S M L

FIFA World Cup 2018, Portugal vs Uruguay: रोनाल्डो को रोकना होगी उरुग्वे की सबसे बड़ी चुनौती

रोनाल्डो के लिए उरुग्वे के डिफेंस को तोड़ना आसान नहीं होगा, उरूग्वे एकमात्र ऐसी टीम है जो ग्रुप चरण में एक भी गोल गंवाए नॉकआउट दौर में पहुंची है

Updated On: Jun 30, 2018 09:09 AM IST

FP Staff

0
FIFA World Cup 2018, Portugal vs Uruguay: रोनाल्डो को रोकना होगी उरुग्वे की सबसे बड़ी चुनौती

शनिवार से फीफा वर्ल्ड कप 2018 में प्री क्वार्टर फाइनल के मुकाबलों की शुरुआत होगी. पहले दिन के दूसरे मुकाबले में क्रिस्टियानो रोनाल्डो की पुर्तगाल का सामना उरुग्वे से होगा. दोनों टीमें इससे पहले तीन बार आमने सामने आ चुकी हैं हालांकि वर्ल्ड कप में ऐसा पहली बार हो रहा है. आखिरी बार दोनों टीमें 1972 में आमने-सामने आई थी तब दोनों के बीच मुकाबला ड्रॉ हो गया था. इससे पहले दोनों मुकाबलों में जीत पुर्तगाल की हुई थी. उरुग्वे और उसके कप्तान डिएगो गोडिन सोची में पुर्तगाल के खिलाफ होने वाले विश्व कप के अंतिम 16 के मुकाबले में उसके स्टार स्ट्राइकर क्रिस्टियानो रोनाल्डो को रोकने का प्रयास करेंगे

गोडिन और उनकी टीम के साथी खिलाड़ी रियाल मैड्रिड और पुर्तगाल के पांच बार के बैलेन डिओर विजेता को निशाना बनाए होंगे जिससे यह मुकाबला काफी दिलचस्प होगा क्योंकि 33 वर्षीय रोनाल्डो इस विश्व कप में शानदार फार्म में हैं और इसका पूरा लुत्फ उठा रहे हैं. लेकिन उरूग्वे एकमात्र ऐसी टीम है जो ग्रुप चरण में एक भी गोल गंवाए नॉकआउट दौर में पहुंची है.

Soccer Football - World Cup - Portugal Training - Fisht Stadium, Sochi, Russia - June 14, 2018 Portugal's Cristiano Ronaldo during training REUTERS/Lucy Nicholson - RC1D1D1EA5A0

गोडिन एटलेटिको क्लब से खेलते हैं जिसका डिफेंस यूरोपीय क्लब में सबसे दमदार है और दिलचस्प बात यह है कि उरूग्वे की टीम ने 2018 में छह मैचों में एक भी गोल नहीं गंवाया है.

रोनाल्डो इस विश्व कप में चार गोल कर चुके हैं जिसमें स्पेन के खिलाफ 3-3 के ड्रॉ मुकाबले में हैट्रिक भी शामिल है. उनके नाम 85 अंतरराष्ट्रीय गोल हैं जो इतिहास में किसी यूरोपीय खिलाड़ी की तुलना में सबसे ज्यादा हैं.

पिछले दो वर्षों में उन्होंने रियाल मैड्रिड के लिए गोडिन के एटलेटिको के खिलाफ दो हैट्रिक लगाई हैं और चैंपियंस लीग फाइनल्स में क्लब को दो बार खिताब दिला चुके हैं.सुआरेज भले ही पहले जितने फुर्तीले नहीं हों लेकिन फिर भी रूस में दो बार गोल कर चुके हैं. एक और गोल से वह उरिग्वे के 1950 विश्व कप विजेता आस्कर मिगुएज के टूर्नामेंट में आठ गोल के रिकॉर्ड की बराबरी कर लेंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता
Firstpost Hindi