S M L

आईएसएल 2018-19 : अजेय केरला ब्लास्टर्स और जमशेदपुर एफसी के बीच श्रेष्ठता की जंग

इन दो स्तरीय टीमों के बीच होने वाला मुकाबला रोचक होगा, इसमें कोई दो राय नहीं

Updated On: Oct 28, 2018 07:54 PM IST

FP Staff

0
आईएसएल 2018-19 : अजेय केरला ब्लास्टर्स और जमशेदपुर एफसी के बीच श्रेष्ठता की जंग
Loading...

इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन की दो अजेय टीमों केरला ब्लास्टर्स और जमशेदपुर एफसी का जेआरडी टाटा स्पोर्ट्स कॉम्पलेक्स स्टेडियम में सोमवार को आमना- सामना होगा. दोनों टीमें अब तक इस सीजन में एक भी मैच नहीं हारी हैं, लेकिन इन दोनों के पास दिखाने के लिए सिर्फ एक-एक जीत है. मुंबई सिटी एफसी पर जीत के बाद मेजबान टीम ने जहां तीन लगातार ड्रॉ खेले हैं वहीं मेहमान टीम ने भी अपने पहले मैच में एटीके को हराने के बाद दो ड्रॉ खेले हैं.

अपने पजेशन बेस्ड स्टाइल के कारण जमशेदपुर ने अब तक खेले गए मैचों में वर्चस्व हासिल किया है, लेकिन मौकों को भुना पाने की नाकामी और सही समय पर प्रतिक्रिया दिखाने की काबिलियत में कमी के कारण इस टीम को मनोवांछित परिणाम नहीं मिल सका है. कोच फेरांडो के लिए स्टार खिलाड़ी टिम काहिल का अब तक मैच फिट न हो पाना भी चिंता का विषय है. ऑस्ट्रेलियाई स्टार काहिल केरला के खिलाफ कुछ समय तक मैदान में थे. ऐसे में अब आने वाले मैचों के लिहाज से जमशेदपुर के खिलाड़ी उनसे प्रेरणा हासिल करने के बारे में सोच रहे होंगे.

बैकलाइन में टिरी का अच्छा प्रदर्शन इस टीम के लिए आत्मविश्वास का कारण है और इससे कोच खुश भी होंगे. मारियो अर्क्वेस और मेमो मिडफील्ड में केरला के खिलाफ वर्चस्व हासिल करने का प्रयास करेंगे और अपनी टीम के लिए जरूरी टेंपो बनाने का प्रयास करेंगे. युवा खिलाड़ी मोबाशिर रहमान अभी भी चोटिल हैं और जमशेदपुर को केरला के खिलाफ इस युवा खिलाड़ी के बगैर ही खेलना होगा.

कोच फेरांडो ने इस अहम मैच से पहले कहा, ‘अंतरराष्ट्रीय लीग में 38 मैच होते हैं लेकिन हम यहां 18 मैच खेल रहे हैं. इस लिहाज से हर मैच फाइनल की तरह होता है. मेरे लिए सोमवार का मैच भी फाइनल है.’

केरला की टीम ने भी अब तक सिर्फ तीन मैच खेले हैं लेकिन यह टीम 2-0 से एटीके पर मिली जीत के बाद प्रभावित नहीं कर सकी है. जमशेदपुर की तरह इस टीम को भी अंतिम समय में की गई गलतियों के कारण ड्रॉ खेलना पड़ा है. कोच डेविड जेम्स चाहेंगे कि उनके स्ट्राइकर अधिक से अधिक गोल करें और पूरे 90 मिनट तक खेल पर ध्यान और नियंत्रण बनाए रखें. इस सीजन में जेम्स किसी भी मैच विदेशी खिलाड़ियों के फुल कोटे के साथ नहीं खेले हैं. ऐसे में उन्होंने मोहम्मद राकिप और सालाह अब्दुल समद जैसे युवा भारतीय खिलाड़ियों को मौका दिया है. इन दोनों खिलाड़ियों ने अब तक अच्छा खेल दिखाया है और जेम्स को उम्मीद होगी कि जमशेदपुर के खिलाफ भी ये प्रभावशाली प्रदर्शन करेंगे.

जेम्स के लिए अच्छी खबर यह है कि अनस इदाथोदिका तीन मैचों के निलंबन के बाद अपनी सेवाएं देने के लिए लौट आए हैं. जेम्स ने कहा, ‘अनस अब खेलने के लिए तैयार हैं. उनके आने से टीम चयन को लेकर मेरी सोच में बदलाव हुआ है. उनके आने से हमारी टीम काफी प्रतिस्पर्धी हो गई है. एक कोच के तौर पर आप यही चाहेगे कि हर कोई अपने स्थान के लिए प्रतिस्पर्धा करता रहे.’

ऐसे में जबकि फेरांडो ने अपने इरादे जाहिर कर दिए हैं और जेम्स ने अनस की वापसी के बाद अपनी टीम को अधिक प्रतिस्पर्धी करार दिया है, इन दो स्तरीय टीमों के बीच होने वाला मुकाबला रोचक होगा, इसमें कोई दो राय नहीं.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi