफा अंडर-17 विश्व कप खेला जाएगा

Riya Kasana Riya Kasana Updated On: Sep 30, 2017 02:22 PM IST

0
जानिए फीफा अंडर17 विश्व के बारे वो बातें जो आप नहीं जानते!

भारत में छह से 28 अक्तूबर तक छह शहरों में खेले जाने वाले फीफा अंडर-17 विश्व कप खेला जाएगा. भारत पांचवीं बार किसी फीफा अंडर17 विश्वकप की मेजबानी कर रहा है. उम्मीद की जा रही हैं इससे देश में फुटबॉल की लोकप्रियता बढ़ेगी बल्कि फुटबॉल का स्तर भी बढ़ेगा. आज जानिए अंडर17 फुटबॉल विश्वकप से जुड़ी यह रोचक बातें

24 टीमें होंगी टूर्नामेंट का हिस्सा

फीफा अंडर-17 विश्व में 1985 से 2005 तक 16 टीमें हिस्सा लेती थी जिसे चार वर्गों में बांटा जाता था लेकिन 2007 में टीमों की संख्या बढ़ाकर 24 कर दी गई. अंडर-17 विश्व कप के प्रथम संस्करण को छोड़ कर 1987, 1989 और 2007 में सात-सात टीमें ने पहली बार इसमें भाग लिया. अमेरिका और ब्राजील ने अब तक सबसे ज्यादा 15 बार अंडर-17 विश्व कप में भाग लिया हैं. दोनों का यह 16वां विश्व कप है. भारत अंडर-17 विश्व कप में जगह बनाने वाली एशिया की 18वीं टीम है. भारत में होने वाले इस टूर्नामेंट में तीन टीमें पहली बार भाग ले रही जिसमें नाइजर, न्यू कालेडोनिया के अलावा मेजबान भारत भी शामिल है.

u17

पांचवीं बार भारत में हो रहा है आयोजन

एशिया में विश्व कप का आयोजन किसी भी अन्य महाद्वीप से अधिक बार हुआ है। यह (भारत में) पांचवीं बार है जब एशिया में इसका आयोजन हो रहा है। इससे पहले चीन (1985), जापान (1993), दक्षिण कोरिया (2007) और संयुक्त अरब अमीरात (2013) में इसका आयोजन हुआ है।

नाइजीरिया ने जीता सबसे ज्यादा बार यह खिताब

फीफा अंडर-17 विश्व कप में सबसे सफल टीम नाईजीरिया है जिसने इस खिताब को पांच बार (1985, 1993, 2007, 2013, 2015) अपने नाम किया है. वह तीन बार (1987, 2001, 2009) इसके उपविजेता भी रहे हैं. हालांकि भारत में होने वाले विश्व कप के लिए उनकी टीम क्वालिफाई नहीं कर पाई. ब्राजील ने इस विश्व कप को तीन बार (1997, 1999, 2003) जीता है जबकि घाना (1991, 1995) और मैक्सिको (2005, 2011) दो-दो बार विजेता रहे हैं. सोवियत संघ (1987), सऊदी अरब (1989), फ्रांस (2001) और स्विट्जरलैंड (2009) ने भी एक-एक बार यह टूर्नामेंट जीता. घाना इस टूर्नामेंट के फाइनल में लगातार चार बार पहुंचा (1991,1993, 1995 और 1997) जिसमें से उसे दो में जीत (1991 और 1995) मिली. मैक्सिको और उरुग्वे के बीच खेले गये अंडर-17 विश्व कप फाइनल को मैदान में सबसे ज्यादा 98,943 दर्शकों ने देखा. यूएई (2013) में खेले गये अंडर-17 विश्व कप में सबसे ज्यादा गोल किये गये। इस दौरान 52 मैचों में 172 गोल किए गए.

कई खिलाडियों के लिए खास रहा है अंडर17 विश्वकप

फीफा अंडर-17 विश्व कप में भाग लेने वाले 12 ऐसे खिलाड़ी हैं जिसने फीफा विश्व कप फाइनल में भी टीम का प्रतिनिधित्व किया है. ब्राजील के रोनाल्डिनयो इकलौते ऐसे खिलाड़ी है जिसने फीफा अंडर-17 विश्व कप (1997) और फीफा विश्व कप (2002) जीता है. अंडर-17 विश्व कप और फीफा विश्व कप में खेलने वाले खिलाड़ियों में तीन ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने विश्व कप फाइनल में गोल किया है. इन खिलाड़ियों में मारियो गोट्जे (2014), ईमानुएल पेटिट (1998) और आंद्रेस इनिएस्ता (2010) शामिल है. अंडर-17 विश्व कप और विश्व कप खेलने वाले खिलाड़ियों में सिर्फ इकर कासिलास (स्पेन) ऐसे खिलाड़ी है जिनकी कप्तानी में टीम ने विश्व खिताब (2010) जीता है.

.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
International Yoga Day 2018 पर सुनिए Natasha Noel की कविता, I Breathe

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi