S M L

ISL 2018-19 : नार्थईस्ट युनाइटेड ने उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन किया जिसके लिए उन्हें शाबाशी मिलनी चाहिए

नीदरलैंड्स के कोच एल्को स्कोटेरी के मार्गदर्शन में यह नार्थईस्ट के लिए एक नई शुरुआत लग रही है जिन्होंने मिनी कूपर को फरारी में बदल दिया

Updated On: Mar 12, 2019 07:26 PM IST

FP Staff

0
ISL 2018-19 : नार्थईस्ट युनाइटेड ने उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन किया जिसके लिए उन्हें शाबाशी मिलनी चाहिए

इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) क्लब नार्थईस्ट युनाइटेड के कोच एल्को स्कोटेरी ने ट्विटर के माध्यम से शानदार सीजन के लिए सभी का शुक्रिया अदा किया है. वहीं टीम के मालिक जॉन अब्राहम ने भी कहा है कि ‘जिस तरह से खिलाड़ी अपना सब कुछ दांव पर लगा कर चोट के बाद भी खेले उस पर गर्व है.’

लीग का पांचवां सीजन नार्थईस्ट युनाइटेड के लिए यादगार सीजन रहा है. उसने पहली बार लीग के प्लेऑफ में जगह बनाई है. बीते चार सीजनों में वह कभी भी अंतिम चार में नहीं पहुंच सकी थी. इस पांचवें सीजन में भी हालांकि वह सेमीफाइनल से आगे नहीं जा सकी. उसने सेमीफाइनल के पहले चरण में अपने घर में जीत तो हासिल की थी, लेकिन दूसरे चरण में वह हार गई और इसी कारण फाइनल में से महरूम रह गई.

आईएसएल के इस सीजन की जब घोषणा हुई थी तब किसी ने नहीं सोचा था कि नार्थईस्ट की टीम इतना आगे जाएगी और इतिहास रचेगी. हाईलैंडर्स के नाम से मशहूर इस टीम ने न सिर्फ पहली बार प्लेऑफ में जगह बनाई बल्कि पहला चरण जीत लगभग फाइनल में प्रवेश कर लिया था.

अगर उसके खिलाड़ियों को चोटें न लगी होतीं तो कहानी कुछ और हो सकती थी. पहले, नार्थईस्ट को पहले चरण के मैच में अपने स्टार बार्थोलोमेव ओग्बेचे के बिना खेलना पड़ा और पहले चरण के दूसरे हाफ में उसके एक और खिलाड़ी रोवलिन बोर्जेस चोटिल हो गए. वहीं सोमवार को बेंगलुरु के खिलाफ हुए अहम दूसरे चरण के मैच में उसके एक और स्टार फेड्रेरिको गालेगो को भी चोट लग गई. अपने शीर्ष तीन खिलाड़ियों के बिना उतरी नार्थईस्ट के लिए कुछ भी आसान नहीं था. परिणाम दुखी करने वाला है. बेंगलुरु को दो चरण के मुकाबले में काफी मेहनत करनी पड़ी, लेकिन आखिरी में चोटों ने स्कोटेरी की रणनीति को विफल कर ही दिया.

Redeem Tlang of Northeast United FC takes a shot at the goal during match 75 of the Hero Indian Super League 2018 ( ISL ) between Mumbai City FC and Northeast United FC held at The Mumbai Football Arena in Mumbai, India on the 13th February 2019 Photo by: Vipin Pawar /SPORTZPICS for ISL

सेमीफाइनल मैच के बाद स्कोटेरी ने कहा, ‘हमारा सीजन यादगार रहा है. हम इस सीजन में सिर्फ चार बार हारे. इसका मतलब है कि हमने कुछ अच्छा किया. कई मैच ऐसे थे जहां हमने अपनी मजबूत एकादश उतारी और हम उन मैचों में अच्छा खेले. हमने अपने दो अहम खिलाड़ियों के बिना (रोवलिन बोर्जेस और ओग्बेचे) शुरुआत की थी. टीम में संतुलन नहीं था.’

जब टीम चयन की बात आती है तो स्कोटेरी के पास कभी भी ज्यादा विकल्प नहीं रहे. उनकी टीम के खिलाड़ी या तो हमेशा चोटिल रहते थे या प्रतिबंधित. स्कोटेरी और उनकी टीम ने हालांकि उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन किया और वो मुकाम हासिल किया जिसके लिए उन्हें शाबाशी मिलनी चाहिए. नीदरलैंड्स के कोच के मार्गदर्शन में यह नार्थईस्ट के लिए एक नई शुरुआत लग रही है जिन्होंने मिनी कूपर को फरारी में बदल दिया.

अगर उसके सभी खिलाड़ी फिट होते तो क्या होता? जब टीम मैच में थी तब अगर गालेगो, मीकू से टकरा कर चोटिल नहीं होते तो क्या होता? नार्थईस्ट के प्रशंसक इस तरह की संभावनाओं पर सोचते रहेंगे लेकिन हार के बाद भी हाईलैंडर्स ने कई लोगों का दिल जीता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi