S M L

अगर स्पेन से अलग हुआ कैटालोनिया तो बार्सिलोना से टूट जाएगा मेसी का रिश्ता

स्पेन के अलग होने के लिए केटालोनिया में चल रहा है राजनीतिक आंदोलन, बार्सिलोना भी कैटालोनिया का शहर है

Updated On: Jan 06, 2018 09:53 AM IST

FP Staff

0
अगर स्पेन से अलग हुआ कैटालोनिया तो बार्सिलोना से टूट जाएगा मेसी का रिश्ता

कई सालों से स्पेन का फुटबॉल क्लब बार्सिलोना और स्टार फुटबॉलर लियोनेल मेसी एक दूसरे की पहचान बने हुए हैं. लेकिन ऐसे हालात पैदा हो गए हैं कि मेसी बार्सिलोना से नाता तोड़ सकते हैं. वैसे तो यह मसला राजनीतिक है लेकिन इसका असर फुटबॉल पर भी पड़ने वाला है.

मेसी ने यह सुनिश्चित कर लिया है कि अगर कैटालोनिया प्रांत से स्पेन से अलग होने के मसले पर बार्सिलोना फुटबाल क्लब यूरोप के टॉप लीग में नहीं खेलती है तो वह टीम का साथ छोड़ सकते है.

स्पेन की मैड्रिड से प्रकाशित अखबार इल मुंडो में छपी खबर के मुताबिक मेसी ने टीम के साथ नवंबर में जिस करार पर दस्तखत किए थे उसमें यह लिखा था कि वह टीम के साथ तभी तब बने रहेंगे जब तक टीम ‘टॉप यूरोपीय लीग का हिस्सा’ है.

बार्सिलोना से जुडे एक सूत्र ने बताया कि, ‘ गोपनीयता के कारण क्लब खिलाड़ियों की अनुबंध शर्तों के बारे में बात नहीं करती.’ कैटालोनिया के लोगों ने गत एक अक्टूबर को हुए जनमत संग्रह में स्पेन से आजादी के पक्ष में मतदान किया था.

स्पेन के नागरिक और फुटबाल अधिकारियों ने बार-बार यह कहा है कि अगर कैटेलोनिया प्रांत स्पेन से अलग हुआ तो उस क्षेत्र की टीमें स्पेनिश लीग में नहीं खेल पाएंगी.

अखबार के मुताबिक अगर कैटालोनिया स्पेन से अलग होता है और उसे किसी अन्य शीर्ष लीग (फ्रांस, ईटली, जर्मनी, इंग्लैंड) में जगह नहीं मिलती है तो मेसी टीम का साथ छोड़ सकते हैं और ऐसी स्थिति में उन्हें टीम को 700 मिलियन यूरो (843 मिलियन डालर) की रकम भी नहीं देनी होगी

अखबार ने कहा कि ला लीगा से हटने के बाद बार्सिलोना के दूसरे खिलाड़ियों पर भी ऐसा ही असर पड़ेगा. इसके लिये यह जरूरी नहीं उनके अनुंबध में कैटालोनिया मामले का जिक्र हो, क्योंकि उन्होंने अनुबंध पर सहमति अलग परिस्थितियों में जताई थी.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi