S M L

शरणार्थी फुटबॉलर हकीम अल-अरेबी को थाईलैंड ने रिहा किया

थाईलैंड ने बहरीन के प्रत्यर्पण की मांग वापस लेने के बाद यह फैसला किया

Updated On: Feb 11, 2019 05:27 PM IST

FP Staff

0
शरणार्थी फुटबॉलर हकीम अल-अरेबी को थाईलैंड ने रिहा किया

ऑस्ट्रेलिया में शरणार्थी का दर्जा हासिल करने वाले फुटबॉलर हकीम अल-अरेबी को थाईलैंड ने रिहा कर दिया है. थाईलैंड ने बहरीन के प्रत्यर्पण की मांग वापस लेने के बाद यह फैसला किया. बहरीन की राष्ट्रीय युवा टीम के सदस्य रहे अल-अरेबी 2014 में ऑस्ट्रेलिया चले गए थे और उन्होंने वहां राजनीतिक शरण मांगी थी जो उन्हें दे दी गई थी.

मालूम हो कि अल-अरेबी जब अपना हनीमून मनाने के लिए थाईलैंड गए थे तब उन्हें नवंबर में बैंकॉक एयरपोर्ट पर बहरीन के अनुरोध पर रोका गया था. उन्हें तब से हिरासत में रखा गया और थाईलैंड की अदालत उन्हें उनके खाड़ी देश भेजने के बारे में विचार कर रही थी. दरअसल बहरीन की सरकार ने अल-अरेबी के प्रत्यर्पण की मांग की थी जिसे बाद में अस्वीकार कर दिया गया.

हकीम अल-अरेबी को बहरीन में एक पुलिस स्टेशन में उपद्रव मचाने के आरोप में दोषी ठहराया गया था, लेकिन उनका कहना था कि वह कथित अपराध के समय एक मैच के लिए देश से बाहर थे. खिलाड़ी ने कहा था कि बहरीन के शासक परिवार के सदस्य और एएफसी के अध्यक्ष शेख सलमान बिन अब्राहिम अल खलीफा की आलोचना पर उन्हें निशाना बनाया जा रहा है.

ये भी पढ़ें- डीडीसीए के चीफ सेलेक्टर अमित भंडारी पर अज्ञात लोगों ने किया हमला

थाईलैंड को जब पता चला कि बहरीन प्रत्यर्पण की मांग को वापस ले रहा है ऐसे में उन्हें वहां रोके रखने का कोई मतलब नहीं था. ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मोरिसन ने भी थाईलैंड से कई कहा था कि वे हिरासत में लिए गए अल-अरेबी के बहरीन प्रत्यर्पण को रोके और उन्हें रिहा करे. ऑस्ट्रेलिया को डर था कि हकीम अल-अरेबी को अपने वतन लौटने पर यातना का शिकार होना पड़ सकता है और यहां तक कि उनकी मौत की आशंका भी जताई गई थी.

ये भी पढ़ें- अपनी गेंद पर कैच पकड़ने के दौरान अशोक डिंडा के सिर में लगी चोट

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi