S M L

ISL2017-18, Final: इतिहास रचने से चूकी बेंगलुरु, चेन्नइयन ने दूसरी बार जीता खिताब

फाइनल में चेन्नइयन ने बेंगलुरु को 3-2 से हराया

Updated On: Mar 17, 2018 10:48 PM IST

FP Staff

0
ISL2017-18, Final: इतिहास रचने से चूकी बेंगलुरु, चेन्नइयन ने दूसरी बार जीता खिताब

पूर्व विजेता चेन्नइयन एफसी ने पहली बार इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) खेल रही  बेंगलुरु की उम्मीदों पर पानी फेरते हुए दूसरी बार आईएसएल का खिताब अपने नाम कर लिया है और चेन्नइयन आईएसएल की दूसरी सबसे सफल टीम भी बन गई है. इससे पहले कोलकाता दो बार आईएसएल का खिताब जीत चुकी है. इससे पहले 2015 में चेन्नइयन ने गोवा को हराकर इस खिताब को नाम किया था.

श्री कांतीवरा स्टेडियम में खेले गए फाइनल मुकाबले में चेन्नइयन एफसी ने मेजबान को 3-2 से मात दी.

बेंगलुरु ने दागा था पहला गोल

पूरे सीजन टॉप पर रहने वाली बेंगलुरु के कप्तान सुनील छेत्री ने नवें मिनट में गोल दागकर मेहमान टीम पर दबाव बनाने की कोशिश की, लेकिन असफल रहे. 17वें मिनट में ही चेन्नइयन के मिल्सन ने हैडर कर गोल किया और बेंगलुरु की बराबरी कर ली. शुरुआती 17 मिनट में ही स्कोर बराबर होने के बाद दोनों टीमें बढ़त बनाने की कोशिश करती है, लेकिन चेन्नइयन एफसी को 45वें मिनट में जाकर सफलता मिली। पहले हाफ से आखिरी मिनट में मिल्सन ने एक और गोल दाग कर टीम को 2-1 से बढ़त दिला दी.

बराबरी के लिए जूझती रही मेजबान

बढ़त के साथ चेन्नइयन एफसी ने दूसरे हाफ की शुरुआत की, वहीं बेंगलुरु की टीम बराबरी का गोल करने के लिए जूझती रही, लेकिन यहां मौका बना चेन्नइयन के लिए और 67वें मिनट में जाकर अगस्तो ने गोलकर बढ़त का अंतर बढ़ा दिया. इस गोल के साथ ही बेंगलुरु के लिए मुश्किले काफी बढ़ गई.

इंजुरी टाइम में जगी आस

हाथ से जाते मैच में बेंगलुरु की आस 4 मिनट के इंजुरी टाइम में जगी, जब 92वें मिनट में मीकू ने गोलकर अंतर को कम करके 2-3 किया और टीम आखिरी के मिनटों में एक गोल और करके मुकाबले को अतिरिक्त समय में ले जाना चाहती थी, लेकिन बेंगलुरु ने बेहतर बचाव करते उनकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया.

  कई बार चूके छेत्री

मुकाबले में पिछड़ने के बाद एक समय बेंगलुरु को कई मौके लिए, लेकिन दूसरे लेग के सेमीफाइनल के जीत के हीरो रहे कप्तान सुनील छेत्र दबाव बनने के बाद उन मौको को भुनाने में चूक गए.छेत्री को मिली फ्री किक डीफ्लेक्ट हुई और  यहां पर बेंगलुरु को कॉर्नर के रूप में एक और मौका मिल गया, लेकिन छेत्री इस कॉर्नर को भी गोल में नहीं बदल पाए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi