S M L

FIFA World Cup 2018, France vs Belgium : सैमुअल उम्टीटी के हेडर से फ्रांस तीसरी बार पहुंचा फाइनल में

फ्रांस ने सेंट पीटर्सबर्ग स्टेडियम में खेले गए पहले सेमीफाइनल मैच में रोमांचक और कड़े मुकाबले में बेल्जियम को 1-0 से मात दी

Updated On: Jul 11, 2018 02:31 AM IST

FP Staff

0
FIFA World Cup 2018, France vs Belgium : सैमुअल उम्टीटी के हेडर से फ्रांस तीसरी बार पहुंचा फाइनल में
Loading...

डिफेंडर सैमुअल उम्टीटी के गोल की बदौलत फ्रांस ने मंगलवार देर रात सेंट पीटर्सबर्ग स्टेडियम में खेले गए पहले सेमीफाइनल मैच में रोमांचक और कड़े मुकाबले में बेल्जियम को 1-0 से मात देकर फीफा विश्व कप के 21वें संस्करण के फाइनल में जगह बना ली है. मैच का एकमात्र गोल सैमुअल उम्टीटी ने 51वें मिनट में हेडर के जरिये किया.

फ्रांस की टीम तीसरी बार विश्व कप के फाइनल में जगह बनाने में सफल रही. टीम ने 1998 में अपनी ही मेजबानी में हुए विश्व कप फाइनल में ब्राजील को हराकर खिताब जीता था, लेकिन 2006 के फाइनल में पेनल्टी शूटआउट में इटली से हार गई थी. फ्रांस की टीम अब 15 जुलाई को होने वाले फाइनल में इंग्लैंड और क्रोएशिया के बीच बुधवार को होने वाले दूसरे सेमीफाइनल के विजेता से भिड़ेगी.

बेल्जियम के खिलाफ विश्व कप के तीन मैचों में यह फ्रांस की तीसरी जीत है. इससे पहले फ्रांस ने 1938 में पहले दौर का मुकाबला 3-1 से जीतने के बाद 1986 में तीसरे दौर के प्ले ऑफ मैच में 4-2 से जीत दर्ज की थी. इसके साथ ही बेल्जियम का 24 मैचों का अजेय अभियान भी थम गया. इस दौरान उसने 78 गोल किए और मंगलवार के मैच से पहले सिर्फ एक मैच में टीम गोल नहीं कर पाई. बेल्जियम की टीम हालांकि विश्व कप में अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के साथ विदा हुई और अपने प्रदर्शन से लोगों का दिल जीतने में सफल रही.

बेल्जियम के लिए बाएं छोर से ईडन हेजार्ड ने कई अच्छे मूव बनाए लेकिन टीम को दाएं छोर पर रोमेलु लुकाकू की नाकामी का खामियाजा भुगतना पड़ा. फ्रांस के स्टार स्ट्राइकर ओलिविए जिरू भी कई मौकों पर अच्छे मूव को फिनिश करने में नाकाम रहे, लेकिन उम्टीटी ने टीम को मुश्किल में फंसने से बचा लिया.

मैच की महत्वपूर्ण बातें

बेल्जियम की टीम ने थॉमस म्युनियर के निलंबन के कारण उनकी जगह मूसा डेम्बले को उतारा जबकि फ्रांस ने निलंबन के बाद वापसी कर रहे ब्लेस मातुइदी को कोरेनटिन टोलिसो की जगह शुरुआती एकादश में शामिल किया.

दोनों टीमों ने मैच की सतर्क शुरुआत की. बेल्जियम की टीम हालांकि शुरुआत में कुछ बेहतर दिखी. टीम ने पांचवें मिनट में अच्छा मूव बनाया और गेंद बाएं छोर पर हेजार्ड के पास पहुंची, लेकिन उनके क्रास को फ्रांस के डिफेंडरों ने बाहर कर दिया जिससे बेल्जियम को कॉर्नर किक मिली. बेल्जियम की टीम हालांकि नासेर चेडली के दिशाहीन शॉट के कारण कॉर्नर किक का फायदा नहीं उठा सकी.

फ्रांस ने भी 10वें मिनट में बाएं छोर से अच्छा मूव बनाया, लेकिन पेनल्टी बॉक्स में सतर्क खड़े बेल्जियम के डिफेंडरों ने आसानी से उनके प्रयास को नाकाम कर दिया. फ्रांस ने दो मिनट बाद बेल्जियम के मूव को विफल करते हुए पलटवार किया, लेकिन युवा कीलियन एम्बाप्पे लंबे पास तक पहुंचते उससे पहले ही गोलकीपर थिबाट कोर्टोइस ने आगे बढ़कर गेंद को अपने कब्जे में ले लिया.

बेल्जियम की टीम ने दाएं छोर से लगातार हमले किए, लेकिन उसके खिलाड़ी फ्रांस के डिफेंस को भेदने में नाकाम रहे. इसी तरह के एक मूव पर केविन डि ब्रुइन ने क्रास से गेंद हेजार्ड के पास पहुंची लेकिन उनका दमदार शॉट गोल के करीब से बाहर निकल गया.

Belgium displayed to get close to the opposition goal, they did not manage to show the opportunism

फ्रांस को 18वें मिनट में बेल्जियम के पेनल्टी बॉक्स में मची अफरातफरी के बाद गोल करने का मौका मिला, लेकिन मातुइदी सीधे गेंद को कोर्टोइस के हाथों में खेल गए. अगले ही मिनट में हेजार्ड फिर हावी दिखे और उनके तेज शॉट को फ्रांस के राफेल वराने ने अपने हेडर से लगभग गोल के अंदर पहुंचा ही दिया था.

बेल्जियम को कॉर्नर किक मिली. गेंद टोबी एल्डरवेल्ड के पास पहुंची जिनके दमदार शॉट को गोलकीपर ह्यूगो लॉरिस ने दायीं ओर गोता लगाते हुए बाहर का रास्ता दिखा दिया. एम्बाप्पे की तरह ओलिविए जिरू को भी पलटवार पर लंबा पास मिला और वह इस तक पहुंचने में सफल भी रहे लेकिन गेंद को गोल की राह नहीं दिखा सके.

फ्रांस को 30वें मिनट में फ्री किक मिली. एंटोनी ग्रिजमैन ने सीधा शॉट लेने की बजाए गेंद बेंजामिन पेवार्ड की ओर बढ़ाई जिनके शॉट पर जिरू हेडर से गोल नहीं कर पाए.

एम्बाप्पे के पास पर तीन मिनट बाद जिरू को गोल करने का एक और मौका मिला और उन्हें सिर्फ गोलकीपर को छकाना था लेकिन उनका बेदम और दिशाहीन शॉट बाहर निकल गया. फ्रांस ने पलटवार पर कई शानदार मूव बनाए लेकिन टीम इन्हें फिनिशिंग टच नहीं दे सकी. टीम को 40वें मिनट में बढ़त बनाने का सुनहरा मौका मिला, लेकिन पेवार्ड के शॉट को शुरुआत में चूकने के बाद कोर्टोइस ने अपने पैर से इसे बाहर का रास्ता दिखा दिया.  मध्यांतर तक दोनों टीमें 0-0 से बराबर थीं.

दूसरे हाफ का पहला अच्छा मूव फ्रांस ने बनाया. लेकिन जिरू के शॉट को बेल्जियम के डिफेंडर ने बाहर कर दिया जिससे टीम को कॉर्नर किक मिली. ग्रिजमैन की सटीक कार्नर किक पर उम्टीटी ने फेलनी को पछाड़ते हुए हेडर से गेंद को गोल में पहुंचाकर 51वें मिनट में फ्रांस को बढ़त दिला दी.

फ्रांस को इसके तुरंत बाद फ्री किक भी मिली लेकिन टीम इसका फायदा नहीं उठा सकी. फ्रांस ने लगातार हमले किए. मातुइदी को दाएं छोर से मिले क्रास पर गोल करने का मौका मिला लेकिन उनका शॉट डिफेंडर से टकरा गया. कुछ ही क्षणों बाद एम्बाप्पे ने सभी को छकाते हुए गेंद जिरू की ओर बढ़ाई, लेकिन एक बार फिर वह कोर्टोइस से पार पाने में नाकाम रहे.

बेल्जियम ने 60वें मिनट में मैच का पहला बदलाव करते हुए डेम्बले की जगह ड्राइस मर्टेंस को उतारा. अगले ही मिनट डि ब्रुइन ने टीम को बराबरी दिलाने का मौका गंवा दिया. तीन मिनट बाद मातुइदी के खिलाफ फाउल के लिए हेजार्ड को मैच का पहला यलो कार्ड दिखाया गया. बेल्जियम ने बराबरी हासिल करने के लिए हमले जारी रखे. मर्टेंस के क्रास पर फेलनी ने शानदार हेडर लगाया, लेकिन गेंद गोल के करीब से बाहर निकल गई.

भाग्य इस बीच जिरू से रूठा रहा और ग्रिजमैन के अच्छे पास पर वह गेंद को बाहर मार बैठे. बेल्जियम की टीम का धैर्य इस बीच जवाब देने लगा और वेल्डरवेल्ड को मातुइदी के खिलाफ गैरजरूरी फाउल के लिए यलो कार्ड दिखाया गया.

बेल्जियम को 81वें मिनट में बराबरी हासिल करने का मौका मिला, लेकिन एक्सेल विटसेल के दमदार शॉट को लॉरिस ने रोक दिया. हेजार्ड के खिलाफ फाउल के लिए एनगोलो कांते को यलो कार्ड दिखाया गया. बेल्जियम को फ्री किक मिली लेकिन टीम गोल करने में नाकाम रही.

फ्रांस को इंजरी टाइम के तीसरे मिनट में बढ़त दोगुनी करने का मौका मिला लेकिन कोर्टोइस ने ग्रिजमैन के शॉट को दायीं ओर डाइव लगाकर रोक दिया. कोर्टोइस ने इसके बाद अंतिम मिनट में कोरेनटिन टोलिसो के शानदार शॉट को भी गोल में जाने से रोका. कोर्टोइस के शानदार प्रदर्शन से संभवत: बेल्जियम को बड़ी हार से बचाया.

 

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi