S M L

FIFA World Cup 2018 : अपनी टीम की हौसलाअफजाई के लिए 5,145 किमी साइकिल चलाकर मास्को पहुंचा प्रशंसक

28 वर्षीय साइकिलिस्ट फहद ने कहा, ' मैं अपनी टीम का समर्थन करता चाहता था और इसीलिए, मैंने यह यात्रा की'

FP Staff Updated On: Jun 14, 2018 07:25 PM IST

0
FIFA World Cup 2018 : अपनी टीम की हौसलाअफजाई के लिए 5,145 किमी साइकिल चलाकर मास्को पहुंचा प्रशंसक

ट्रांसपोर्ट के अत्याधुनिक साधनों की बदौलत प्रशंसक अपनी टीमों का समर्थन करने के लिए दुनिया के किसी भी कोने में पहुंच जाते हैं. लेकिन कोई अपनी टीम की हौसलाअफजाई के लिए दो पहियों पर चार देश पार करके आए तो उसके जज्बे को सलाम करना चाहिए. निश्चित तौर पर फीफा विश्व कप में हिस्सा ले रही टीमों के प्रशंसकों का जुनून आंका नहीं जा सकता. अपनी टीमों का समर्थन करने के लिए प्रशंसक हर जगह से रूस पहुंच रहे हैं, लेकिन एक प्रशंसक ने जुनून की हद को पार करते हुए 5,145 किलोमीटर का रास्ता साइकिल से तय कर रूस में प्रवेश किया.

फीफा विश्व कप में गुरुवार शाम को मेजबान टीम रूस की भिड़ंत सऊदी अरब से हो रही है. ऐसे में फहद अल-याहया हर हाल में इस मैच में उपस्थित रहकर अपनी टीम का समर्थन करने के लिए इतना लंबा सफर तय कर मास्को पहुंचे. फहद रियाद से 75 दिनों की यात्रा के बाद मास्को पहुंचे. 28 वर्षीय साइकिलिस्ट फहद ने कहा, 'मैं अपनी टीम का समर्थन करता चाहता था और इसीलिए, मैंने यह यात्रा की.' इस सफर के दौरान फहद ने कई तरह की दिक्कतों का सामना किया. उन्हें पीठ में दर्द की शिकायत हुई और एक वक्त ऐसा भी आया, जब उनकी भिड़ंत ट्रक से हो गई, लेकिन उनका सफर नहीं रुका और अब वह अपनी टीम की हौसलअफजाई के लिए रूस में हैं.

सऊदी अरब के इस प्रशंसक ने कहा कि रियाद क्षेत्र के प्रिंस फैसल बेन बदार अब्दुल्लाजीज ने मुझे राष्ट्र ध्वज दिया और मैं इसे 5,145 किलोमीटर का रास्ता तय करते मास्को में सऊदी अरब के दूतावास पहुंचा हूं. मैंने ध्वज राजदूत राएद करीमिल को सौंपा है. फहद इसके अलावा, सेंट पीटर्सबर्ग में सऊदी अरब की टीम के बेस पहुंचे, जहां सऊदी अरब फुटबॉल महासंघ के अध्यक्ष अदेल एजात ने उनका स्वागत किया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
International Yoga Day 2018 पर सुनिए Natasha Noel की कविता, I Breathe

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi