S M L

FIFA World Cup 2018 : 12 बातों से जानिए, गुरुवार को आमने-सामने होने वाली सभी टीमों का हाल

ग मुकाबलों के ये आखिरी चार मुकाबले ग्रुप ई और ग्रुप एफ की टीमों के बीच होंगे, इसके बाद शनिवार से प्री-क्वार्टरफाइनल मैचों के साथ नॉकआउट दौर का सिलसिला शुरू होगा

Bhasha Updated On: Jun 27, 2018 06:01 PM IST

0
FIFA World Cup 2018 : 12 बातों से जानिए, गुरुवार को आमने-सामने होने वाली सभी टीमों का हाल

फीफा वर्ल्ड 2018 के आखिरी लीग मुकाबले रविवार से खेले जाएंगे. लीग मुकाबलों के ये आखिरी चार मुकाबले ग्रुप ई और ग्रुप एफ की टीमों के बीच होंगे. इसके बाद शनिवार से प्री-क्वार्टरफाइनल मैचों के साथ नॉकआउट दौर का सिलसिला शुरू होगा.

इंग्लैंड बनाम बेल्जियम

पहले दोनों मैचों में धमाकेदार प्रदर्शन से बड़ी जीत दर्ज करने वाले इंग्लैंड और बेल्जियम अपने आखिरी लीग मैच में गुरुवार को नॉकआउट से पहले खुद की असली क्षमता परखने और ग्रुप जी में शीर्ष स्थान हासिल करने के उद्देश्य से एक दूसरे का सामना करेंगे.

यूरोप की इन दोनों टीमों का विश्व कप में अब तक का सफर शानदार रहा है. दोनों टीमें पहले ही अंतिम-16 में पहुंच चुकी हैं और इस मैच से केवल ग्रुप में शीर्ष पर रहने वाली टीम का निर्धारण होगा.

Harry Kane scores opener from close range

इंग्लैंड ने ट्यूनीशिया को 2-1 से हराने के बाद पनामा को 6-1 से रौंदा जबकि बेल्जियम ने पनामा को 3-0 से हराने के बाद ट्यूनीशिया को 5-2 से करारी शिकस्त दी. इस तरह से दोनों टीमों ने अब तक समान सात-सात गोल किए हैं और उनके खिलाफ भी दो-दो गोल हुए हैं.

सेनेगल बनाम कोलंबिया

सेनेगल और कोलंबिया का प्रदर्शन पिछले दोनों मैचों में उतार चढ़ाव वाला रहा लेकिन ये दोनों टीमें जब आमने सामने होंगी तो उनका लक्ष्य जीत के साथ विश्व कप के अंतिम -16 में जगह बनाना होगा.

कोलंबिया पहले मैच में जापान से 1-2 से हार गया था लेकिन अगले मैच में उसने पोलैंड को 3-0 से हराकर शानदार वापसी की. उसे अगर नॉकआउट में जगह बनानी है तो सेनेगल पर हर हाल में जीत दर्ज करनी होगी.

कोलंबिया के अभी तीन अंक हैं जबकि ग्रुप एच में जापान और सेनेगल चार-चार अंक के साथ पहले दो स्थान पर हैं. सेनेगल ने पहले मैच में पोलैंड को 2-1 से हराया जबकि जापान को 2-2 से बराबरी पर रोका. वह अगर कोलंबिया को बराबरी पर रोक देता है तो तब भी अगले दौर में पहुंच जाएगा.

जापान बनाम पोलैंड कोलंबिया पर रिकॉर्ड जीत और सेनेगल के खिलाफ दो बार पिछड़ने के बाद जोरदार वापसी करने वाली जापान की टीम विश्व कप के अपने अंतिम लीग मैच में पोलैंड के खिलाफ जीत के प्रबल दावेदार के रूप में शुरुआत करेगी. विश्व कप से पहले की घटनाओं के कारण जापान के बारे कहा जा रहा था कि उसके लिए किसी भी टीम को हराना मुश्किल होगा लेकिन उसने पहले मैच में ही कोलंबिया को 2-1 से पराजित करके आलोचकों को करारा जवाब दिया. इससे वह किसी दक्षिण अमेरिकी टीम को हराने वाली पहली एशियाई टीम बनी.

Soccer Football - World Cup - Japan Training - Japan Training Camp, Kazan, Russia - June 17, 2018   Japan's Gotoku Sakai with team mates during training   REUTERS/John Sibley - RC1C1D231920

इसके बाद जापान ने सेनेगल को 2-2 से बराबरी पर रोका और अब उसके दो मैचों में चार अंक हैं और वह ग्रुप एच में शीर्ष पर है. अगर वह पोलैंड से ड्रॉ भी खेलता है तो तब भी अंतिम-16 में पहुंच जाएगा. यहां तक कि हार पर भी वह नॉकआउट में पहुंच सकता है लेकिन इसके लिए सेनेगल को कोलंबिया को हराना होगा.

पनामा और ट्यूनीशिया पनामा और ट्यूनीशिया अपने पहले दोनों मैच गंवाकर विश्व कप नॉकआउट की दौड़ से बाहर हो चुके हैं लेकिन जब वे यहां एक दूसरे का सामना करेंगे तो उनकी निगाह जीत के साथ अंत करके इतिहास रचने पर भी टिकी होंगी.

इन दोनों टीमों ने अपने पिछले मैच में बड़े अंतर से हार झेली थी. इंग्लैंड ने पनामा को 6-1 से तो बेल्जियम ने ट्यूनीशिया को 5-2 से हराया था. उन्हें अपने पहले मैच में भी हार का सामना करना पड़ा था और ऐसे में अब उनके पास गंवाने के लिए कुछ भी नहीं बचा है लेकिन जीत दर्ज करने पर वे अपने देश के लिए इतिहास रच सकते हैं.

पनामा फुटबॉल टीम

पनामा फुटबॉल टीम

ट्यूनीशिया विश्व कप में पांचवीं बार भाग ले रहा है लेकिन उसने पिछले 40 साल में कोई मैच नहीं जीता है. उसने विश्व कप में अपनी एकमात्र जीत 1978 में मेक्सिको के खिलाफ 3-1 से दर्ज की थी. ट्यूनीशिया इससे पहले भी कभी नॉकआउट से आगे नहीं बढ़ पाया और इस बार भी कहानी नहीं बदली. ऐसे में टीम तीसरा स्थान हासिल करने के लिए पूरा जोर लगाएगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi