S M L

रेड जोन में आई वांडरर्स पिच, खराब पिच के चलते मिली रेटिंग

यदि आने वाले पांच सालों में खराब पिच के चलते इसे दो और खराब पॉइन्ट मिलते हैं तो वांडरर्स पिच को आईसीसी द्वारा एक साल तक के लिए बैन भी किया जा सकता है.

FP Staff Updated On: Jan 30, 2018 01:04 PM IST

0
रेड जोन में आई  वांडरर्स पिच, खराब पिच के चलते मिली रेटिंग

इंटरनेशनल  क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) के मैच रेफरी  जिम्ब्बावे के पूर्व खिलाड़ी एंडी पायक्रॉफ्ट ने वांडरर्स पिच को रेटिंग देते हुए 'पूअर' करार दिया गया है. गौरतलब है कि वांडरर्स विकेट पर भारत और साउथ अफ्रीका के बीच तीसरा टेस्ट मैच खेला गया था. हालांकि भारत ने इस मैच को जीता, लेकिन ये विकेट काफी विवादों में रही. मैच के तीसरे दिन दोनों टीमों के कप्तान विराट कोहली और फाफ डू प्लेसी ने विकेट को लेकर अंपायर से बात भी की थी. इस पिच को लेकर सौरव गांगुली, सुनील गावस्कर से लेकर शॉन पॉलक तक सभी नाराज भी हुए थें.

इसका मतलब वांडरर्स स्टेडियम को तीन 'खराब पॉइन्ट' मिलेंगे, जो कि आईसीसी द्वारा पांच साल की रोलिंग अवधि के लिए सक्रिय रहेगा. हालांकि इसका मतलब ये नहीं कि नजदीकी भविष्य के लिए इस स्टेडियम को किसी भी इंटरनेशनल गेम्स के लिए बर्खास्त कर दिया गया है, लेकिन ये पिच  'रेड जोन' में आ गई है. यदि आने वाले पांच सालों में खराब पिच के चलते इसे दो और खराब पॉइन्ट मिलते हैं तो वांडरर्स पिच को आईसीसी द्वारा एक साल तक के लिए बैन भी किया जा सकता है. खराब पॉइन्ट का नोटिफिकेशन मिलने के दो सप्ताह के अंदर साउथ अफ्रीका क्रिकेट बोर्ड इस रेटिंग के खिलाफ अपील कर सकती है. यदि साउथ अफ्रीका क्रिकेट संघ इसके खिलाफ अपील नहीं करती है तो आईसीसी के जनरल मैनेजर और क्रिकेट कमेटी के चेयरमैन के द्वारा इसे सुना जाएगा और निर्धारित किया जाएगा.

हालांकि भारत ने इस मैच को 63 रन से जीता था, लेकिन ये पिच काफी विवादो में भी घिर गई थी. खराब पिच के चलते बल्लेबाज बेबस नजर आ रहे थे. यही नहीं मैच के दौरान जसप्रीत बुमराह की गेंद से डीन एल्गर चोटिल हो गए थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi