S M L

आईएसएल 2018-19 : दिल्ली डायनामोज को मुंबई सिटी के खिलाफ नहीं मिली जीत तो हो जाएगी दौड़ से बाहर

मुंबई सिटी को दिल्ली डायनामोज को हर हाल में चाहिए जीत, पांचवें सीजन में अगले चरण की दौड़ से बाहर होती जा रही है दिल्ली

Updated On: Dec 02, 2018 06:36 PM IST

FP Staff

0
आईएसएल 2018-19 : दिल्ली डायनामोज को मुंबई सिटी के खिलाफ नहीं मिली जीत तो हो जाएगी दौड़ से बाहर

दिल्ली डायनामोज एफसी बहुत तेजी से इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन में अगले चरण की दौड़ से बाहर होती जा रही है. बीते सीजन में भी यह टीम प्लेऑफ में जगह नहीं बना सकी थी. बीते सीजन की नाकामी के बाद इस टीम के प्रशंसकों को उम्मीद थी कि यह वापसी करते हुए पांचवें सीजन में बेहतर प्रदर्शन करेगी, लेकिन इस टीम को अब तक आधे सफर के बाद भी पहली जीत नहीं मिल सकी है.

दिल्ली की टीम 10 टीमों की तालिका में सबसे नीचे है और सोमवार को उसका सामना जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में मुंबई सिटी एफसी से होना है. यह मैच जीतना दिल्ली के लिए अनिवार्य है, क्योंकि इसी से उसकी आगे जाने की उम्मीदें जिंदा रहेंगी. दिल्ली की टीम ने 10 मैचों से सिर्फ चार अंक जुटाए हैं.

दिल्ली की टीम एक या दो मैचों को छोड़ दिया जाए तो हर मैच में अच्छा खेली है, लेकिन वह अपने सामने आए मौकों को नहीं भुना पाई है. अगर वह आगे के मैचों में भी सामने आए मौकों को नहीं भुना पाती है तो उसके लिए आगे के सफर की कल्पना करना बेकार है. ऐसे में जोसफ गोम्बोउ की टीम को वह करके दिखाना होगा, जो वह अब तक नहीं कर पाई है.

गोम्बोउ ने मैच से पहले संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘हमें एक अच्छी टीम के खिलाफ अहम मुकाबला खेलना है. मुंबई सिटी एफसी अच्छी है और हमारी स्थिति यह है कि 10 मैचों के बाद भी हम जीत नहीं हासिल कर सके हैं. मेरा मानना है कि हम अच्छा खेल रहे हैं. बीते कुछ मैचों से हमारा खेल सुधरा है. मेरे मन में मुंबई के लिए काफी सम्मान है, लेकिन हम इस टीम के खिलाफ अच्छा खेलते हुए आगे का सफर जारी रखना चाहते हैं.’

दिल्ली की टीम में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है, लेकिन फिनिशिंग के मामले में यह दूसरी टीमों से पीछे रह जा रही है. गोम्बोउ को आशा है कि उनके खिलाड़ी इस विभाग में सुधार करते हुए एक इकाई के तौर पर खेलते हुए सीजन की पहली जीत हासिल करेंगे.

गोम्बोउ ने कहा, ‘हमने गोवा और बेंगलुरु के खिलाफ अच्छा खेल दिखाया और कई मौके बनाए थे. हम फिनिश नहीं कर सके थे. इस बार मेरी टीम गेंद को अपने पास रखने और उसे पोस्ट में डालने को लेकर आश्वस्त नजर आ रही है.’

मुंबई की टीम नौ दिनों मे तीन मैच खेलेगी. इनमें से दो मैच घर से बाहर होने हैं. कोच जॉर्ज कोस्टा की टीम ने दिल्ली को अपने घर में 2-0 से हराया था, लेकिन इसके बावजूद मुंबई के कोच दिल्ली की टीम को हल्के में नहीं ले रहे हैं.

कोस्टा ने कहा, ‘अगर आप दिल्ली के खेल को नहीं देखेंगे और सिर्फ तालिका में उसके स्थान को देखेंगे को आपको निराशा मिलेगी. आप जब इस टीम का खेल देखेंगे तो आपको पता चलेगा कि यह टीम वाकई अच्छा खेल रही है. बेंगुलरु के खिलाफ इस टीम ने कई मौके बनाए थे और काफी संयोजित नजर आई थी. हमें इस टीम का सम्मान करना चाहिए और इसी अनुसार अपनी रणनीति बनानी चाहिए.’

मुंबई की टीम ने इस सीजन में घर से बाहर अच्छा खेल दिखाया है. उसने चार में से तीन मैच जीते हैं, लेकिन मुंबई की टीम ने काफी कम गोल किए हैं. दिल्ली और मुंबई ने इस सीजन में सात-सात गोल किए हैं, जो इस साल का संयुक्त न्यूनतम योग है.

मुंबई के खाते में आए सात गोलों में से छह विदेशी खिलाड़ियों ने किए हैं, जबकि दिल्ली के लिए सात में से पांच गोल भारतीय खिलाड़ियों ने किए हैं. सोमवार को दोनों टीमें अहम जीत के लिए मैदान पर उतरेंगी और यह देखना वाकई रोचक होगा कि विजयी गोल कौन करता है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi