S M L

FIFA World Cup 2018 : 12 बातों से जानिए, बुधवार को आमने-सामने होने वाली सभी टीमों का हाल

फीफा वर्ल्ड कप के 14वें दिन चार मुकाबले खेले जाएंगे, पहले दो मुकाबले ग्रुप एफ के और दो ग्रुप ई के होंगे

Bhasha Updated On: Jun 26, 2018 06:25 PM IST

0
FIFA World Cup 2018 : 12 बातों से जानिए, बुधवार को आमने-सामने होने वाली सभी टीमों का हाल

फीफा वर्ल्ड कप के 14वें दिन चार मुकाबले खेले जाएंगे. पहले दो मुकाबले ग्रुप एफ के होंगे. पहले मैच में मेक्सिको का सामना स्वीडन से होगा वहीं दूसरे मुकाबले में साउथ कोरिया और जर्मनी के बीच होगा. रात के मुकाबले ग्रुप ई की टीमों के बीच होंगे. इसमें ब्राजील का सामना सर्बिया से और कोस्टा रिका का सामना स्विट्जलैंड से होगा.

स्वीडन बनाम मेक्सिको

पिछले मैच में जर्मनी के हाथों आखिरी क्षणों में गोल गंवाने के कारण ‘करो या मरो’ की स्थिति में पहुंचे स्वीडन को विश्व कप के नॉकआउट में पहुंचने के लिए मंगलवार को अच्छी फार्म में चल रहे मेक्सिको पर कम से कम दो गोल के अंतर से जीत दर्ज करनी होगी.

स्वीडन पिछले मैच में जर्मनी से ड्रॉ कराने की स्थिति में था, लेकिन टोनी क्रूस ने दूसरे हाफ के इंजुरी टाइम में गोल कर दिया. इससे स्वीडन यह मैच 1-2 से हार गया जिससे उसके अब दो मैचों में तीन अंक हैं. स्वीडन ने अपने पहले मैच में दक्षिण कोरिया को 1-0 से हराया था.

Soccer Football - 2018 World Cup Qualifications - Europe - Sweden vs Italy - Friends Arena, Stockholm, Sweden - November 10, 2017 Sweden’s Jakob Johansson celebrates scoring their first goal with team mates REUTERS/Kai Pfaffenbach - RC1709A735D0

मेक्सिको ग्रुप एफ में अब तक अपने दोनों मैच जीतकर शीर्ष पर है लेकिन उसकी भी अंतिम-16 में जगह पक्की नहीं हुई है क्योंकि मंगलवार को होने वाले एक अन्य मैच में अगर जर्मनी की टीम दक्षिण कोरिया को हरा देती है तो फिर तीन टीमों के समान छह - छह अंक हो जाएंगे और ऐसे में गोल अंतर महत्वपूर्ण बन जाएगा.

साउथ कोरिया बनाम जर्मनी

पहले मैच में मेक्सिको से हार के बाद दूसरे मैच में टोनी क्रूस के गोल के रूप संजीवनी पाने वाले जर्मनी की आगे की डगर ग्रुप एफ की अन्य टीमों की तरह अगर-मगर में फंसी हुई है और ऐसे में दक्षिण कोरिया के खिलाफ मैच में छोटी सी भी चूक मौजूदा चैंपियन को भारी पड़ सकती है.

क्रूस ने स्वीडन के खिलाफ दूसरे हाफ के इंजुरी टाइम के पांचवें मिनट में गोल करके जर्मनी को 2-1 से जीत दिलाई लेकिन टीम को अब भी मेक्सिको के खिलाफ 0-1 से हार कचोट रही है. जोकिम लियु की टीम को अगर विश्व कप के पहले दौर में बाहर होने वाली मौजूदा चैंपियन टीमों की सूची में छठे स्थान पर नाम दर्ज कराने से बचना है तो उसे दक्षिण कोरिया के खिलाफ पिछली गलतियों को भुलाकर नए सिरे से शुरुआत करनी होगी.

South Korea's players (top L to R) Jung Woo-young, Jeong Seung-hyeon, Kim Young-gwon, Lee Chung-yong, goalkeeper Jo Hyeon-woo, Son Heung-min, (bottom L to R) Ju Se-jong, Hong Chul, Lee Sung-woo, Hwang Hee-chan and Go Yo-han pose for a photo during a friendly football match between South Korea and Honduras in Deagu on May 28, 2018. World Cup-bound South Korea defeated Honduras 2-0 in the friendly match. / AFP PHOTO / Jung Yeon-je

जर्मनी की टीम 1938 के बाद से पहले दौर से बाहर नहीं हुई है लेकिन ग्रुप एफ में स्थिति बड़ी जटिल बनी हुई है. मेक्सिको के छह अंक हैं लेकिन उसकी नॉकआउट में जगह पक्की नहीं है जबकि दक्षिण कोरिया का एक भी अंक नहीं है लेकिन वह भी अंतिम-16 में पहुंचने की दौड़ में बना हुआ है.

कोस्टा रिका बनाम स्विट्जरलैंड

स्विट्जरलैंड विश्व कप के नॉकआउट में अपनी जगह पक्की करने के लिए कोस्टारिका के खिलाफ होने वाले ग्रुप ई के मैच में कम से कम एक अंक हासिल करने की कोशिश करेगा. जब सभी की निगाहें ब्राजील और सर्बिया के मैच पर टिकी होंगी तब स्विट्जरलैंड अंतिम-16 में जगह पक्की करने की कोशिश करेगा. इसके लिए उसे कोस्टारिका के खिलाफ ड्रॉ या जीत की जरूरत है. कोस्टारिका अपने पहले दोनों मैच गंवाकर पहले ही नॉकआउट की दौड़ से बाहर हो चुका है.

अगर स्विस टीम बड़ी जीत दर्ज करती है तो वह ग्रुप में शीर्ष पर भी पहुंच सकती है और ऐसे में दूसरे दौर में उसे मौजूदा चैंपियन जर्मनी से भिड़ना पड़ सकता है. अगर ब्राजील की टीम सर्बिया को हरा देती है तो स्विस टीम कोस्टारिका से हारने पर भी नॉकआउट में पहुंच जाएगी.

स्विट्जरलैंड ने अब तक अच्छा प्रदर्शन किया है. उसने ब्राजील को बराबरी पर रोका और फिर सर्बिया पर जीत दर्ज की. यही नहीं उसके तीन खिलाड़ियों जरदान शाचिरी, ग्रेनिट हाका और स्टीफन लिचस्टनेर को फीफा ने केवल जुर्माना लगाकर छोड़ दिया.

ब्राजील बनाम सर्बिया

पिछले चार विश्व कप में ग्रुप चरण में एक भी मैच नहीं गंवाने वाले ब्राजील को अगर अपना यह रिकॉर्ड बरकरार रखना है तो उसे सर्बिया के खिलाफ मैच में उतरने से पहले शुरुआती दौर से बाहर होने के डर से निजात पानी होगी. ब्राजील ने विश्व कप के ग्रुप चरण में अपने जो पिछले 38 मैच खेले हैं उनमें से केवल उसे एक बार 1998 में नॉर्वे के हाथों हार का सामना करना पड़ा था लेकिन तब तक उसकी टीम नॉकआउट में जगह बना चुकी थी. इस बीच उसने 29 मैच जीते और आठ ड्रॉ कराए.

Soccer Football - World Cup - Brazil Training - Saint Petersburg Stadium, Saint Petersburg, Russia - June 21, 2018 Brazil's Marcelo, Neymar and team mates during training REUTERS/Anton Vaganov - RC1308E59B20

अब सर्बिया के खिलाफ भी उसे जीत या फिर ड्रॉ की जरूरत है. ब्राजील ने ग्रुप ई में स्विट्जरलैंड से अपना पहला मैच 1-1 से ड्रॉ खेला लेकिन दूसरे मैच में उसने कोस्टारिका को 2-0 से हराया. उसके अभी दो मैचों में चार अंक हैं. स्विस टीम के भी इतने ही अंक हैं.

सर्बिया पिछले मैच में स्विट्जरलैंड से हार के कारण तीन अंक के साथ ग्रुप में तीसरे स्थान पर है और वह जीत दर्ज करने पर ही अंतिम-16 में जगह बना पाएगा. अगर सर्बिया जीत हासिल करता है और उधर ग्रुप के दूसरे मैच में स्विट्जरलैंड भी कोस्टारिका को हरा देता है तो फिर ब्राजील विश्व कप में पहली बार पहले दौर में बाहर हो जाएगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi