S M L

आईएसएल- 2017-18 : ब्लास्टर्स के खिलाफ जीत की राह पर लौटने उतरेगी डायनामोज

ये मुकाबला दो ऐसी टीमों के बीच है, जो इस समय संघर्ष कर रही हैं

FP Staff Updated On: Jan 09, 2018 10:11 PM IST

0
आईएसएल- 2017-18 : ब्लास्टर्स के खिलाफ जीत की राह पर लौटने उतरेगी डायनामोज

लगातार छह मैच में हारने के बाद पिछले मुकाबले को ड्रॉ करने में कामयाब रही दिल्ली डायनामोज की टीम इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) में बुधवार को अपने मैदान पर केरला ब्लास्टर्स को हराकर जीत की राह पर लौटना चाहेगी. दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में दो ऐसी टीमों के बीच सामना होने जा रहा है, जो इस समय संघर्ष कर रही हैं, जबकि लीग अपना आधा सफर तय करने के करीब है. ऐसे में दोनों टीमों पर दबाव है.

खराब प्रदर्शन के कारण दिल्ली की टीम तालिका में सबसे नीचे दसवें स्थान पर है. दिल्ली की तरह केरला ब्लास्टर्स ने भी इस सत्र में काफी निराशाजनक प्रदर्शन किया है. हालांकि उनकी हालत कुछ बेहतर है और वह तालिका में आठवें स्थान पर है. खराब प्रदर्शन से निराश केरला की टीम को अपना कोच तक बदलना पड़ा और अब उसकी टीम का जिम्मा डेविड जेम्स के हाथों में है. जेम्स के सामने पहली चुनौती अपनी टीम को जीत की पटरी पर लौटाना है और इसकी शुरुआत वह दिल्ली में करना चाहेंगे.

दिल्ली ने चौथे सीजन की धमाकेदार शुरुआत करते हुए एफसी पुणे सिटी को 3-2 से हराया था. यह घटना 22 नवंबर की है, लेकिन इसके बाद दिल्ली की टीम लय से भटक गई. उसने इस मैच के बाद सात मैच खेले, जिनमें से लगातार छह गंवाए और एक ड्रॉ किया. दिल्ली टीम का खेल बिल्कुल खराब नहीं है. उसने गेंद को काफी समय तक अपने पास रखा है और उसकी पासिंग भी अच्छी है, लेकिन परिणाम अपेक्षित नहीं होने से उसके प्रशंसक काफी निराश हैं.

दिल्ली के कोच मिग्वेल एंजेल पुर्तगाल ने इस अहम मैच से पहले कहा, "केरला की टीम का डिफेंस काफी अच्छा है. इसे तोड़ना आसान नहीं लेकिन केरल को हमारे खिलाफ भी दिक्कत होगी. घर में हमारे लिए सबसे जरूरी चीज जीत है. मैं समझता हूं कि हमारे पास जीत का मौका है. आत्मविश्वास के लौटने के लिए एक जीत काफी है.’’

केरला के जेम्स को भरोसा है कि टीम इस मैच में अच्छा प्रदर्शन करेगी. उन्होंने कहा, ‘‘मेरा पहला काम खिलाड़ियों के साथ घुलना मिलना है. अगर हमें अपेक्षित परिणाम नहीं मिला तो मुझे निराशा होगी. हमें जल्द से जल्द सकारात्मक परिणाम हासिल करना होगा. मुझे यकीन है कि मेरे खिलाड़ी आत्मबल से ओतप्रोत हैं और यह मेरे लिए अच्छी बात है. साथ ही यह एक चुनौती भी है.’’

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi