S M L

आईएसएल-2017 : कमजोर दिल्ली डायनामोज के सामने मजबूत एफसी गोवा की चुनौती

लगातार तीन हार झेल चुकी है दिल्ली डायनामोज की टीम

Updated On: Dec 15, 2017 06:56 PM IST

FP Staff

0
आईएसएल-2017 : कमजोर दिल्ली डायनामोज के सामने मजबूत एफसी गोवा की चुनौती

लगातार तीन हार झेलने वाली दिल्ली डायनामोज की टीम को इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) में शनिवार को अपने घर जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में भी कड़ी चुनौती का सामना करना पड़ सकता है. दिल्ली डायनामोज को बेहतरीन फॉर्म में चल रही एफसी गोवा का सामना करना है. और यह मैच किसी भी तरह से मेजबानों के लिए आसान नहीं होगा.

डायनामोज को हालांकि जीत के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा. चौथे सीजन में गोवा की फॉर्म शानदार रही है. फिर एफसी गोवा पिछले दो मैचों में जीत के बाद उत्साह से लबरेज है. अगर उसकी टीम अपने इस अभियान को जारी रखती है तो वह अंक तालिका में पहला स्थान हासिल कर लेगी. गोवा ने अब तक जितने भी मैच जीते हैं हर मैच में तीन गोल किए हैं. गोवा के हिस्से सिर्फ एक हार है.

गोवा के पास फेरान कोरोमिनास और मैनुएल लालजारोटे के रूप में दो बेहतरीन खिलाड़ी हैं. कोरोमिनास ने इस सत्र में अभी तक सात गोल किए हैं और वह सबसे ज्यादा गोल करने वाले खिलाड़ी हैं तो मैनुएल के नाम चार गोल हैं. उनकी टीम ने अभी तक 13 गोल किए हैं जिसमें से 11 गोल इन दो खिलाड़ियों के ही हैं. स्पेन के रहने वाले और गोवा के कोच सर्जियो लोबेरा के लिए चिंता का विषय एक ही है और वो है क्लीन शीट हासिल करना. उन्होंने चार मैचों में एक भी क्लीन शीट हासिल नहीं की है.

लेकिन लोबेरो के प्रतिद्वंद्वी कोच मिगुएल एंजेल पुर्तगाल के सामने और भी कड़ी चुनौतियां हैं. चार मैच में उनकी टीम के केवल तीन अंक हैं और दस टीमों के बीच सातवें स्थान पर है. डायनामोज की टीम की सबसे बड़ी परेशानी उसके खिलाड़ियों की गोल करने में नाकामी रही है, जबकि मैदान पर अधिकतर उसका दबदबा बना रहता है.

एंजेल पुर्तगाल ने कहा कि उनकी टीम मैदान पर अपने दबदबे को गोल में बदलने की कोशिशों में लगी है. उन्होंने कहा, ‘अभी तक खेले गए मैचों में हमने गेंद अपने पास ज्यादा रखी है और सभी कुछ अच्छा किया है, लेकिन हम जानते हैं कि हम स्कोर नहीं कर पा रहे हैं और टीम इस पर काम कर रही है.’

यह मैच दोनों टीमों के लिए परीक्षा होगा. एफसी गोवा ने गोल पर नजर रखते हुए खतरनाक खेल खेला है, वहीं डायनामोज को अपने रवैये में सुधार करने की जरूरत है. उनका गोल अंतर लीग में सबसे कम है. इस मैच में जीत उनके लिए चमत्कार कर सकती है और अंकतालिका में सातवें स्थान पर ले जा सकती है.

 

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi