S M L

FIFA World Cup 2018, Uruguay vs Portugal : नहीं चला रोनाल्डो का जादू, पुर्तगाल पर अकेले कवानी पड़े भारी

उरुग्वे ने पुर्तगाल को 2-1 से हरा दिया, अब क्वार्टर फाइनल में उसका मुकाबला फ्रांस से शुक्रवार को होगा

FP Staff Updated On: Jul 01, 2018 02:07 AM IST

0
FIFA World Cup 2018, Uruguay vs Portugal : नहीं चला रोनाल्डो का जादू, पुर्तगाल पर अकेले कवानी पड़े भारी

अर्जेटीना के दिग्गज खिलाड़ी लियोनेल मेसी के बाद पुर्तगाल के करिश्माई फारवर्ड क्रिस्टियानो रोनाल्डो के विश्व कप जीतने का सपना भी अधूरा रह गया. फारवर्ड एडिनसन कवानी के दोनों हाफ में किए गए एक-एक गोल की बदौलत उरुग्वे ने शनिवार को सोची के फिश्ट स्टेडियम में फीफा विश्व कप के 21वें संस्करण के प्रीक्वार्टर फाइनल मुकाबले में रोनाल्डो के नेतृत्व वाली पुर्तगाल को 2-1 से हरा दिया.इस जीत के साथ उरुग्वे ने आठ  साल बाद क्वार्टर फाइनल में अपना स्थान पक्का कर लिया, जहां उसका मुकाबला शुक्रवार को फ्रांस से  होगा. उरुग्वे के एडिनसन कवानी ने सातवें और 62वें मिनट में किया, जबकि पुर्तगाल के लिए एकमात्र गोल पेपे ने 55वें मिनट में दागा.

शनिवार का दिन स्टार खिलाड़ियों वाली टीमों के लिए अच्छा नहीं रहा. विश्व कप के पहले प्रीक्वार्टर फाइनल में फ्रांस ने लियोनेल मेसी की टीम अर्जेंटीना को 4-3 से हराकर बाहर कर दिया था. उसके बाद दूसरे प्रीक्वार्टर फाइनल में पुर्तगाल की हार के साथ रोनाल्डो भी अब विश्व कप में नहीं दिखेंगे. दोनों टीमों के हारने के बाद दुनिया के दो सबसे बेहतरीन फुटबॉलर अब इस विश्व कप में नहीं दिखेंगे. रोनाल्डो विश्व कप में अब तक खेले छह नॉकआउट मैचों में गोल नहीं कर पाए हैं और वह एक बार फिर उरुग्वे के खिलाफ गोल करने में नाकाम रहे.

मैच की महत्वपूर्ण बातें

क्रिस्टियानो रोनाल्डो के लिए विश्व कप नॉकआउट मैचों के आंकड़े उत्साहवर्धक नहीं हैं. वह अभी तक खेले पांच मैचों में गोल करने में असफल रहे हैं. देखना होगा कि क्या वह आज ये सिलसिला तोड़ पाते हैं या नहीं. हालांकि मैच की शुरुआत क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने अच्छी की है. वह बाएं छोर से कुछ फुटवर्क दिखाने में सफल रहे हैं. पांचवें मिनट में उन्होंने पहला शॉट टारगेट पर मारा जो उरुग्वे के गोलकीपर फर्नांडो मुसलेरा के हाथों में समा गया.

लेकिन ये क्या उरुग्वे सनसनीखेज शुरुआत करने में सफल रहा. उसके लिए ये गोल एडिनसन कवानी ने सातवें मिनट में ही कर दिया. उरुग्वे ने पहला बड़ा हमला किया और गोल करने में भी सफल रहा. लुइस सुआरेज से मिले लंबे क्रास पर एडिनसन कवानी हेडर से गेंद को गोल में डालने में कामयाब रहे. उरुग्वे ने इससे बेहतरीन शुरुआत की कल्पना भी नहीं की होगी.

एक गोल से पिछड़ने के बाद पुर्तगाल ने उरुग्वे के गोल एरिया में जाकर कई प्रयास किए.  क्रिस्टियानो रोनाल्डो भी अपने खिलाड़ियों की हौसलाअफजाई कर रहे हैं ताकि वे मैच में बराबरी कर सकें. 25 मिनट का खेल हो चुका है. पुर्तगाल की ओर से कोई भी ऐसा प्रयास नहीं किया गया है जिससे कहा जा सके कि वे बराबरी का गोल दाग सकते थे. तो क्या ये मैच भी पहले मैच की तरह नतीजा लेकर आएगा.

पुर्तगाल के कोच फर्नांडो सांतोस अपनी टीम से खुश नहीं हैं. वह खिलाड़ियों से एकाग्र होकर आक्रमण करने को कह रहे हैं ताकि उरुग्वे के डिफेंस पर दबाव बनाया जा सके और वो कोई गलती कर बैठे जिसका फायदा उन्हें मिल सके. 38 मिनट का खेल हो चुका है. दक्षिण अमेरिकी टीम ने अपने खेल से पुर्तगाल को दबाव में रखा हुआ है. ऐसा नहीं है कि क्रिस्टियानो रोनाल्डो ही उरुग्वे के लिए चुनौती हैं. सुआरेज भी पुर्तगाल के डिफेंस को लगातार चुनौती दे रहे हैं. वह भी विश्व फुटबॉल का बड़ा नाम हैं. उन्हें रोकना मतलब उरुग्वे को मैच में बढ़त बनाने से दूर  रखना. ये नहीं भूलना चाहिए कि पहले गोल में उनकी भूमिका अहम थी.

पुर्तगाल के पेपे 55वें मिनट में अपनी टीम को बराबरी दिलाने में सफल रहे. आखिरकार पुर्तगाल बराबरी करने में सफल रहा. राफेल ग्वेरेरो के क्रास पर पेपे ने हेडर से गोल दागा. उरुग्वे का डिफेंस उस समय लगभग नदारद था जिसकी वजह से पेपे को गोल करने का अवसर मिल गया जिनको किसी ने भी मार्क नहीं किया हुआ था.

पुर्तगाल इस गोल का जश्न केवल सात मिनट ही मना पाया. एडिनसन कवानी ने 62वें मिनट में फिर से उरुग्वे को 2-1 से आगे कर दिया. एडिनसन कवानी एक बार से कमाल करने में कामयाब रहे. ये गोल भी उनके पहले गोल की तरह दर्शनीय था. फर्क सिर्फ इतना था कि ये गोल हेडर से नहीं बल्कि दाएं पैर से किया था. उनका कोणीय शॉट जाल के एक कोने में जा धंसा. एक बार फिर उरुग्वे के गोलकीपर फर्नांडो मुसलेरा असहाय साबित हुए

एडिनसन कवानी के नाम पर विश्व कप में पांच गोल हो गए हैं. उरुग्वे के लिए उनसे ज्यादा गोल केवल आस्कर मिगुएज (8), लुइस सुआरेज (7) और डिएगो फोरलान (6) ने किए हैं

74वें मिनट में एडिनसन कवानी बाहर चले गए. उनकी जगह क्रिस्टियन स्टुअनी आए हैं. कवानी जब लंगड़ाते हुए बाहर जा रहे थे तो क्रिस्टियानो रोनाल्डो उनको सहारा देकर छोड़ने आए. यानी क्रिस्टियानो रोनाल्डो केवल खेल के ही दिग्गज नहीं हैं बल्कि वे खेल भावना दिखाने में भी पीछे नहीं हैं

खेल के अंतिम क्षणों में सुआरेज के क्रास पर क्रिस्टियन रोड्रिगेज गेंद को दिशा नहीं दे सके. क्रिस्टियानो रोनाल्डो की पुर्तगाल भी विश्व कप में हारकर बाहर हो गई. उरुग्वे ने 2-1 से जीत दर्ज कर क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi