S M L

FIFA World Cup 2018, Sweden v England : इंग्लैंड 28 साल बाद पहुंचा सेमीफाइनल में, स्वीडन को 2-0 से हराया

इंग्लैंड के लिए हैरी मैगुइरे और डेल एली ने प्रत्येक हाफ में एक-एक गोल किया

FP Staff Updated On: Jul 07, 2018 10:21 PM IST

0
FIFA World Cup 2018, Sweden v England : इंग्लैंड 28 साल बाद पहुंचा सेमीफाइनल में, स्वीडन को 2-0 से हराया

हैरी मैगुइरे और डेल एली के गोलों की मदद से इंग्लैंड ने शनिवार को समारा में एकतरफा मुकाबले में स्वीडन को 2-0 से हराकर 1990 के बाद पहली बार फीफा विश्व कप के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया. लीसेस्टर के डिफेंडर मैगुइरे ने 30वें मिनट में कॉर्नर पर पहला गोल किया. जबकि डेल एली ने 59वें मिनट में दूसरा गोल दागा. इंग्लैंड 1990 में इटली में खेले गए विश्व कप में चौथे स्थान पर रहा था, लेकिन इसके बाद वह कभी सेमीफाइनल में कदम नहीं रख सका.

आखिरी आधे मिनट में स्वीडन के खिलाड़ियों ने कई हमले बोले, लेकिन इंग्लैंड के गोलकीपर जॉर्डन पिकफोर्ड ने पूरी चुस्ती दिखाते हुए उन्हें कामयाब नहीं होने दिया. नौ प्रतिस्पर्धी मैचों में स्वीडन पर इंग्लैंड की यह दूसरी जीत है. अब उसका सामना 11 जुलाई को सेमीफाइनल में मेजबान रूस या क्रोएशिया से होगा. अगर कोलंबिया के खिलाफ हुए पेनाल्टी शूट आउट को हटा दें तो इंग्लैंड ने अभी तक केवल चार गोल खाए हैं जबकि उसने 11 गोल किए हैं, जिसमें छह गोल अकेले उसके कप्तान हैरी केन के हैं. गोल्डन बूट की रेस में सबसे आगे चल रहे हैरी केन शनिवार को  गोल नहीं दाग सके.

मैच की महत्वपूर्ण बातें

कोच साउथगेट ने उस टीम में कोई बदलाव नहीं किया था जिसने अंतिम 16 में कोलंबिया को पेनल्टी शूटआउट में हराया था. वहीं स्विट्जरलैंड को एक गोल से हराने वाली स्वीडिश टीम में निलंबन के बाद सेबेस्टियन लार्सन की वापसी हुई.

15 मिनट के खेल तक दोनों टीमों ने एक-दूसरे के गोल पर कोई ऐसा प्रयास नहीं किया है जो विरोधी टीम को परेशानी में डाल सके. शुरुआती पलों में विक्टर क्लासन ने कई मौके बनाए, लेकिन कामयाबी नहीं मिली. दूसरी ओर छह गोल कर चुके गोल्डन बूट के दावेदार हैरी केन का एक शॉट बाहर निकल गया.

हैरी मैगुइरे ने 30वें मिनट में इंग्लैंड का पहला गोल किया. कॉर्नर पर हैरी मैगुइरे ने एशले यंग से बायीं ओर से मिली गेंद पर हेडर से गेंद को जाल में डाल दिया. जो मैच नीरस सा नजर आ रहा था, उसमें अचानक जान आ गई है. समारा एरिना में जश्न का माहौल हो गया. ये हैरी मैगुइरे का विश्व कप का पहला गोल है.

हाफटाइम से पहले रहीम स्टर्लिंग बढ़त दोगुनी करने के करीब पहुंचे लेकिन उनका शॉट रॉबिन ओल्सेन ने बचा लिया.   42वें मिनट में रहीम स्टर्लिंग के पास गोल करने का सुनहरा मौका था, उन्हें केवल गोलकीपर को परास्त करना था, जिसमें वह कामयाब भी हो गए थे. लेकिन स्वीडिश डिफेंडर ने टीम पर आया ये खतरा टाल दिया.

दूसरे हाफ की शुरूआत में ही मार्कस बर्ग का हेडर इंग्लैंड के गोलकीपर ने बचाया. इंग्लैंड के गोलकीपर जॉर्डन पिकफोर्ड की  भले ही पहले हाफ में भले ही ज्यादा परीक्षा नहीं हुई हो, लेकिन दूसरे हाफ में उन्हें ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत थी. वैसे भी स्वीडन ने अपने ज्यादातर मैचों में दूसरे हाफ में अच्छा खेल दिखाया है.

एक घंटे से एक मिनट पहले डेल एली ने दूसरा गोल दागा तो स्टेडियम में मौजूदा इंग्लैंड के समर्थकों में खुशी की लहर दौड़ गई. डेल एली ने 59वें मिनट में इंग्लैंड की बढ़त 2-0 कर दी. इंग्लैंड को सब्र का फल मिला. गेंद काफी देर से स्वीडिश पेनल्टी एरिया में मंडरा रही थी. जेसी लिंगार्ड ने लाफ्टेड क्रास दिया और गोल के सामने अकेले खड़े डेल एली ने परफेक्शन का नमूना दिखाते हुए हेडर से गोल कर दिया. इंग्लैंड ने अपनी बढ़त 2-0 कर दी.

आखिरी पलों में स्वीडन ने वापसी की कोशिशें की लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी. इंग्लैंड के गोलकीपर जॉर्डन पिकफोर्ड ने कई शानदार बचाव किए. उन्होंने इस विश्व कप में अपनी शानदार फॉर्म बनाए रखी है. राउंड 16 मुकाबले में कोलंबिया के खिलाफ पेनल्टी शूट आउट में उन्होंने बेहतरीन बचाव कर अपनी टीम को जीत दिलाई थी.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi