S M L

FIFA World Cup 2018, England vs Columbia: कोलंबिया के खिलाफ मैच को पेनल्टी तक नहीं पहुंचाना चाहेगा इंग्लैंड

इंग्लैंड को पिछले 12 बड़े टूर्नामेंट में से छह में पेनल्टी के कारण हार का सामना करना पड़ा है

Updated On: Jul 02, 2018 06:10 PM IST

AFP

0
FIFA World Cup 2018, England vs Columbia: कोलंबिया के खिलाफ मैच को पेनल्टी तक नहीं पहुंचाना चाहेगा इंग्लैंड

इंग्लैंड की टीम फीफा विश्व कप के प्री क्वार्टर फाइनल में मंगलवार को जब कोलंबिया के खिलाफ भिड़ेगी तो उसके लिए पेनल्टी शूट आउट में अपने खराब रिकॉर्ड को भुलाना आसान नहीं होगा. इंग्लैंड को पिछले 12 बड़े टूर्नामेंट में से छह में पेनल्टी के कारण हार का सामना करना पड़ा जबकि टीम इस दौरान सिर्फ एक बार जीत दर्ज करने में सफल रही जब उसने यूरो 1996 में स्पेन को हराया.

टीम के मौजूदा कोच गैरेथ साउथगेट का करियर उसे पेनल्टी किक के लिए जाना जाता है तो वह आंद्रियास कोप्के हाथ में खेल गए और वेम्बले में सेमीफाइनल में जर्मनी के खिलाफ इंग्लैंड को हार का सामना करना पड़ा. इस अनुभव से साउथगेट ने अपनी कोचिंग का तरीका तैयार किया और अब जब कोलंबिया के खिलाफ टीम को अंतिम 16 का मुकाबला खेलना है तो एक बार फिर पेनल्टी शूटआउट देखने को मिल सकता है. साउथगेट 1998 में ग्लेन होडल की अगुआई वाली इंग्लैंड की टीम का हिस्सा थे जिनका माना था कि शूटआउट लॉटरी की तरह होते हैं जिन्हें ट्रेनिंग में दोहराना नामुमकिन होता है और इसलिए इसका अभ्यास करने की जरूरत नहीं.  इंग्लैंड की टीम को इस टूर्नामेंट के प्री क्वार्टर फाइनल में अर्जेंटीना के खिलाफ शूटआउट में ही हार का सामना करना पड़ा.

Harry Kane scores opener from close range

साउथगेट ने हालांकि अब पेनल्टी शूटआउट को अभ्यास का हिस्सा बना दिया है और उनके खिलाड़ी मार्च से इसका अभ्यास कर रहे हैं. कोच वीडियो विश्लेषकों की भी सेवाएं ले रहे हैं जिसके कि पता चल सके कि उनके सबसे विश्सनीय खिलाड़ी कौन हैं. इंग्लैंड के गोलकीपर जोर्डन ने मैचों के दौरान 30 पेनल्टी में से पांच बचाई हैं. उनके साथी गोलकीपरों जैक बटलैंड ने 25 में से चार जबकि निक पोपे ने 13 में से तीन पेनल्टी किक बचाई हैं. बेल्जियम के थिबोट कोरटोइस ने कहा है पिकफोर्ड 1.85 मीटर की लंबाई के कारण अच्छी स्थिति में नहीं हैं लेकिन कोलंबिया के गोलकीपर डेविड ओस्पीना की लंबाई उनसे भी कम 1.83 मीटर है.

इंग्लैंड की टीम ओस्पीना के रिकॉर्ड से खुश होगी जो अपने 38 प्रयासों में सिर्फ तीन पेनल्टी रोक पाए हैं जबकि पिछले 15 प्रयास में एक को ही नाकाम कर पाए. उन्होंने दो साल पहले मिगुएल ट्रोको के प्रयास को अपने पैर से रोककर कोलंबिया को पेरू के खिलाफ कोपा अमेरिका में जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी. पनामा के खिलाफ कप्तान हैरी केन ने पेनल्टी पर दो गोल किए और अगर मैच पेनल्टी शूटआउट में खिंचा तो निश्चित तौर पर वह पांच प्रयास में से एक को लेने आएंगे. इसके अलावा मार्कस रशफोर्ड और डेले अली को मौका मिल सकता है जबकि जेमी वार्डी भी एक विकल्प होंगे. जोर्डन हेंडरसन , किरान ट्रिपियेर और काइल वॉल्कर भी साउथगेट की सूची में शामिल होंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi