S M L

प्रफुल्ल पटेल को झटका, सुप्रीम कोर्ट का हाइकोर्ट के फैसले पर स्टे देने से इनकार

दिल्ली हाइकोर्ट ने फुटबॉल संघ के अध्यक्ष प्रफुल्ल पटेल के चुनाव रद्द कर दिया है

Updated On: Nov 10, 2017 09:48 PM IST

Bhasha

0
प्रफुल्ल पटेल को झटका, सुप्रीम कोर्ट का हाइकोर्ट के फैसले पर स्टे देने से इनकार

ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन के अध्यक्ष और एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल को झटका लगा है. सुप्रीम कोर्ट ने  ने कहा कि एआईएफएफ के संविधान में सुधार के दिल्ली उच्च न्यायालय के आदेश पर अमल के लिये वह पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त एस वाय कुरैशी के साथ किसी अनुभवी फुटबालर को लोकपाल बना सकता है. देश की सबसे बड़ी अदालत ने दिल्ली हाइकोर्ट के आदेश पर स्टे ऑर्डर देने से माना कर दिया है.

मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा और न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर तथा डी वाय चंद्रचूड़ की पीठ ने यह भी कहा कि एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल के महासंघ के अध्यक्ष पद पर चुनाव को दरकिनार करने वाले उच्च न्यायालय के फैसले के खिलाफ एआईएफएफ की याचिका पर वह फैसला सुनायेंगे .

पीठ ने कहा कि वे बीसीसीआई को अपना संविधान बनाने के लिये पहले ही कह चुके हैं और एआईएफएफ को भी दिल्ली उच्च न्यायालय के फैसले के अनुसार संविधान में सुधार के लिये कहा जा सकता है .पीठ ने कहा ,‘ हम पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त के साथ किसी मशहूर फुटबालर को लोकपाल बना सकते हैं .’

प्रफुल्ल पटेल ने 2008 में कार्यकारी अध्यक्ष के तौर पर कार्यभार संभाला था. उन्हें यह जिम्मेदारी इसलिए दी गई क्योंकि उस वक्त अध्यक्ष प्रियरंजन दास मुंशी को दिल का दौरा पड़ा था. इसके बाद 2009 से उन्होंने पूरी तरह से अध्यक्ष के तौर पर कमान संभाल ली और फिर 2012 में दोबारा उन्होंने यह पद भार संभाला था. उनके नेतृत्व में भारत ने हाल ही में फीफा अंडर -17 विश्व कप की सफलतापूर्वक मेजबानी की और सर्वोच्च उपस्थिति का रिकॉर्ड बनाया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi