S M L

FIFA World Cup 2018 :  जानिए मैराडोना का कौन सा रिकॉर्ड है मेसी के निशाने पर

विश्व कप में सर्वाधिक गोल करने वाले कप्तान बन सकते हैं अर्जेंटीना के दिग्गज खिलाड़ी लियोनल मेसी

Updated On: Jun 13, 2018 06:07 PM IST

FP Staff

0
FIFA World Cup 2018 :  जानिए मैराडोना का कौन सा रिकॉर्ड है मेसी के निशाने पर

रूस में 14 जून को फुटबॉल के महासमर की शुरुआत के साथ ही विश्व कप में नए रिकॉर्ड बनने और पुराने रिकॉर्डों के टूटने का सिलसिला भी शुरू हो जाएगा. रूस के 11 शहरों के 12 स्थलों पर होने वाले विश्व कप के दौरान कई रिकॉर्ड दांव पर लगे होंगे और इसमें सबसे बड़ा आकर्षण अर्जेंटीना के दिग्गज खिलाड़ी लियोनल मेसी होंगे जो विश्व कप में सर्वाधिक गोल करने वाले कप्तान बन सकते हैं.

विश्व कप में कप्तान के रूप में सर्वाधिक गोल का रिकॉर्ड अर्जेंटीना के महान खिलाड़ी और मे के पूर्व कोच डिएगो मैराडोना के नाम दर्ज है जो राष्ट्रीय टीम की अगुआई करते हुए विश्व कप में छह गोल दाग चुके हैं. मेसी के पास रूस में इस रिकॉर्ड को तोड़ने का सुनहरा मौका होगा. उनके नाम पर विश्व कप में पांच गोल दर्ज हैं जिसमें से चार उन्होंने 2014 में ब्राजील में कप्तान के तौर किए थे. यह दिग्गज खिलाड़ी अगर रूस में दो और गोल करता है तो मैराडोना की बराबरी कर लेगा, जबकि तीन गोल के साथ वह इस रिकॉर्ड को तोड़ देंगे.

थॉमस मुलर के नाम दर्ज हो सकता है ये कीर्तिमान

जर्मनी के स्टार थॉमस मुलर तीन विश्व कप में पांच या इससे अधिक गोल करने वाला पहला खिलाड़ी बनने के इरादे से उतरेंगे. मुलर के अलावा जर्मनी के हमवतन मिरोस्लाव क्लोस और पेरू के तियोफिलो कुबिलास ही एक से अधिक विश्व कप में पांच या इससे अधिक गोल कर पाए हैं. क्लोस 16 गोल के साथ विश्व कप में सर्वाधिक गोल करने वाले खिलाड़ी हैं और मुलर उनसे छह गोल पीछे हैं.

हदारी बन जाएंगे सबसे अधिक उम्र के खिलाड़ी

इजिप्ट के गोलकीपर और कप्तान एसाम अल हदारी अगर रूस में विश्व कप मुकाबले में उतरते हैं तो वह विश्व कप में खेलने वाले सबसे अधिक उम्र के खिलाड़ी बन जाएंगे. हदारी की उम्र 45 साल, पांच महीने हैं, जबकि पिछला रिकॉर्ड ब्राजील 2014 में कोलंबिया के फेरिड मोंड्रेगन ने बनाया था जो 43 साल, तीन दिन की उम्र में अपने देश का प्रतिनिधित्व करने उतरे थे.

कोच भी बनाएंगे कुल उम्र के मामले में विश्व रिकॉर्ड

विश्व कप में उम्रदराज खिलाड़ियों के अलावा उम्रदराज कोच भी अपनी टीमों का मार्गदर्शन कर रहे हैं और अगर प्रीक्वार्टर फाइनल में उरूग्वे और पुर्तगाल की टीमें आमने-सामने होती हैं तो इनके कोच क्रमश: आस्कर तबारेज और फर्नांडो सांतोस कुल उम्र के मामले में नया विश्व रिकॉर्ड बनाएंगे. उस समय इन दोनों कोचों की संयुक्त उम्र 135 साल, तीन महीने होगी और ये 133 साल, नौ महीने के मौजूदा रिकॉर्ड को तोड़ देंगे जो यूनान के ओटो रेहागेल और नाइजीरिया के लार्स लेगरबैक ने साउथ अफ्रीका में 2010 में बनाया था.

मार्क्वेज  होंगे पांच विश्व कप में खेलने वाले खिलाड़ी

राफा मार्क्वेज भी मौजूदा टूर्नामेंट के सबसे उम्रदराज खिलाड़ियों की सूची में शामिल हैं और वह भी अपना नाम इतिहास में दर्ज कराने के करीब हैं. मार्क्वेज को अगर रूस में खेलने का मौका मिलता है तो वह पांच विश्व कप में खेलने वाले दुनिया के सिर्फ तीसरे और मेक्सिको के दूसरे खिलाड़ी बन जाएंगे. अब तक मेक्सिको के एंटोनियो कर्बाजल और जर्मनी के लोथार मथायस ही यह उपलब्धि हासिल कर पाए हैं. इटली के जियानलुइगी बुफोन भी पांच विश्व कप में टीम का हिस्सा थे, लेकिन फ्रांस में 1998 में हुए विश्व कप में उन्हें खेलने का मौका नहीं मिला था.

मार्क्वेज की नजरें एक और रिकॉर्ड पर होगी और इसके लिए उनके साथ पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो और ऑस्ट्रेलिया के टिम काहिल भी दावेदार होंगे. ये तीनों अगर रूस 2018 में गोल करते हैं तो चार विश्व कप में गोल करने वाले खिलाड़ियों की सूची में शामिल हो जाएंगे. इससे पहले जर्मनी के युवे सीलर और क्लोस तथा ब्राजील के पेले ही यह उपलब्धि हासिल कर पाए हैं.

डेसचैंप्स हासिल कर सकते हैं ये उपलब्धि

अब तक मारियो जगालो और फ्रेंज बैकेनबाउर ही खिलाड़ी और कोच दोनों के रूप में विश्व कप जीतने में सफल रहे हैं, लेकिन अगर फ्रांस रूस में खिताब जीतने में सफल रहा तो दिदिएर डेसचैंप्स का नाम भी इस सूची में शामिल हो जाएगा. डेसचैंप्स की अगुआई में 1998 में फ्रांस ने अपनी सरजमीं पर खिताब जीता था.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi