विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

फीफा अंडर-17 विश्व कप : मेक्सिको की चुनौती का सामना करने को तैयार ईरान

पहली बार अंतिम आठ में जगह बनाने के इरादे से खेलेगी ईरानी टीम

FP Staff Updated On: Oct 16, 2017 03:41 PM IST

0
फीफा अंडर-17 विश्व कप : मेक्सिको की चुनौती का सामना करने को तैयार ईरान

ग्रुप चरण में शानदार प्रदर्शन के बाद एशियाई दिग्गज ईरान आत्मविश्वास से ओतप्रोत है. ईरान मंगलवार को मडगांव में फीफा अंडर-17 विश्व कप में मेक्सिको के खिलाफ जीत की इस लय को बरकरार रखने के इरादे से उतरेगा. ईरान ने गिनी को 3-1 से, जर्मनी को 4-0 से और कोस्टा रिका को 3-0 से हराकर ग्रुप सी में शीर्ष स्थान पर कब्जा किया था.

चौथी बार टूर्नामेंट में खेल रहे ईरान के इरादे पहली बार अंतिम आठ में पहुंचने के हैं. उसे हालांकि इस मैच में डिफेंडर और कप्तान मोहम्मद गोबेशावी की कमी खलेगी, जिन्हें कोस्टा रिका के खिलाफ टूर्नामेंट का दूसरा यलो कार्ड मिल गया. कोच अब्बास सी ने कहा, 'हम एक टीम के रूप में खेलेंगे जैसा कि खेलते आए हैं. मेक्सिको के खिलाड़ी दम खम और रफ्तार में काफी तेज हैं लिहाजा चुनौती आसान नहीं होगी.'

दो बार की चैंपियन मेक्सिको की टीम अपेक्षा के अनुरूप खेल नहीं दिखा सकी है. ग्रुप एफ में तीसरे स्थान पर रहने के बावजूद उसने तीसरे स्थान की सर्वश्रेष्ठ टीम के रूप में प्रीक्वार्टर फाइनल में जगह बनाई. उसने ईराक से 1-1 से ड्रॉ खेला, इंग्लैंड से 2-3 से हार का सामना करना पड़ा और चिली से गोलरहित ड्रॉ खेला.

माली के खिलाफ कड़ा टेस्ट होगा इराक का

पिछली बार का उप विजेता माली मडगांव में इराक के खिलाफ मंगलवार को दूसरे प्रीक्वार्टर फाइनल मैच में दावेदार के रूप में शुरुआत करेगा. दो बार के चैंपियन माली का अब तक का प्रदर्शन अच्छा रहा है और वह ग्रुप बी में दूसरे स्थान पर रहकर नॉकआउट चरण में पहुंचा.

वह ग्रुप में शीर्ष पर रहने वाले पराग्वे से 2-3 से हार गया था, लेकिन इसके बाद उसने शानदार वापसी करके तुर्की को 3-0 से और न्यूजीलैंड को 3-1 से हराया था.

अफ्रीकी टीम की तेजी और दमखम के सामने इराकी रक्षापंक्ति की कड़ी परीक्षा होगी. यह देखना दिलचस्प होगा कि वे किस तरह से माली के फारवर्ड को रोकते हैं. इराक इस मैच में अपने कप्तान और स्टार खिलाड़ी मोहम्मद दाऊद के बिना उतरेगा.

माली के स्ट्राइकर लसाना एनडियाये और जिमूसा ट्राओरे ने अग्रिम पंक्ति में अब तक अच्छा प्रदर्शन किया है. उन्होंने अपनी तेजी से विरोधी टीम की रक्षापंक्ति की कड़ी परीक्षा ली है, लेकिन उन्होंने कई मौके गंवाए हैं और उन्हें ऐसी चूक से बचना होगा.

आक्रामक मिडफील्डर सलीम जिदोऊ भी हादजी द्राम के साथ मिलकर इराकी रक्षापंक्ति की कड़ी परीक्षा लेंगे. माली के लिए सबसे बड़ी चिंता उसकी रक्षापंक्ति है जिसकी कमजोरी पराग्वे के खिलाफ खुलकर सामने आ गई थी और यह देखना होगा कि इराकी दाऊद की अनुपस्थिति में इसका फायदा कैसे उठाते हैं.

इराक ग्रुप एफ में इंग्लैंड के बाद दूसरे स्थान पर रहा था. उसने पहला मैच मेक्सिको से 1-1 से ड्रॉ खेला और फिर चिली को 3-0 से हराया, लेकिन अंतिम मैच में इंग्लैंड से 0-4 से हार गया. इस तरह से उसने चार अंक के साथ अगले दौर में प्रवेश किया.

इंग्लैंड के खिलाफ इराक का प्रदर्शन निराशाजनक रहा था और उसके खिलाड़ी इससे सबक लेकर माली के खिलाफ ऐसी कोई गलती नहीं दोहराना चाहेंगे. उस मैच में दाऊद को टूर्नामेंट का दूसरा यलो कार्ड मिला था, जिसके कारण उन्हें इस मैच से बाहर बैठना पड़ेगा. दाऊद आक्रमण की कमान संभालते हैं और उन्होंने अब तक टीम की तरफ से तीन गोल किए थे और इराक को उनकी कमी खलेगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi