S M L

यह क्रिकेट नहीं फुटबॉल है, खिलाड़ियों की शिकायत के बावजूद नहीं बदलेगा कोच!

2019 के एशिन कप तक बरकरार रहेगी भारतीय फुटबॉल टीम के कोच कांस्टेंटाइन की कुर्सी

Updated On: Aug 09, 2018 11:26 AM IST

FP Staff

0
यह क्रिकेट नहीं फुटबॉल है, खिलाड़ियों की शिकायत के बावजूद नहीं बदलेगा कोच!

भारतीय सीनियर फुटबॉल टीम के कोच कांस्टेंटाइन के खिलाफ भले ही कुछ सीनियर खिलाड़ियों की बगावत की खबर फैल रही हो लेकिन एआईएफएफ के महासचिव कुशाल दास का कहना है कि उन्हें कम से कम 2019 एशियन कप तक भारत के कोच बने रहेंगे.

इस बयान से उन्होंने उन अटकलों को शांत कर दिया जिनमें सीनियर खिलाड़ियों की शिकायत के बाद उनकी बर्खास्तगी की बात चल रही थी.

कुशाल दास इसे सोशल मीडिया पर फैल रही अफवाह करार दिया और कहा कि उन्हें इस महाद्वीपीय टूर्नामेंट तक कोच के साथ करार खत्म करने का कोई कारण नहीं दिखता क्योंकि उनका अनुबंध तब ही खत्म होगा.

सीनियर टीम के साथ दूसरे कार्यकाल में ब्रिटिश कोच के मार्गदर्शन में टीम को लगातार 13 मैचों में हार का मुंह नहीं देखना पड़ा था और यह लय मार्च में 2019 एएफसी एशियन कप क्वालीफाइंग के ग्रुप के अंतिम मैच में किर्गिस्तान से 1-2 से मिली हार के बाद टूटी.

दास ने कहा, ‘हमें उन्हें हटाने का कोई कारण नहीं दिखता. उन्होंने नतीजे दिये हैं और फिर सैफ (एसएएफएफ) कप भी आ रहा है और फिर एशियन कप है. उनका अनुबंध अगले साल 31 जनवरी को समाप्त होगा. ’

यह पूछने पर कि कांस्टेनटाइन एशियन कप में टीम का मार्गदर्शन करेंगे तो दास ने पॉजिटिव जवाब दिया

एशियन कप के अंतिम दौर के लिये क्वालीफाई करने के बाद कुछ सीनियर फुटबालरों ने मुंबई में नेशनल कैंप के दौरान महासचिव से मुलाकात की और अपनी शिकायत दर्ज कराई थी.

कांस्टेनटाइन फरवरी 2016 में टीम से जुड़े थे जब नेशनल टीम की फीफा रैंकिंग 173 थी और कोच ने उन्हें टॉप 100 में पहुंचाने में मदद की और ऐसा 20 साल से ज्यादा समय के बाद हुआ.

हालांकि ऐसी अटकलें लगायी जा रही हैं कि कांस्टेनटाइन और कप्तान सुनील छेत्री के बीच तालमेल ठीक नहीं है.

(एजेंसी इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi