S M L

आईएसएल 2018-19 : इस सीजन में पहली बार घर में मुंबई सिटी एफसी से भिड़ेगा एफसी गोवा

बीते तीन मुकाबलों में गोवा को मुंबई से हार मिली है और कोच लोबोरा इस रिकॉर्ड को हर हाल में सुधारने को लेकर उत्सुक होंगे

Updated On: Oct 23, 2018 07:31 PM IST

FP Staff

0
आईएसएल 2018-19 : इस सीजन में पहली बार घर में मुंबई सिटी एफसी से भिड़ेगा एफसी गोवा
Loading...

एफसी गोवा ने इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन में शानदार शुरुआत की है. इस टीम ने अब तक खेले गए दो मैचों में से एक में जीत हासिल की है और ड्रॉ खेला है. अब बुधवार को उसका सामना इस सीजन में पहली बार अपने घर में मुंबई सिटी एफसी से होगा और गोवा की टीम इस लय को हर हाल में बरकरार रखना चाहेगा.

गोवा के खाते में चार अंक हैं. कोच सर्गियो लोबेरा की टीम ने अपने पहले मैच में नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी के साथ उसके घर में 2-2 से ड्रॉ खेला था और फिर चेन्नई में मौजूदा चैंपियन चेन्नइयन एफसी को 3-1 से हराया था. मुंबई के खिलाफ हालांकि गोवा का रिकॉर्ड अच्छा नहीं है. बीते तीन मुकाबलों में गोवा को मुंबई से हार मिली है और लोबोरा इस रिकॉर्ड को हर हाल में सुधारने को लेकर उत्सुक होंगे.

कमजोर नहीं पड़ा है गोवा का अटैक 

ऐसे में जबकि गोवा के सबसे शानादर प्लेमेकर मैनुएल लेंजारोते एटीके का रुख कर चुके हैं, गोवा का अटैक कमजोर पड़ा है, ऐसी कोई बात नजर नहीं आती, क्योंकि यह टीम दो मैचों में पांच गोल कर चुकी है. बीते सीजन में गोल्डन बूट पुरस्कार विजेता फेरान कोरोमिनास ने दो मैचों मे तीन गोल कर दिए हैं और काफी खतरनाक नजर आ रहे हैं.

लोबेरा ने कहा,‘हमने मैच जीतने के लिए हमेशा ही अटैकिंग फुटबॉल खेलने का प्लान बनाया है. हमारे लिए यह सबसे जरूरी चीज है. अगर आप मुझसे पूछेंगे कि अगर हम कम आक्रमण करेंगे और गोल नहीं खाएंगे तो मेरा उत्तर ना में होगा. हमने बीते सीजन में अटैकिंग फुटबॉल खेली थी और इस साल भी इसे जारी रखना चाहेंगे.’

डिफेंस में मौतार्दा फाल के रूप में गोवा को एक बेहतरीन खिलाड़ी मिला है. सेनेगल निवासी खिलाड़ी ने गेंद को अपने पाले में आने से रोके रखा है. चिंगलेनसाना सिंह ने भी अपनी रक्षात्मक काबिलियत में सुधार दिखाया है.

दूसरी ओर, मुंबई सिटी ने अपने अंतिम मैच में एफसी पुणे सिटी को सीजन के पहले महाराष्ट्र डर्बी में 2-0 से हराया था और अब जॉर्ज कोस्टा के खिलाड़ी आत्मविश्वास से भरे हुए होंगे. इस टीम ने अब तक तीन मैच खेले हैं. जमशेदपुर एफसी के खिलाफ उसे हार मिली थी जबकि केरल ब्लास्टर्स से उसने 1-1 से ड्रॉ खेला था.

कोस्टा ने कहा, ‘गोवा की टीम काफी अच्छी है. इसके कोच भी अच्छे हैं. यह समझना आसान है कि वे मैदान में क्या करना चाहते हैं. मैं व्यक्तिगत खिलाड़ियों के बारे में बात नहीं करूंगा, लेकिन हमारे लिए यह मैच काफी कठिन होने वाला है. हम इस टीम का सम्मान करते हैं लेकिन हम भी जानते हैं कि हमें क्या करना है.’

स्ट्राइकर मोदोउ सोउगोउ से कोच खुश

कोस्टा इस बात को लेकर खुश हैं कि सेनेगल के उनके स्ट्राइकर मोदोउ सोउगोउ ने पुणे के खिलाफ मैदान पर रंग दिखाया है. वह इस बात को लेकर भी खुश हैं कि ब्राजीली रफाइल बास्तोस ने शुरुआती मैचों में निराश करने के बाद लय हासिल करने के संकेत दे दिए हैं. शुरुआती मैचों में मुंबई का आक्रमण प्रभावहीन रहा था, क्योंकि बास्तोस काफी संघर्ष कर रहे थे. पुणे के खिलाफ खेलते हुए हालांकि बास्तोस ने आत्मविश्वास हासिल किया है. अर्नाल्ड इसोको भी अच्छा करते दिखाई दे रहे हैं.

 

 

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi