S M L

FIFA World Cup 2018, France v Argentina : मेसी की निराशाजनक विदाई, फ्रांस ने अर्जेंटीना को 4-3 से हराकर बाहर किया

कीलियन एम्बाप्पे के दो गोलों की बदौलत फ्रांस ने दो बार की विजेता अर्जेंटीना को पराजित कर क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली है

Updated On: Jul 01, 2018 12:36 AM IST

FP Staff

0
FIFA World Cup 2018, France v Argentina : मेसी की निराशाजनक विदाई, फ्रांस ने अर्जेंटीना को 4-3 से हराकर बाहर किया

फ्रांस ने कीलियन एम्बाप्पे के तेज तर्रार खेल और दो शानदार गोल की बदौलत अर्जेंटीना की रक्षापंक्ति की कमियों को उजागर करते हुए शनिवार को विश्व कप अंतिम 16 के रोचक मुकाबले में 4-3 से जीत दर्ज कर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया. ब्राजील में 2014 में आयोजित फीफा विश्व कप के 20वें संस्करण का फाइनल खेलने वाली दोनों टीमें अब इस टूर्नामेंट के 21वें संस्करण से बाहर हो गई हैं. विजेता जर्मनी को ग्रुप स्तर से ही बेआबरू होकर निकलना पड़ा था और अब फ्रांस ने उपविजेता अर्जेटीना को भी बाहर का रास्ता दिखा दिया.

फ्रांस की जीत में युवा फारवर्ड कीलियन एम्बाप्पे के दो गोलों का अहम योगदान है. कजान एरिना में खेले गए इस नॉकआउट मुकाबले में फ्रांस के लिए एम्बाप्पे के अलावा एंटोनी ग्रीजमैन ने पेनल्टी पर गोल किया, जबकि बेंजामिन पावर्ड ने भी एक गोल किया. दूसरी ओर, दुनिया के बेहतरीन फुटबॉल खिलाड़ियों में शुमार लियोनेल मेसी की अगुआई में खेल रही अर्जेटीनी टीम के लिए एंजेल डी मारिया, गैब्रिएल मार्सेडो और सर्गियो अगुएरो ने गोल किए. ये हार अर्जेटीना के स्टार खिलाड़ी लियोनेल मेसी के लिए बड़ा झटका रही. वह इस मैच में एक भी गोल नहीं कर सके और उनकी विदाई निराशाजनक रही.

फ्रांस के कीलियन एम्बाप्पे ने तेज तर्रार खेल और अपनी आक्रामकता से सभी को प्रभावित किया जो टीम को स्पॉट किक दिलाने में भी अहम रहे जिनकी बदौलत टीम पहले हाफ में खतरनाक दिख रही थी, हालांकि गेंद पर कब्जे के मामले में अर्जेंटीना आगे रही. फ्रांस और अर्जेंटीना 12वीं बार एक दूसरे से भिड़ रहे थे. दक्षिण अमेरिकी देश ने पिछले 11 मैचों में से छह में जीत दर्ज की थी जबकि दो मुकाबले ड्रॉ रहे थे.

messi of Argentina will have to do something truly exceptional to save their World Cup now.

मैच की महत्वपूर्ण बातें

फ्रांस की टीम ने शुरूआती एकादश में छह बदलाव किए थे, उसने पॉल पोग्बा और कीलियन एम्बाप्पे दोनों को टीम में चुना. अर्जेंटीना के लिए पिछले मैच के नायक रहे मार्को रोजो को एम्बाप्पे को बॉक्स के अंदर गिराने के लिए फ्रांस को पेनल्टी प्रदान की गई. ग्रिजमैन ने 13वें मिनट में मिली इस पेनल्टी का फायदा उठाने में जरा चूक नहीं की और शानदार गोल कर अपनी टीम को 1-0 से आगे कर दिया, जबकि अर्जेंटीना के गोलकीपर फ्रैंको अरमानी देखते ही रह गए.

एम्बाप्पे ने अपनी फुर्ती से अर्जेंटीना के डिफेंस की नाक में दम किए हुए थे और अर्जेंटीना के निकोलस टैगलिफियाको ने 20वें मिनट में उन्हें गिरा दिया. हालांकि उन्हें रैफरी ने पीला कार्ड तो दिया, लेकिन फ्रांस को फ्री किक नहीं दी. इसके बाद दबाव में आई अर्जेंटीना टीम के लिए तेज तर्रार एम्बाप्पे को रोकना मुश्किल साबित हो रहा था जो सभी खिलाड़ियों में काफी फुर्तीले और आक्रामक दिख रहे थे.

फ्रांस के लिए इससे अच्छी शुरुआत नहीं हो सकती थी. लेकिन डि मारियो ने हाफ टाइम से चार मिनट पहले अपनी टीम को बराबरी पर लाकर फ्रांस की उम्मीदों पर पानी फेर दिया जिससे मैदान में बैठे अर्जेंटीनी प्रशसंकों ने राहत की सांस ली. वहीं स्टैंड में बैठे अर्जेंटीना के सुपरस्टार डिएगो मैराडोना ने भी भगवान का शुक्रिया अदा किया.

डि मारियो ने बायें पैर से 35 गज की दूरी से तेज शॉट लगाया और गेंद दनदनाते हुए गोलकीपर हुगो लोरिस के हाथ के पास से होती हुई नेट में दायीं ओर जा लगी. अर्जेंटीनी प्रशंसक चिल्ला-चिल्लाकर गोल का जश्न मनाने लगे. पहले हाफ में अर्जेंटीना ने गेंद कब्जाने के मामले दबदबा तो बनाया, लेकिन मेसी के बावजूद मौकों का फायदा नहीं उठा सके. डग आउट में मैनेजर डिडिएर डेसचैम्प्स के चेहरे पर राहत बराबरी के बाद साफ देखी जा सकती थी.

छोर बदलने के तीन मिनट बाद ही गैब्रिएल मार्सेडो (48वें) ने अर्जेंटीना के लिए दूसरा गोल किया, कप्तान लियोनल मेसी के शानदार शॉट को उन्होंने सिर्फ पैर से छू कर गोल की ओर दिशा दी और यह शानदार गोल. फ्रांसिसी गोलकीपर लोरिस के लड़खड़ाते ही रह गए.

पवार्ड का 57वें मिनट में किया गोल अद्भुत रहा, जिन्होंने अपने देश के लिए पहला गोल भी दागा. लुकास हर्नांडिज के क्रास पर पवार्ड ने हाफ वॉली को नेट के ऊपरी हिस्से में पहुंचाकर बराबरी दिलाई.

एम्बाप्पे ने बॉक्स के अंदर 64वें मिनट में बायें पैर से शॉट लगाया जो अर्जेंटीनी गोलकीपर के नीचे से निकलता हुआ नेट में पहुंचा. चार मिनट बाद एम्बाप्पे के दूसरे गोल ने फ्रांस के अंतिम आठ में पहुंचा दिया. उन्होंने ग्रिजमैन, पोग्बा और ओलिवर गिरोड की मदद से यह गोल किया.

अर्जेंटीना के लिए तीसरा गोल सर्गियो एगुएरो ने इंजुरी टाइम (90 प्लस तीन मिनट) में किया. लेकिन लेकिन फ्रांस ने अर्जेंटीना को 4-3 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi