S M L

FIFA World Cup 2018: 'हम आंखों में आंसू, लेकिन गर्व के साथ सिर उठाकर टूर्नामेंट से बाहर हो रहे हैं’ 

रूस के शानदार सफर का भावुक अंत, क्वार्टर फाइनल मैच हारने के साथ सड़कों पर ‘रोस-सि-या’ के जोशीले नारे थम गए और स्टेडियम में आंसुओं का सैलाब उमड़ पड़ा

AFP Updated On: Jul 08, 2018 04:40 PM IST

0
FIFA World Cup 2018: 'हम आंखों में आंसू, लेकिन गर्व के साथ सिर उठाकर टूर्नामेंट से बाहर हो रहे हैं’ 

मेजबान रूस के क्रोएशिया के खिलाफ पेनल्टी शूटआउट में शनिवार को फुटबॉल विश्व कप का क्वार्टर फाइनल मैच हारने के साथ सड़कों पर ‘रोस-सि-या’ के जोशीले नारे थम गए और स्टेडियम में आंसुओं का सैलाब उमड़ पड़ा. मैच हारने के साथ टूर्नामेंट में उम्मीदों से कहीं ज्यादा बेहतर प्रदर्शन करते हुए अंतिम आठ में पहुंचे रूस के सफर का भावुक अंत हुआ. इसके साथ 1966 के बाद पहली बार सेमीफाइनल में पहुंचने की उसकी उम्मीदें धराशायी हो गईं.

नियमित और अतिरिक्त समय में मुकाबला 2-2 से बराबर रहने के बाद पेनल्टी शूटआउट खेला गया जिसके बाद मेजबान टीम 3-4 से हार गई. रूस की टीम ने ट्विटर पर लिखा, ‘हम आंखों में आंसू, लेकिन गर्व के साथ सिर उठाकर टूर्नामेंट से बाहर हो रहे हैं.’

Soccer Football - World Cup - Quarter Final - Russia fans watch Russia vs Croatia - FIFA Fan Fest, Moscow, Russia - July 7, 2018 Russia fans react after the game. REUTERS/Tatyana Makeyeva - UP1EE771NEAM6

रूस के पास गौरवान्वित महसूस होने का पूरा कारण है. विश्व कप शुरू होने के साथ मीडिया को लग रहा था कि टूर्नामेंट में सबसे निचली रैंकिंग वाली टीम किस्मत से ही कोई मैच जीतेगी. लेकिन रूस ने सबको गलत साबित किया. रूस 48 वर्षों बाद क्वार्टर फाइनल में पहुंचा. उसने ग्रुप चरण के अपने पहले मैच में सऊदी अरब को 5-0 से और दूसरे मैच में इजिप्ट को 3-1 से हराया. हालांकि वह अपना तीसरा मैच उरुग्वे से 0-3 से हार गया, लेकिन अगले दौर में पहुंचने में सफल रहा.

प्रीक्वार्टर फाइनल में रूस ने 1-1 से मुकाबला बराबरी पर छूटने के बाद स्पेन को पेनल्टी शूटआउट में 4-3 से हराकर पूरी दुनिया को चौंका दिया.  शनिवार के मैच में भी रूस ने अपनी तरफ से सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश की, लेकिन इस बार किस्मत उसके साथ नहीं थी. वह भले ही मैच हार गया, लेकिन देश और दुनिया के करोड़ों फुटबॉल प्रेमियों का दिल जीतने में सफल रहा.

रूस के खेल को सलाम करते हुए लोकप्रिय स्थानीय अखबार ‘स्पोर्ट एक्सप्रेस’ ने अपनी खबर के शीर्षक में लिखा, ‘हमारे दिलों की विजेता.' अखबार ने इसके बाद उसकी तारीफ करते हुए लिखा, ‘रूस को पता है फुटबॉल कैसे खेलते हैं.’  

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi