S M L

ISL 2018-19 : एफसी गोवा को हराकर अपनी उम्मीदों को बनाए रखना चाहेगा एटीके

FCG vs ATK : एटीके अभी जिस स्थिति में है, उसमें उसे अपना हर एक मैच जीतते हुए अपने आगे जाने की संभावनाओं को जिंदा रखना होगा

Updated On: Feb 13, 2019 06:35 PM IST

FP Staff

0
ISL 2018-19 : एफसी गोवा को हराकर अपनी उम्मीदों को बनाए रखना चाहेगा एटीके

दो बार का चैंपियन इंडियन सुपर लीग (Indian Super League) के पाचंवें सीजन के प्लेऑफ में पहुंचने के लिए संघर्ष कर रहा है. एटीके ( ATK) अभी जिस स्थिति में है, उसमें उसे अपना हर एक मैच जीतते हुए अपने आगे जाने की संभावनाओं को जिंदा रखना होगा. इस क्रम में गुरुवार को फातोर्दा (गोवा) के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में उसका सामना मेजबान एफसी गोवा ( FC Goa) से होगा.

कोच स्टीव कोपेल की टीम को यह दिमाग में रखकर गोवा से भिड़ना होगा कि इस सीजन में उसने 15 मैचों में इतने ही गोल खाए हैं और उसका डिफेंसिव रिकॉर्ड संयुक्त रूप से सबसे अच्छा रहा है. इस टीम ने हालांकि इस सीजन में सिर्फ 15 गोल किए हैं और यही बात उसके लिए सबसे अधिक चिंता की है. एटीके अभी 21 अंकों के साथ छठे स्थान पर है. उसके आगे जाने की संभावना है, लेकिन इसके लिए उसे एक इकाई के तौर पर खेलते हुए अपने बाकी सभी मैच जीतने होंगे.

ये भी पढ़ें- Irani Cup, Vidarbha vs Rest of India DAY 2 : अक्षय वाडकर ने अर्धशतक लगाकर बनाए रखी विदर्भ की उम्मीद

इस सीजन में दोनों टीमों के बीच जब अंतिम बार भिड़ंत हुई थी तो कोई गोल नहीं हो सका था. अब अगर वही परिणाम फिर सामने आता है तो इससे किसी को फायदा नहीं होगा. पांचवें सीजन में सबसे अधिक गोल करने वाली गोवा की टीम को हर हाल में एटीके के डिफेंस को भेदकर तीन अंक हासिल करने होंगे.

कोपेल ने कहा, ‘आप गोवा टीम को जब देखते हैं तो महसूस करते हैं कि उसके पास बेहतरीन खिलाड़ी हैं और एक बहुत अच्छा कोच भी है, जो इस टीम को एक इकाई में पिरोकर रखता है. लेकिन हमारा काम इससे अलग है. हमें अपने सफर को जारी रखने के लिए जीत हासिल करनी है. अगर हम इस सीजन में इससे पहले यहां आए होते तो ड्रॉ एक अच्छा परिणाम होता, लेकिन अभी हमारे लिए ड्रॉ एक अच्छा परिणाम नहीं होगा. हमें हर हाल में जीतना होगा.’

ये भी पढ़ें- क्या आईपीएल से अपने ही 'कप्तान' की छुट्टी करवाना चाहते हैं शेन वॉर्न!

एटीके को अपने पिछले मैच में एफसी पुणे सिटी  से 2-2 से ड्रॉ खेलना पड़ा था. इस टीम ने अंतिम मिनटों में बराबरी का गोल खाया था. बीते तीन मैचों में इस टीम ने अंतिम पलों में गोल खाए हैं और यह इसके लिए चिंता का सबब है. गोवा को उसके घर में हराने के लिए मैनुएल लेंजारोते और इदु बेदिया की जोड़ी को कमाल करना होगा. यह जोड़ी कोलकाता में जमशेदपुर के खिलाफ काफी घातक साबित हुई थी, लेकिन बीते मैच में यह जोड़ी कोई कमाल नहीं कर सकी. इसके अतिरिक्त लेंजोरोतो अपनी पूर्व टीम के खिलाफ भी अच्छा करने के लिए बेताब होंगे. हालांकि गोवा के कोच सर्गियो लोबेरा मानते हैं कि लेंजारोते से बड़ा खतरा गार्सिया हो सकते हैं.

FC Goa players during the warmup session before the start of the match 69 of the Hero Indian Super League 2018 ( ISL ) between Delhi Dynamos FC and FC Goa held at Jawaharlal Nehru Stadium, New Delhi, India on the 4th February 2019 Photo by: Deepak Malik /SPORTZPICS for ISL

लोबेरा ने कहा, ‘मैं मानता हूं कि हमारा सामना एक महान टीम से होने जा रहा है, लेकिन मैं सिर्फ अपनी खिलाड़ियों के बारे में बात करना चाहता हूं. हमें किसी एक खिलाड़ी को नहीं बल्कि एक टीम को हराना है. इस समय मैं समझता हूं कि इदु गार्सिया एटीके लिए अहम साबित हो सकते हैं.’

बीते सीजन में लोबेरा की टीम ने जमशेदपुर के प्लेऑफ में जाने की उम्मीदों पर पानी फेरा था और इस समय कोपेल जमशेदपुर के कोच थे. अब वह एटीके के कोच हैं और दो बार की चैंपियन टीम उसी दोराहे पर खड़ी है, जहां एक साल पहले जमशेदपुर की टीम खड़ी थी. अब देखने वाली बात यह है कि गोवा को हराकर एटीके इस दोराहे को पार कर पाती है या फिर घर वापसी करती है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi