S M L

ISL 2018-19 : केरला ब्लास्टर्स के खिलाफ एफसी गोवा की नजरें प्लेऑफ पर

FCG vs KBFC : गोवा टीम के खाते में 15 मैचों से 28 अंक हैं और अगर उसने केरल को हरा दिया तो 31 अंकों के साथ अगले दौर में प्रवेश कर जाएगा

Updated On: Feb 17, 2019 09:36 PM IST

FP Staff

0
ISL 2018-19 : केरला ब्लास्टर्स के खिलाफ एफसी गोवा की नजरें प्लेऑफ पर

बेंगलुरु एफसी प्लेऑफ में पहुंच चुका है और अब अंक तालिका में दूसरे स्थान पर काबिज एफसी गोवा की नजरें इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन के अगले दौर के लिए स्थान सुरक्षित करने पर है, लेकिन इसके लिए उसे अपने घर (फातोर्दा)  में सोमवार को केरला ब्लास्टर्स को हराना होगा. सर्गियो लोबेरा की टीम के खाते में 15 मैचों से 28 अंक हैं और अगर उसने फातोर्दा (गोवा) के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में केरल को हरा दिया तो 31 अंकों के साथ वो भी अगले दौर में प्रवेश कर जाएगा.

गौर्स नाम से मशहूर यह टीम अभी शानदार फॉर्म में है. यह टीम पांच मैचों से अजेय है. अपने अंतिम मैच में उसने एटीके को 3-0 से हराया था. इस मैच में फेरान कोरोमिनास ने दो गोल किए थे और अब वह कुल 13 गोलों के साथ इस सीजन के लीड स्कोरर हैं. नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी के कप्तान बार्थोलोमेव ओग्बेचे के खाते में 11 गोल हैं.

गोवा को इस सीजन के अपने अंतिम दो मैच बीते सीजन के विजेता चेन्नइयन एफसी और बेंगलुरु एफसी के खिलाफ खेलना है. ये मुकाबले उसके लिए कठिन हो सकते हैं और इसी कारण गोवा के लिए केरल के खिलाफ तीन अंक अर्जित करना अनिवार्य हो गया है.

ये भी पढ़ें- I-league 2019: सुरक्षा के कारण मैच से हटने के बाद अब कोर्ट जाएगी मिनर्वा पंजाब

लोबेरा ने कहा, ‘हमारा सामना एक बहुत ही अच्छी टीम से होने जा रहा है, जो नए कोच की देखरेख में बिल्कुल बदली हुई दिखाई दे रही है. मैं इतना कहना चाहूंगा कि केरल के खिलाफ तीन अंक हासिल करने के लिए हमें अपना 100 फीसदी देना होगा. अगर हम जीते तो प्लेऑफ में पहुंच जाएंगे और तब हम टेबल में टॉप पर पहुंचने का लक्ष्य निर्धारित करेंगे.’

Kerala Blasters FC players warming up before the match 77 of the Hero Indian Super League 2018 ( ISL ) between Kerala Blasters FC and Chennaiyin FC held at Jawaharlal Nehru Stadium, Kochi, India on the 15th February 2019 Photo by: Faheem Hussain /SPORTZPICS for ISL

दूसरी ओर, केरल की टीम प्लेऑफ की दौड़ में शामिल नहीं है. उसके खाते में 16 मैचों से 14 अंक हैं. वह आठवें स्थान पर है और इस आधार पर उसके लिए टॉप-6 में भी स्थान बनना मुश्किल दिख रहा है. कोच नीलो विंगाडा सीजन के मध्य में टीम से जुड़े हैं और अपनी देखरेख में पहले तीन मैचों में वह टीम को सिर्फ दो अंक दिला पाए थे. केरल की टीम को दिल्ली के हाथों 0-2 से हार मिली थी, लेकिन बेंगलुरु के खिलाफ अच्छा खेल दिखाने के बावजूद उसे अंक बांटने पड़े थे. एक समय वह बढ़त पर थी, लेकिन बेंगलुरु ने वापसी करते हुए मैच ड्रॉ करा लिया.

ये भी पढ़ें- सीसीआई के बाद मोहाली स्टेडियम से हटाईं गईं पाकिस्तानी क्रिकेटर्स की तस्वीरें

विंगाडा की टीम ने अपने पिछले मैच में हालांकि बेहतरीन खेल दिखाते हुए अपने घर में चेन्नइयन एफसी को 3-0 से हराया था. इससे विंगाडा का आत्मबल बढ़ा है. विंगाडा ने कहा, ‘हम देखना चाहते हैं कि हमारी टीम आईएसएल के सबसे कठिन प्रतिद्वंद्वियों में से एक का कैसे सामना करती है. इसमें कोई शक नहीं कि गोवा की टीम हमसे अच्छी है. अंकों का फासला यही दर्शाता है, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि वे हमारे खिलाफ जीत जाएंगे.’ कोच्चि में इस सीजन में गोवा ने केरल को 3-1 से हराया था और अब उसका प्रयास सीजन डबल पूरा करने का है. अब देखने वाली बात यह है कि विंगाडा की टीम पिछले मैच का हिसाब बराबर कर पाती है या नहीं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi