S M L

ZIM vs BAN: भारतीय कोच की बदौलत जिम्बाब्वे की टीम ने बांग्लादेश पर हासिल की अहम जीत

जिम्बाब्वे ने 5 साल बाद कोई टेस्ट मैच जीता और 17 साल बाद उसे विदेशी धरती पर टेस्ट जीत हासिल हुई

Updated On: Nov 06, 2018 04:30 PM IST

FP Staff

0
ZIM vs BAN: भारतीय कोच की बदौलत जिम्बाब्वे की टीम ने बांग्लादेश पर हासिल की अहम जीत
Loading...

जिम्बाब्वे की टीम ने सिकंदर रजा की शानदार गेंदबाजी और भारत के लालचंद राजपूत की कोचिंग में पांच साल बाद ऐतिहासिक जीत हासिल की है.बांग्लादेश को उसी की जमीन पर 151 रनों से मात देकर जिम्बाब्वे ने पांच साल बाद किसी टेस्ट मैच में जीत हासिल की है. इसके साथ ही 17 साल बाद ऐसा मौका आया है जब जिम्बाब्वे को 17 साल बाद विदेशी धरती पर जीत हासिल हुई है.

जिम्मबाब्वे की इस जीत का श्रेय उनके नए कोच लालचंद राजपूत को भी जाता है. जिम्बाब्वे के पूर्व कप्तान हीथ स्ट्रीक के हेड कोच का पद छोड़ने के बाद भारत के लालचंद राजपूत ने इस टीम की बागडोर संभाली थी. भारत में लालू के नाम से मशहूर लालचंद राजपूत 2007 में टीम इंडिया के मैनेजर थे और धोनी की अगुवाई में उस टीम ने वर्ल्ड टी20 पर कब्जा किया था.भारत में लालू के नाम से मशहूर लालचंद राजपूत 2007 में टीम इंडिया के मैनेजर थे और धोनी की अगुवाई में उस टीम ने वर्ल्ड टी20 पर कब्जा किया था. इसके बाद लालचंद राजपूत साल 2008 में मुंबई इंडियंस के कोच रहे लेकिन इस दौरान वो विवादों में फंस गए. हालांकि जिम्बाब्वे की टीम के साथ उन्होंने काफी मेहनत की है, इसका नतीजा 17 साल बाद विदेशी धरती पर जीत के साथ निकला है

321 रनों के मुश्किल लक्ष्य का पीछा कर रही बांग्लादेश की टीम चौथे दिन 169 रनों पर ढेर हो गई. जिम्बाब्वे की जीत के हीरो रहे ब्रेंडन मावुता जिन्होंने अपने पहले ही टेस्ट मैच में दूसरी पारी के दौरान चार विकेट झटके. उनके साथ-साथ ऑफ स्पिनर सिकंदर रजा ने भी 3 विकेट लेकर जिम्बाब्वे की जीत में अहम भूमिका अदा की. बांग्लादेश की हार के जिम्मेदार उसके बल्लेबाज रहे जो पूरे टेस्ट मैच में एक भी अर्धशतक नहीं लगा सके. पहली पारी में भी बांग्लादेश की टीम 143 रनों पर सिमट गई थी.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi